• Home
  • शिअद का विरोध कर रहे किसान नहीं, बल्कि किसानों के रूप में राजनेताओं के भेजे वर्कर हैं : रोमाणा

शिअद का विरोध कर रहे किसान नहीं, बल्कि किसानों के रूप में राजनेताओं के भेजे वर्कर हैं : रोमाणा

संवादसहयोगी,फरीदकोट

शिरोमणीअकालीदलकीतरफसेफरीदकोटजिलेकीतीनोंविधानसभाओंकेलिए2022कीमतदानकेलिएउम्मीदवारोंकाऐलानकरदियागया,जिसमेंफरीदकोटविधानसभाहलकेलिएशिरोमणीअकालीदलकीसीटसेपरमबंससिंहबंटीरोमानाकानामघोषितगयाथा।वीरवारकोपरमबंससिंहबंटीरोमानाअपनेपारिवारिकसदस्योंऔरफरीदकोटकीसमूहलीडरशिपऔरवर्करोंकेसाथबाबाशेखफरीदजीकेस्थानटीलाबाबाशेखफरीदमेंनतमस्तकहुएजहांगुरुद्वारासमितिकीतरफसेउनकोसिरपादेकरसम्मानितकियागया।इससमयपरबंटीरोमाणाकीतरफसेचुनावमेंआकलीदलपार्टीकीचढ़तीकलाकेलिएअरदासविनतीकीगई।

पत्रकारोंकेसवालोंकाजवाबदेतेउन्होंनेकहाकिपहलेतोपार्टीहाईकमानकावहधन्यवादकरतेहैंकिपार्टीकीतरफसेउनकोयहबड़ीजिम्मेदारीसौंपीगईकेसाथहीउन्होंनेकहाकिइसबारपार्टीनहींबल्किजनतामुद्देतयकरेगीऔरजोकांग्रेसकेमुख्यमंत्रीकीतरफसेगुटकासाहबकीकसमखाकरपंजाबनिवासियोंकेसाथवायदेकियेथे,वहपूरेनहोनेपरजनताउनकोसवालकररहीहैऔरकरेभीक्योंनहींक्योंकिजनताअपनेआपकोठगामहसूसकररहीहै।

रोमाणानेकहाकिआमआदमीपार्टीकामुखौटाभीअबउतरचुकाहैऔरलोगभलीभांतिउनकीचालाकियोंकोसमक्षचुकेहैं।उन्होंनेकहाकिकृषिकानूनकोलेकरकिसानोंकीतरफसेकिएजाविरोधकोलेकरउन्होंनेकहाकियहकिसाननहींजोउनकाविरोधकररहेहैंबल्किकिसानोंकेरूपमेंराजनीतिज्ञोंकेभेजेवर्करहैं।बिजलीसमझौतोंपरउन्होंनेकहाकिशिरोमणीअकालीदलकीतरफसेलोगोंकोबहुतकमरेटऔरबिजलीमिलतीथी,परन्तुकांग्रेससरकारसमयमहंगीबिजलीकांग्रेसकीकूप्रबंधोंकीदेनहै।कांग्रेसपार्टीमेंफूटसम्बन्धितउन्होंनेकहाकिकांग्रेसमेंचाहेकोईभीप्रधानयाअधिकारियोंमेंबदलावहोउसकेसाथकोईफर्कनहींपड़तासानूतोजनतानेचुननाहै।