• Home
  • फिर खिंची चाचा-भतीजे में तलवार! शिवपाल लेंगे बड़ा फैसला? मनाने की जिम्मेदारी मिली इनको

फिर खिंची चाचा-भतीजे में तलवार! शिवपाल लेंगे बड़ा फैसला? मनाने की जिम्मेदारी मिली इनको

(ममतात्रिपाठी)

नईदिल्ली.2022केउत्तरप्रदेशचुनाव(UPAssemblyElection2022)मेंसपागठबंधन(SamajwadiParty)ने125सीटेंजीतीं,जिसमें111सीटेंसमाजवादीपार्टीकीहैंऔरवोमुख्यविपक्षीपार्टीहै.चुनावकेबादसपाने26मार्चकोलखनऊमेंपार्टीकेविधायकोंकीएकबैठकबुलाईथी,जिसमेंचाचाशिवपालयादव(ShivpalYadav)कोनहींबुलायागया,जिसकेबादसेचाचा-भतीजेकीलड़ाईफिरसेसतहपरआगई.पूरेचुनावमेंजिसतरहसेअखिलेशयादव(AkhileshYadav)नेचाचाशिवपालकोसिर्फजसवंतनगरतकहीरखा,उससेशिवपालयादवपहलेसेहीखुशनहींथे.चुनावकेदौरानहीशिवपालकईबारसंगठनकोठीकतरहसेकामकरनेकीनसीहतदेतेरहतेथे,मगरउनकीबातकोसमाजवादीपार्टीनेअनसुनाकरदिया.

आपकोबतादेंकिइसरिश्तेमेंनाराजगीकीशुरूआत2016मेंहीहुईथीजबचाचाभतीजेनेलखनऊमेंस्टेजसजाकरझगड़ाकियाऔरसारीदुनियानेदेखाकियूपीकेसबसेबड़ेराजनीतिकपरिवारमेंकिसतरहसेराजनीतिकवर्चस्वकीजंगकीशुरूआतहुई.शिवपालयादवनेपार्टीसेनिकालेजानेकेबादसेअपनीपार्टीप्रगतिशीलसमाजवादीपार्टीकागठनकियाऔर2022केविधानसभाचुनावकेपहलेसमाजवादीपार्टीसेगठबंधनकिया.गठबंधनमजबूरीभीथीक्योंकिप्रसपाकाचुनावचिन्हचाभीउसकेहाथसेनिकलगईथीऔरउन्हेनयाचुनावनिशानस्टूलमिलाथा.अखिलेशनेशिवपालयादवकोगठबंधनमेंसिर्फएकसीटदीजबकिशिवपालयादवने18सीटेंमांगीथी.

नतीजायेहुआकिप्रसपाकेसारेपदाधिकारियोंनेइस्तीफादेदिया.शिवपालकेखासरहेशारदाप्रतापशुक्लानेभाजपाकादामनथामलियातोवहींशादाबफात्माबसपामेंचलीगईंऔरओमप्रकाशराजभरकेखिलाफबसपासेचुनावभीलड़ा.अखिलेशनेतीसरेचरणकेमतदानकेबादचाचाशिवपालयादवकोसमाजवादीपार्टीकास्टारप्रचारकभीबनायामगरउन्हेंकहींचुनावीदौरोंकेलिएनहींभेजा.सपाकासाराचुनावीअभियानअखिलेशकेइर्दगिर्दहीरहा.

आखिरक्योंनाराजहैंचाचाशिवपालयादव

29मार्चकोअखिलेशयादवनेगठबंधनकेनेताओंकीगांठमजबूतकरनेकेउद्देश्यसेबैठकबुलाईथीजिसमेंयेसमीक्षाहोनीथीकिहारकिक्यावजहेंरहीं,लेकिनइसबैठकसेसहयोगीदलोंकीनाराजगीभीसार्वजनिकहोगई.चाचाशिवपालनेइसबैठकसेदूरीबनाएरखीतोदूसरीतरफमहानदलकेकेशवदेवमौर्याभीइसबैठकमेंशामिलनहींहुएक्योंकिउनकोबैठककाबुलावाहीनहींदियागयाथा.संजयचौहानभीगठबंधनकेएकघटकदलकेनेताथे,जोइसबैठकमेंशामिलनहींहुए.

शिवपालयादवको26मार्चकीबैठकमेंनहींबुलाएजानेसेवोकाफीनाराजहुएथे.उनसेबातकरनेपरवोबोलतेहैंकिमैंसाइकिलसिंबलपरचुनावजीताहूंतोसपाकाहीविधायकहुआ.दूसरीबातसपानेचुनावमेंमुझेस्टारप्रचारकबनायाथा.मुझेविधायकोंकीबैठकमेंबुलायाजानाचाहिएथा.अबचुनावकेबादइसतरहकीबातेंहोरहींहैं.मैंनेनेताजीमुलायमसिंहयादवकेकहनेपरअपनीपार्टीकागठबंधनकियाथा.मैंनेताजीसेबातकरकेकोईभीफैसलालूंगा.थोड़ाइंतजारकीजिएकोईबड़ाफैसलालूंगा.

कौनसुलझाजारहाहैचाचा-भतीजेकाझगड़ा

आपकोबतादेंकिशिवपालयादवगठबंधनकीबैठकमेंशामिलनहींहुएबल्किवोइटावाकेभरथनामेंभागवतकथामेंडूबेरहे.शिवपालकेकरीबीलोगोंकामाननाहैकिशिवपालयादवअपनेबेटेआदित्ययादवकेलिएभीविधानसभाकाटिकटचाहतेथे,मगरअखिलेशनेउनकीपार्टीकेकिसीभीनेताकोटिकटनहींदिया.चुनावकेबादशिवपालकोलगताथाकिअखिलेशउन्हेंनेताप्रतिपक्षकापददेदेंगे.मगरवोभीनहींहुआ.

अखिलेशकेव्यवहारसेनाराजशिवपालयादवदिल्लीजाकरमुलायमसिंहयादवसेमिलकरसारीबातेंबताचुकेहैंऔरउनकेतेवरबतारहेहैंकिवोकोईबड़ानिर्णयलेसकतेहैं.दिलचस्पबातयेभीहैकिचाचाभतीजेकीलड़ाईमेंओमप्रकाशराजभरबिचौलिएकीभूमिकानिभारहेहैंऔरकोशिशकररहेहैंकियेझगड़ासुलझालियाजाए.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:Akhileshyadav