• Home
  • फसल सहायता से ही लौट सकती है गैर रैयत किसानों की खुशी

फसल सहायता से ही लौट सकती है गैर रैयत किसानों की खुशी

सहरसा।एकतरफकोरोनासंक्रमणऔरदूसरीतरफप्राकृतिकआपदानेकोसीकेकिसानोंकीकमरतोड़दीहै।रबीकीफसलकेबादखरीफभीबर्बादीकीचपेटमेंआरहाहै।कृषिविभागनेइसकेलिएजांच-पड़तालभीप्रारंभकरदियाहै।ऐसेमेंअगरफसलसहायतायोजनाकाठीकसेक्रियान्यननहींहोगा,तोकिसानोंकोमहाजनोंकेचंगुलसेनिकलनाकठिनहै।गतवर्षखरीफमेंहालांकिबहुतकिसानोंकातकनीकीकारणोंसेसमयपरनिबंधननहींहोपाया।बावजूदइसकेजिलेकेकिसानोंकेबीचआठकरोड़63लाखरूपयेकाभुगतानकियागया।जिससेकिसानोंकोरबीकीखेतीमेंकाफीसहुलियतहुई।बीतेमार्च-अप्रैलमेंअसमयबारिश,ओलावृष्टिवआंधीकेकारणगेहूंवमक्काकीफसलोंकीकाफीक्षतिहुई।तकनीकीगड़बड़ीकेकारणबहुतसेकिसानोंकाआवेदननहींहोसका।बावजूदइसके15110किसानोंनेक्षतिपूर्तिकेलिएआवेदनदिया।फसलक्षतिकीसबसेबड़ीमारगैररैयतकिसानोंपरपड़ी।आवेदनकरनेवालोंमेंभीअधिकसंख्यागैररैयतोंकीहै।एकअगस्तसेइनकिसानोंकोभुगतानकियागया।ऐसेमेंकिसानोंकीनजरअबखरीफपरहै।आवेदनकीप्रक्रियाशुरूहोगईहै।इसबारभीसबसेअधिकगैररैयतकिसानप्रभावितहुएहैं।अगरकिसानोंकोसहीतरीकेसेइसयोजनाकालाभनहींमिलेगा,तोबड़ीसंख्यामेंकिसानमहाजनोंकेचंगुलमेंफंसेरहजाएंगे।

गैररैयतकिसानोंकोमिलरहाहैयोजनाकालाभ

बाढ़-सुखाड़औरप्रतिकुलमौसममेंफसलोंकेह्रासकीस्थितिमेंराज्यसरकारनेबिहारराज्यफसलसहायतायोजनालागूकिया।यहयोजनाबाढ़प्रभावितकोसीकेकिसानोंकेलाभकारीभीसाबितहोरहाहै।लेकिनतकनीकीकारणोंसेआवेदनोंकीरफ्तारधीमीहोजातीहै।बावजूदइसकेबड़ीसंख्यामेंजिलेकेसातप्रखंडकेकिसानोंनेखरीफकीक्षतिमदमेंसहायताप्राप्तकिया।सहायताप्राप्तकरनेवालेकिसानोंमेंगैररैयतकिसानोंकीसंख्याभीकमनहींहै।इसवर्षभीगैररैयतकिसानोंकेआवेदनकीरफ्ताररैयतकीअपेक्षाअधिकहै।

20फीसदतकहानिपरकिसानपासकतेहैंलाभ

राज्यफसलसहायतायोजनाकेअन्तर्गतकिसानोंकोअधिकतमदोहेक्टयरकीक्षतिकालाभमिलसकेगा।कितुनिबंधननहींकरानेवालेकिसानइसयोजनाकेलिएअपात्रहोंगे।जिनकिसानोंकीयोजनाकेपोर्टलपरनिबंधनहोगा,वेसभीइसकालाभलेसकेंगे।वास्तविकउपजमें20फीसदतकहानिपरएककिसानकेखातेमेंप्रतिहेक्टेयर75सौकीदरसेअधिकतमदोहेक्टेयरका15हजारया20फीसदसेअधिकक्षतिकीस्थितिमेंप्रतिहेक्टेयरदसहजारकीदरसेअधिकतमदोहेक्टेयरदसकाबीसहजाररूपयेसरकारीसहायताप्राप्तकरसकतेहैं।पंजीकरणहोनेपरबटाईदारकोइसकाआधालाभमिलेगा।इसइलाकेकेअधिकाधिककिसानोंकोलाभांवितकरनेकेलिएपंजीकरणकीरफ्तारबढ़ानेकीजरूरतहै।

अबतक40हजारकिसानोंनेकियाआवेदन

खरीफ2020केप्रारंभमेंभीबाढ़औरअतिवृष्टिकेकारणफसलोंकीबड़ीक्षतिहुईहै।इसलिएआवेदनोंकीरफ्तारभीतेजहोगईहै।जिलेमेंअबतक40891किसानोंनेआवेदनकिया,जिसमें30751गैररैयतऔर8919रैयतकिसानशामिलहैं।38243किसानोंनेधानकेलिएऔर7617किसानोंनेमक्काकेलिएआवेदनकियाहै।

फसलसहायतायोजनासेइसइलाकेकेकिसानकाफीलाभांवितहोरहेहैं।गतवर्षखरीफमेंजिलेकेजिनसातप्रखंडकेकिसानोंकेफसलकीक्षतिहुई,उन्हेंइसकाअपेक्षितलाभमिला।रबीकेलिएआवेदनकर्ताओंकेबीचभुगतानकीप्रक्रियाचलरहीहै।खरीफकेलिएकिसानआवेदनकररहेहै।जांचोपरांतसहायतायोजनाकालाभदियाजाएगा।