• Home
  • सेवा केंद्रों के बंद होने से परेशान हो रहे लोग

सेवा केंद्रों के बंद होने से परेशान हो रहे लोग

संवादसहयोगीदुनेरा:ग्रामीणक्षेत्रोंमेंसरकारीकार्योकोलेकरलोगोंकीसुविधाकेलिएअकाली-भाजपागठबंधनसरकारकेबनाएगएकईसेवाकेंद्रोंकोकांग्रेसनेसत्तामेंआतेहीबंदकरदिया।इसकारणलोगोंकोसरकारीविभागोंसेसंबंधितकार्योंकेलिएअपनेगांवोंसे65से70किलोमीटरकासफरतयकरपरेशानहोनापड़रहाहै।गांवनारोबाडपंचायतदरकुआबगलांमेंभीक्षेत्रकीसारटी,माडवां,परतालवां,चिबबडकीग्रामपंचायतोंकेलिएसेवाकेंद्रसरकारनेखोलाथा।यहसेवाकेंद्रबीतेलंबेसमयसेबंदहैं

लोगहोरहेहैंपरेशान:महिदरसिंह

गांवपरतालवांकेमहिदरसिंहनेकहाकियहसेवाकेंद्रक्षेत्रकेलोगोंकोजन्म-मृत्युप्रमाणपत्र,आयप्रमाणपत्र,बिजलीपानीबिलवअन्यकार्योंकेलिएसहायकसाबितहोतेथे।परंतुइनकेबंदहोनेसेलोगोंकोइनसभीकार्यकेलिएधारकलांमें65से70किलोमीटरदूरजाकरकरवानेपड़रहेंहैं।

यदिबंदहीकरनेथेतोबनाएहीक्यों:रूमालसिंह

गांवमाडवांकेरुमालसिंहनेकहाकियदिइनसेवाकेंद्रोंकोबंदहीकरनाथातोइन्हेंबनायाहीक्योंगयाथा।सरकारआएदिनक्षेत्रमेंविकासकीबातकरतीहैपरंतुक्यालोगोंकीजरूरतोंकोदेखतेहुएइनसेवाकेंद्रोंकोखोलनाक्षेत्रकेविकासमेंनहींआता।

सेवाकेंद्रखोलनाजरूरी:मदनलाल

गांवसारटीकेमदनलालनेकहाकिलोगोंकीसुविधाकोदेखतेहुएइससेवाकेंद्रकोपहलकेआधारपरखोलनासमयकीजरूरतहै।इसकेखुलनेसेयहांलोगोंकासमयबचेगासहीलोगोंकेकार्यभीउनकेक्षेत्रमेंहोजाएंगे।उन्होंनेसरकारवजिलाप्रशासनसेअपीलकरतेहुएकहाकिसेवाकेंद्रखोलेजानेचाहिए।