• Home
  • परीक्षा केंद्र बनाने में सुचिता को लगा पलीता

परीक्षा केंद्र बनाने में सुचिता को लगा पलीता

अंबेडकरनगर:माध्यमिकशिक्षापरिषदकीबोर्डपरीक्षा2018कोनकलविहीनसंपन्नकराएजानेकीपारदर्शीव्यवस्थाकेमंसूबोंकोजिम्मेदारोंनेपलीतालगादियाहै।कॉलेजोंकीओरसेपरीक्षापरिषदकेपोर्टलपरऑनलाइनआवेदनकिएजानेकेबादभीजिलाविद्यालयनिरीक्षककार्यालयमेंसत्यापनसंस्तुतिकरनेमेंखिलवाड़करदियाहै।कतिपयविद्यालयोंमेंउपलब्धसंसाधनोंकीउपलब्धताकेबादभीइसेअधूरादिखादियागया।ऐसेहालातमेंकईविद्यालयपरीक्षाकेंद्रबननेसेवंचितरहगए।उधरपरीक्षाकेंद्रप्रस्तावितहोनेकेबादडीआइओएसनेअपनीगर्दनबचानेकेलिएलिपिकीयत्रुटिकाहवालादियाहै।

गौरतलबहैकिपरीक्षाकेंद्रबनाएजानेकोलेकरइसबारशासननेपारदर्शीव्यवस्थाकोलागूकरतेहुएसभीविद्यालयोंकोइसमेंप्रतिभागकाभरपूरमौकादिया।ऐसेमेंपरीक्षापरिषदनेपरीक्षाकेंद्रबनाएजानेकेलिएमानकतयकरखासपोर्टलपरविद्यालयोंकोसंसाधनोंसमेतदूरीसमेतसम्यकजानकारीभरनेकोकहाथा।इसीकेआधारपरजनपदकेअधिकांशविद्यालयोंनेऑनलाइनआवेदनभीकिया।यहांतकतोसबकुछठीकचलालेकिनपरीक्षापरिषदकीओरसेविद्यालयोंमेंउपलब्धसंसाधनोंकीपड़तालकरतेहुएजिलाविद्यालयनिरीक्षककार्यालयसेसत्यापनसंस्तुतिमांगली।इसकेबादपरीक्षाकेंद्रबनाएजानेमेंधांधलीऔरगड़बड़ीकाजमकरखिलवाड़हुआ।जिलाविद्यालयनिरीक्षककार्यालयपहुंचीकरीब200आपत्तियोंपरगौरकियाजाएतोइसमेंपरीक्षाकेंद्रबनाएगएविद्यालयोंकीशिकायतहैतोवहींपरीक्षाकेंद्रबनानेसेवंचितकिएगएकॉलेजोंकीदलीलहै।इसमेंएकबातखासतौरपरउभरसामनेआयीकिएकविद्यालयकीओरसेविद्यालयमेंसंसाधनोंकीउपलब्धताकमतरदिखाएजानेकेबादभीडीआइओएसकार्यालयनेइसेबढ़ाकरदिखादियाऔरयहविद्यालयपरीक्षाकेंद्रबनगया।वहींटांडातहसीलक्षेत्रकेनृपतिनरायन¨सहस्मारकइंटरकॉलेजकीओरसेसीसीटीवीकैमरालगेहोनेकीऑनलाइनसूचनापोर्टलपरदर्जकरनेकेबादभीडीआइओएसनेअपनीरिपोर्टमेंइसकीअनुपलब्धतादिखादी।लिहाजायहविद्यालयपरीक्षाकेंद्रबननेसेवंचितरहगया।हालांकिकॉलेजप्रशासनकीओरसेआपत्तिजताएजानेपरडीआइओएसनेबड़ीहीबारीकीसेअपनीगर्दनबचानेकाप्रयासकिया।ऑनलाइनहुईशिकायतकेनिस्तारणमेंडीआइओएसद्वाराउक्तआपत्तिपरमाध्यमिकशिक्षापरिषदकेसचिवकोलिखेगएपत्रपरनजरडालीजाएतोइसमेंलिखागयाहैकिलिपिकीयत्रुटिसेउक्तविद्यालयमेंसीसीटीवीकैमरानहींलगेहोनेकीरिपोर्टदीगईहै।जबकियहांपहलेसेहीसीसीटीवीकैमरालगाहै।लिहाजाउक्तकमीकेकारणउक्तविद्यालयकोअगरपरीक्षाकेंद्रनहींबतायागयाहैतोइसमेंसुधारकरतेहुएइसेपरीक्षाकेंद्रबनायाजाए।जिलाविद्यालयनिरीक्षकविनोदकुमार¨सहनेबतायाकिलिपिकीयगलतीकेकारणऐसाहुआ।फिलहालऐसेमामलोंमेंसुधारकरनेकेलिएपरीक्षापरिषदकोसंस्तुतिआख्याभेजीगईहै।