• Home
  • सेवा स्थायी व मानदेय को ले प्रज्ञा केंद्र संचालक करेंगे आंदोलन

सेवा स्थायी व मानदेय को ले प्रज्ञा केंद्र संचालक करेंगे आंदोलन

गुमला:प्रज्ञाकेंद्रसंचालकोंनेसेवास्थायीकरने,बकाएकाभुगतानकरनेऔरअधिकारियोंकेमानसिकप्रताड़नासेमुक्तिपानेकेलिएसंगठितहोकरआंदोलनकरनेकानिर्णयलियाहै।शनिवारकोरौनियारधर्मशालामेंप्रज्ञाकेंद्रसंचालकअमरनाथगुप्ताकीअध्यक्षतामेंहुईबैठकमेंयहनिर्णयलियागया।बैठकमेंबीसनवंबरकोजिलामुख्यालयमेंधरनाप्रदर्शनकरनेऔरजुलूसनिकालनेकाभीफैसलाकियागया।बैठकमेंसेवाकेस्थायीकरणकेसाथसुनिश्चितमानदेयनिर्धारितकरने,पिछलेबकाएकाभुगतानकरने,जीएसटीसेप्रज्ञाकेंद्रसंचालकोंकोमुक्तकरने,झारसेवाकेतहतस्थानीयआय,जाति,जन्म,मृत्युप्रमाणपत्रकाकार्यप्रज्ञाकेंद्रसंचालकोंकेहवालेकिएजाने,सुरक्षाकेसाथ-साथपंचायतभवनोंमेंसामग्रीउपलब्धकराने,जिलास्तरीयअधिकारियोंद्वाराअनैतिकदबावपररोकलगाने,प्रताड़ितकरनेवालेअधिकारियोंकेखिलाफकठोरकार्रवाईकरने,आयुष्मानभारतकेगोल्डनकार्डबनानेमेंतीसरुपयेकीवसूलीसेसंबंधितपत्रअधिकारियोंकोभेजेजाने,प्रज्ञाकेंद्रकेसंचालकोंकेखिलाफकिएगएशिकायतोंकीत्वरितवनिष्पक्षजांचकरानेकीमांगकीगई।बैठकमेंबालमोहनसाहु,ओमप्रकाशगुप्ता,राजूसाहु,सुनीलसोरेंग,अमरज्योतिकुमार,सुशीलकुमार,आनंदकुमार,रजनीशकुमारवैभव,राहुलसाहु,प्रमोदकुमार,सुरजकुमारगुप्ता,जगदीशइंदवार,राजेशकुमारसाहु,वंशीमल्लाह,मंगलदेवउरांव,सीतादेवी,सुषमाकुमारी,राजेशकुमार¨सहआदिउपस्थितथे।