• Home
  • ये एक गलती उत्तराखंड के छह बाल विकास परियोजना अधिकारियों पर पड़ी भारी, रोका गया वेतन

ये एक गलती उत्तराखंड के छह बाल विकास परियोजना अधिकारियों पर पड़ी भारी, रोका गया वेतन

जागरणसंवाददाता,देहरादून।प्रधानमंत्रीमातृवंदनाजैसीअतिमहत्वाकांक्षीयोजनाकेप्रतिभीअधिकारियोंकाटालनेकारवैयादूरनहींहोरहा।बार-बारचेतानेकेबादभीजबअधिकारियोंनेयोजनाकीप्रगतिनहींबढ़ाईतोजिलाकार्यक्रमअधिकारीडा.अखिलेशमिश्रानेजिलेकेसभीछहबालविकासपरियोजनाअधिकारियोंकावेतनरोकदियाहै।जबतकयोजनाकीप्रगतिन्यूनतम75प्रतिशतनहींहोजाती,तबतकवेतनजारीनहींकियाजाएगा।

यदिकोईमहिलासरकारीयासरकारीउपक्रमोंकीकार्मिकनहींहैतोउसेप्रथमप्रसवपरपांचहजाररुपयेदिएजानेकाप्रविधानहै।इसकेसाथहीसंस्थागतप्रसवपरजननीसुरक्षाकेतहत1400रुपयेअतिरिक्तरूपसेदिएजातेहैं।देहरादूनजैसेबड़ेजिलेमेंइसयोजनाकेतहतमहज12,400महिलालाभार्थियोंकालक्ष्यतयकियागयाहैऔरसंबंधितअधिकारीवसुपरवाइजरइसलक्ष्यकोभीहासिलनहींकरपारहे।

इसयोजनाको20सूत्रीयकार्यक्रममेंभीशामिलकियागयाहै,लिहाजायोजनामेंलेटलतीफीपरजिलाधिकारीवमुख्यविकासअधिकारीकीभीजवाबदेहीतयहोजातीहै।इसकेबादभी20सूत्रीयकार्यक्रममेंयोजनासबसेनिम्नश्रेणी'डी' सेबाहरनहींनिकलपारही।योजनाकीप्रगतिबढ़ानेकोलेकरजिलाकार्यक्रमअधिकारीकईदफाबालविकासपरियोजनाअधिकारियोंकोचेताचुकेहैं।वित्तीयवर्षसमाप्तिकोकरीबतीनमाहहीशेषहैंऔरप्रगति60प्रतिशतसेभीकमहै।अभीतकमहज7400लाभार्थियोंकोहीयोजनाकालाभदियाजासकाहै।लाभार्थियोंकेजोफार्मभरवाएगएहैं,उसमेंभीत्रुटियांहैंऔरइन्हेंदूरकरनेसेसंबंधित353आवेदनशेषहैं।

दूसरीतरफअंतिमस्वीकृतिकेमोर्चेपरभी225लाभार्थियोंकेआवेदनलटकेपड़ेहैं।इसस्थितिकोदेखतेहुएजिलाकार्यक्रमअधिकारीडा.अखिलेशमिश्रानेसभीबालविकासअधिकारियोंकादिसंबरकावेतनजारीनकरनेकेआदेशदिएहैं।उन्होंनेयहभीआदेशदिएहैंकिदिसंबरकेअंततकप्रगति75प्रतिशतवइससेअधिकहासिलकरलीजाए।यदिऐसानहींहोपाताहैतोवेतनजारीनहींकियाजाएगाऔरअन्यतरहकीप्रशासनिककार्रवाईभीशुरूकरदीजाएगी।

मंडलायुक्तवजिलाधिकारीजताचुकेनाराजगी

जिलाकार्यक्रमअधिकारीनेबतायाकिमंडलायुक्तवजिलाधिकारीस्तरपरकीगईसमीक्षामेंयोजनाकोलेकरगहरीनाराजगीव्यक्तकीजाचुकीहै।राजधानीमेंयोजनाकीइसस्थितिपरपूरेजिलेकीछविधूमिलहोरहीहै,जिससेयहभीसंदेशजाताहैकिबालविकासविभागकेकार्मिककामकेप्रतिगंभीरनहींहैं।

यहभीपढ़ें- उत्तराखंडमें18शिक्षाधिकारियोंकेहुएतबादले,इन्हेंबनायागयाटिहरीकासीईओ;देखेंपूरीलिस्ट