• Home
  • राकांपा, बसपा, सपा और टीआरएस ने नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध किया, बीजद का समर्थन

राकांपा, बसपा, सपा और टीआरएस ने नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध किया, बीजद का समर्थन

नयीदिल्ली,नौदिसंबर(भाषा)नागरिकतासंशोधनविधेयकपरसोमवारकोलोकसभामेंराष्ट्रवादीकांग्रेसपार्टी,बहुजनसमाजपार्टी,समाजवादीपार्टीऔरतेलंगानाराष्ट्रसमितिनेविरोधदर्जकरातेहुएविधेयकपरपुनर्विचारकीऔरइसमें‘मुस्लिम’शब्दशामिलकरनेकीमांगकी,वहींबीजूजनतादलनेविधेयककासमर्थनकिया।राष्ट्रवादीकांग्रेसपार्टी(राकांपा)कीसुप्रियासुलेनेकहाकिवहसरकारकीमंशापरसवालनहींउठारहीं,लेकिनधारणाओंकोलेकरप्रश्नचिह्नखड़ाहोताहै।उन्होंनेकहाकिमुस्लिमोंमेंअसुरक्षाकामाहौलबनरहाहै।क्याएनआरसीविफलहोगयाहै,इसलिएसरकारविधेयकलाईहै?सरकारकोदेशकेदूसरेसबसेबड़ेसमुदायकीचिंताओंपरध्यानदेनाचाहिए।सुलेनेकहाकिगृहमंत्रीनेसंयुक्तसंसदीयसमिति(जेपीसी)मेंविधेयकपरसहमतिकीबातकहीजोतथ्यात्मकरूपसेगलतहैक्योंकिजेपीसीमेंइसपरकईसदस्योंनेअसहमतिजताईथी।उन्होंनेसवालकियाकिविधेयकलानेकीतत्कालजरूरतक्याआनपड़ी।यदिपूर्वोत्तरकोअभीशामिलनहींकियाजासकतातोसरकारइसेइतनीजल्दबाजीमेंक्योंलाई।राकांपासदस्यनेविधेयकवापसलेकरसरकारसेइसपरपुनर्विचारकीमांगकीऔरकहाकियहविधेयकसंसदसेपारितहोगयातोउच्चतमन्यायालयमेंनहींटिकेगा।बीजूजनतादल(बीजद)कीशर्मिष्ठासेठीनेविधेयककासमर्थनकरतेहुएकहाकिइसविधेयककोएनआरसीसेनहींजोड़ाजाए,सरकारकोइसपरध्यानदेनाचाहिए।उन्होंनेइसमेंश्रीलंकाकोभीशामिलकरनेकीमांगकी।बीजदसदस्यनेसुझावदियाकिइसमेंमुस्लिमसमुदायकेलोगोंकोभीशामिलकरनेपरविचारकियाजाए।बहुजनसमाजपार्टी(बसपा)केअफजालअंसारीनेकहाकियहसंशोधनविधेयकसंविधानकीमूलभावनाकेविपरीतहैइसलिएउनकीपार्टीइसकाविरोधकररहीहै।उन्होंनेकहाकिजिनतीनदेशोंकीबातहोरहीहै,उनमेंधार्मिकअल्पसंख्यकोंकेसाथअच्छाबर्तावनहींहोनेकीबातठीकहोसकतीहैलेकिनयहभीकटुसत्यहैकिभारतसेपाकिस्तानजानेवालेमुसलमानोंकेसाथभीवहांकेनागरिकोंकेसमानव्यवहारनहींकियाजाता।अंसारीनेकहाकिसरकारइनदेशोंमेंधार्मिकअल्पसंख्यकोंपरअत्याचारकेखिलाफउन्हेंपनाहदेनेकीदरियादिलीदिखारहीहैतोथोड़ाऔरबड़ादिलकरकेउसेमुस्लिमोंकोभीइसमेंशामिलकरनाचाहिए।तेलंगानाराष्ट्रसमिति(टीआरएस)केनामानागेश्वररावनेविधेयककाविरोधकरतेहुएकहाकिधार्मिकआधारपरनागरिकतादेनासंविधानकेमूलसिद्धांतकेखिलाफहै।उन्होंनेविधेयकमेंअन्यधर्मोंकेसाथ‘मुस्लिम’समुदायकोभीशामिलकरनेकीमांगकी।समाजवादीपार्टी(सपा)केएसटीहसननेकहाकियहविधेयकऐसालगताहैकिएनआरसीकीभूमिकानिभारहाहैजिससेमुसलमानोंमेंडरकामाहौलहै।उन्होंनेविधेयककाविरोधकरतेहुएइसपरपुनर्विचारकरनेकीऔरइसमेंमुसलमानोंकोभीसमाहितकरनेकीमांगकी।आईयूएमएलकेपीकेकुन्हालीकुट्टीऔरमाकपाकेएसवेंकटेशननेभीविधेयककाविरोधकिया।कुन्हालीकुट्टीनेकहाकिआजआजादभारतकेलिएकालादिनहैऔरपहलीबारऐसाभेदभाववालाविधेयकलायागयाहै।इससेसरकारकासांप्रदायिकएजेंडास्पष्टहोजाताहै।उन्होंनेभीकहाकियहविधेयकउच्चतमन्यायालयमेंकानूनीपड़तालमेंटिकनहींपाएगा।