• Home
  • परंपरा व धर्म संस्कृति की रक्षा करना केंद्र का मकसद : मिश्रा

परंपरा व धर्म संस्कृति की रक्षा करना केंद्र का मकसद : मिश्रा

संवादसहयोगी,मेदिनीनगर(पलामू):धर्मसंस्कृति,अपनीपरंपरावरीति-रिवाजकीरक्षाकरनावनवासीकल्याणकेंद्रकामकसदहै।पलामूमेंभीसंगठनकेलोगविभिन्नमाध्यमोंसेवनवासीसमाजकेलोगोंकोजागृतकरनेकीमुहिमचलरहीहै।इसमेंएकलअभियान,स्वयंसहायतासमूह,युवाओंकेबीचखेलकूद,भजन,सत्संगआदिमाध्यमशामिलहै।उक्तबातेंवनवासीकल्याणकेंद्रकेजिलासचिवअश्विनीमिश्रानेकही।वेशनिवारकोराजाभाऊस्मृतिभवनमेंवनवासीकल्याणकेंद्रकीआयोजितबैठककोसंबोधितकररहेथे।बैठकमेंजिलाऔरनगरीयसंगठनकीसभीपहलुओंपरविचार-विमर्शकियागया।बैठककीअध्यक्षताकेंद्रकेनगरप्रमुखब्रजमणिपाठकनेकी।वक्ताओंनेकहाकिवनवासीऔरनगरवासीकेबीचखाईहै।उसेपाटनेकेलिएनगरकमेटीकाविस्तारकियाजाएगा।जिलासंगठनमंत्रीसुरेशउरांवनेकहाकि15से20नवंबरतकभगवानबिरसामुंडाकीजयंतीकोगौरवदिवसकेरूपमेंमनायाजाएगा।विभिन्नप्रखंडोंमेंजयंतीसहगोष्ठीकाआयोजनहोगा।साथहीनगरीयधनसंग्रहपरभीचर्चाकी।संभागनगरप्रमुखब्रजमणिपाठकनेकहाकिकोरोनाकेकारणसंगठनकीगतिविधियोंकीगतिधीमीहोगईहैलेकिनअबधीरे-धीरेसंगठनकोधारदारबनाकरप्रखंडोंमेंकार्यशुरूकियाजानाचाहिए।रामानंदनयादवनेकहाकिस्वयंसहायतासमूहकेमाध्यमसेवनवासीसमाजकेलोगोंकोआर्थिकरूपसेस्वावलंबीबनानेकाकार्यकियाजारहाहै।मौकेपरबिगनउरांव,सुनीताकुमारी,सुरेंद्रगोस्वामी,तारादेवी,राजकुमारसिंहआदिउपस्थितथे।