• Home
  • राजीव गांधी हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा तीखा सवाल, 36 साल सजा भोगने वाला क्यों नहीं हो सकता रिहा

राजीव गांधी हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा तीखा सवाल, 36 साल सजा भोगने वाला क्यों नहीं हो सकता रिहा

नईदिल्ली,प्रेट्र।सुप्रीमकोर्टनेबुधवारकोकेंद्रसेपूछाकिवहराजीवगांधीहत्याकांडमें36सालकीसजाकाटचुकेएजीपेरारिवलनकोरिहाक्योंनहींकरसकता।अदालतनेयहदेखतेहुएकिसरकारनेएकविचित्ररुखअपनायाहै,यहबातकही।उल्लेखनीयहैतमिलनाडुकेराज्यपालनेदोषीकोरिहाकरनेकेराज्यमंत्रिमंडलकेनिर्णयकोराष्ट्रपतिकोअग्रसारितकिया,जबकिवेस्वंयदयायाचिकापरनिर्णयलेनेकेसक्षमप्राधिकारीहैं।शीर्षअदालतनेकहाकिजबजेलमेंकमअवधिकीसजाकाटनेवालेलोगोंकोरिहाकियाजारहाहै,तोकेंद्रपेरारिवलनकोरिहाकरनेपरसहमतक्योंनहींहोसकता।तमिलनाडुसरकारनेकहाकिकेंद्रकेवलकानूनमेंस्थापितस्थितिकोअस्थिरकरनेकीकोशिशकररहाहै।

शीर्षअदालतनेकहाकिप्रथमदृष्टयाउसेलगताहैकिराज्यपालकाफैसलागलतऔरसंविधानकेखिलाफहैक्योंकिवहराज्यमंत्रिमंडलकेपरामर्शसेबंधेहैंऔरयह(उनकाफैसला)संविधानकेसंघीयढांचेपरप्रहारकरताहै।जस्टिसएलएनरावऔरजस्टिसबीआरगवईकीपीठनेकेंद्रकीओरसेपेशअतिरिक्तसालिसिटरजनरलकेएमनटराजसेकहाकिवेएकसप्ताहमेंउचितनिर्देशप्राप्तकरेंअन्यथावहपेरारिवलनकीदलीलकोस्वीकारकरइसअदालतकेपहलेकेफैसलेकेअनुरूपउसेरिहाकरदेगी।

पीठनेकहाकिहमआपकोबचनेकारास्तादेरहेहैं।यहएकविचित्रतर्कहैकिराज्यपालकेपाससंविधानकेअनुच्छेद161केतहतदयायाचिकापरनिर्णयलेनेकाअधिकारनहींहै।वास्तवमेंयहसंविधानकेसंघीयढांचेपरप्रहारकरताहै।राज्यपालकिसस्त्रोतयाप्रविधानकेतहतराज्यमंत्रिमंडलकेफैसलेकोराष्ट्रपतिकेपासभेजसकतेहैं।

जस्टिसरावनेकहाकिअगरराज्यपालराज्यमंत्रिमंडलकेउसे(दोषीको)रिहाकरनेकेफैसलेसेअसहमतहैं,तोवहइसेवापसमंत्रिमंडलमेंभेजसकतेहैंलेकिनराष्ट्रपतिकोनहींभेजसकते।पीठनेकहाकिहमाराप्रथमदृष्टयाविचारहैकिराज्यपालकीकार्रवाईगलतहैऔरआपसंविधानकेविपरीततर्कदेरहेहैं।राज्यपालराज्यमंत्रिमंडलकीसहायताऔरसलाहसेबंधेहैं।

जस्टिसगवईनेकहाकिअगरकेंद्रकीबातमाननीहैतोयहसंविधानकेसंघीयढांचेपरहमलाहोगा।संविधानकोफिरसेलिखनाहोगाकिकुछस्थितियोंमेंअनुच्छेद161केतहतमामलोंकोराष्ट्रपतिकोसंदर्भितकियाजासकताहै।शीर्षअदालतनेराज्यसरकारऔरनटराजकोनिर्देशदियाकिवहसुनवाईकीअगलीतारीखपरसभीमूलदस्तावेजऔरआदेशपेशकरेंक्योंकिवहदलीलेंसुनेगीऔरफैसलासुनाएगी।