• Home
  • परंपरागत खेती में वैज्ञानिक तरीकों का करें मिश्रण : बीडी सिंह

परंपरागत खेती में वैज्ञानिक तरीकों का करें मिश्रण : बीडी सिंह

जागरणटीम,चम्पावत/लोहाघाट:कृषिविज्ञानएवंअनुसंधानकेंद्रसुई(लोहाघाट)मेंआयोजितकृषकगोष्ठीवसंवादकार्यक्रममेंपंतनगरसेआएकृषिविज्ञानियोंनेखेतीकेआधुनिकतौरीतरीकोंकीजानकारीदी।कहाकिपरंपरागतखेतीमेंवैज्ञानिकखेतीकामिश्रणकरकममेहनतपरअधिकउत्पादनकियाजासकताहै।इससेपूर्वविधायकपूरनसिंहफत्र्यालनेबतौरमुख्यअतिथिगोष्ठीकाशुभारंभकिया।

उन्होंनेकिसानोंकेलिएकेंद्रऔरराज्यसरकारद्वारासंचालितयोजनाओंकीजानकारीदेतेहुएकहाकिसरकारकिसानोंकीआयबढ़ानेकेलिएकार्यकररहीहै।उन्होंनेविज्ञानियोंद्वाराबताएगएतरीकोंसेखेतीकरनेकीअपीलकी।पंतनगरसेपहुंचेसस्यविज्ञानविभागकेप्राध्यापकडा.बीडीसिंहनेसमंवितखेतीकरनेकेतौरतरीकेबताए।कहाकिपहाड़मेंअभीभीपरंपरागततरीकेसेखेतीकीजारहीहै।परंपरामेंवैज्ञानिकतरीकोंकामिश्रणकियाजाएतोकिसानोंकोकममेहनतपरअधिकलाभमिलसकताहै।उन्होंनेकहाकिबेमौसमीसब्जीउत्पादनऔरमशरूमकीखेतीसेकिसानअच्छारोजगारप्राप्तकरसकतेहैं।पंतनगरसेहीआएडा.आरकेशर्मानेकममेहनतपरअधिकउत्पादनकेतरीकेबताए।विशिष्टअतिथिआइटीबीपी36वींवाहिनीकेद्वितीयकमानअधिकारीमंजीतसिंहधामीनेपंजाबमेंकीजारहीखेतीकेतरीकोंसेअवगतकराया।कहाकिपर्वतीयक्षेत्रोंमेंसिंचाईकीकमीसबसेबड़ीसमस्याहै।उन्होंनेसब्जीउत्पादनमेंटपकसिंचाईविधिकाउपयोगकरनेकीअपीलकी।केंद्रकेप्रभारीवैज्ञानिकडा.एमपीसिंहनेअतिथियोंकास्वागतकरतेहुएकेंद्रद्वारासंचालितगतिविधियोंकीजानकारीदी।एडीओउद्यानभूपेंद्रप्रकाशजोशीनेसब्जीउत्पादनकेतरीकेबताए।इसमौकेपरपूर्वजिपंसदस्यसुषमाफत्र्याल,जिलाआयुर्वेदिकएवंयूनानीअधिकारीडा.यूसीपाठक,आइटीबीपीकेउपसेनानीगिरेंद्रसिंहमौजूदरहे।कार्यक्रममेंविभिन्नविभागोंनेअपनेस्टॉलोंकेजरिएकाश्तकारोंकोयोजनाओंकीजानकारीदी।कार्यक्रममेंजिलेकेविभिन्नस्थानोंसेकाश्तकारपहुंचेहुएथे।=======आइटीबीपीनेलगायानिश्शुल्कचिकित्साशिविर

कृषिविज्ञानकेंद्रमेंआयोजितकृषकसंवादकार्यक्रममेंआइटीबीपीकीओरसेनिश्शुल्कचिकित्साशिविरलगायागया।इसदौरानसैकड़ोंलोगोंकाउपचारकरदवाएंदीगई।एसएमओडा.विनोदकुमारकेनेतृत्वमेंलगेशिविरमेंवाहिनीकेपैरामेडिकलस्टाफकेलोगोंनेसहयोगकिया।========इनविभागोंनेलगाएस्टाल

आयुषविभाग,जलागम,आंचलडेयरी,कृषिविज्ञानकेंद्र,राष्ट्रीयग्रामीणआजीविकामिशन,बालविकासविभाग,उद्यानविभाग,बायफ,नारीशक्तिग्रामसंगठन,कृषिविभागनेअपनेस्टाललगाए।स्वयंसहायतासमूहोंद्वारातैयारलोकलउत्पादलोगोंकेआकर्षणकाकेंद्ररहे।