• Home
  • यूनिक डिसएबिलिटी आइडी कार्ड योजना तोड़ रही दम

यूनिक डिसएबिलिटी आइडी कार्ड योजना तोड़ रही दम

केंद्रसरकारकीतरफसेदिव्यांगोंकेलिएलागूकीगईयूनिकडिसएबिलिटीआईडीयोजनादमतोड़रहीहै।यहयोजनाचलानेकेलिएस्वास्थ्यविभागकेपासनस्टाफहैऔरनहीविभागकोजरूरीउपकरणहीदिएगएहैं।जिसकेचलतेदिव्यांगोंकोभारीपरेशानीझेलनीपड़रहीहै।सरकारकीओरसेइसयोजनाकोऑनलाइनकियागयाहै।बावजूदइसकेदिव्यांगइसकालाभनहींलेपारहेहैं।दिव्यांगोंकीकहनाहैकिवहऑनलाइनफार्मभरवानेकेलिएसीएचसीयापीएचसीसेंटरतकजानेमेंअसक्षमहै।ऐसेमेंसरकारकोऐसेदिव्यांगोंकेलिएउनकेघरोंपरजाकरसुविधादेनीचाहिए,लेकिनसीएचसीऔरपीएचसीमेंफार्मभरभीदेतेहैं,तोहमेंडाककेमाध्यमसेकार्डउपलब्धनहींहोरहेहैं।तभीसरकारकीयहयोजनासफलहोपाएगी।सरकारीविभागकेअनुसारजिलेमें7704दिव्यांगहैं।

2016मेंशुरूकीगईथीयोजना

कैथलविकलांगअधिकारसमितिकेप्रधाननरेशसजूमानेकहाकिदिव्यांगोंकेलिएस्वास्थ्यविभागकीओरसेजारीप्रमाणपत्रकेबजाययूनिकआईडीकार्डदिएजानेकीयोजना2016सेशुरूकीगईथी।दिव्यांगजनसशक्तीकरणविभागकीओरसेशुरूकीगईइसयोजनाकेतहतस्वास्थ्यविभागपरकार्डबनानेकीजिम्मेदारीथी,लेकिनअभीतकआईकार्डबनानेकेलिएप्रशासनस्तरसेकोईसुविधानहींदीगईहै।हालांकिस्वास्थ्यविभागअपनेस्तरसेदिव्यांगोंकेयूडीआईकार्डबनवानेकाप्रयासकररहाहैऔरचारसौकेकरीबकुछकार्डभीबनवाएगएहैं।

यूनिकआइडीसेमिलताहैलाभ

यूनिकआइडीकीयोजनामेंदिव्यांगोंकोआधारकार्डकीतरहएकअलगसेआईडीदीगईहै।यहएकतरहकाडिजिटलनंबरहै,जिसकीमददसेदिव्यांगकेंद्रऔरराज्यसरकारकीसभीसेवाओंकालाभउठापाएंगे।दिव्यांगइसयूनिकआइडीसेपूरेदेशमेंबस,ट्रेनकीयात्राकेसाथअन्यसुविधाओंकाभीलाभलेसकेंगे।दिव्यांगसत्यापनकेलिएभीयहएकलदस्तावेजहोगा।एकबारयूनिकआइडीमिलनेकेबाददिव्यांगकोपात्रताकेलिएकोईदूसराप्रमाणपत्रनहींदिखानाहोगा।

सिविलसर्जनडॉ.सुरेंद्रनैननेबतायाकिदिव्यांगयूडीआईकार्डबनानेकेलिएविभागकीतरफसेअस्पतालमेंकोईकर्मचारीवउपकरणनहींहै।पोर्टलपरजाकरऑनलाइनआवेदनकरसकतेहैं।आवेदनकरनेकेबादइनकीस्क्रीनिगकीजातीहै।उसकेबादसीएमओकार्यालयसेसभीकाफिजिकलवेरिफिकेशनहोताहैउसकेबादयहप्रमाणजारीविभागकेपासभेजदियाजाताहैवहींसेडाकखानोंकेमाध्यमसेकार्डबनकरपहुंचतेहै।