• Home
  • 'पायका' से भी कुछ नहीं पा सके युवा

'पायका' से भी कुछ नहीं पा सके युवा

मैनपुरी,जागरणसंवाददाता:देहातकेयुवाओंकोशारीरिकरूपसेमजबूतबनानेऔरखेलकूदकोबढ़ावादेनेकोशुरूकीगईपंचायतयुवाक्रीड़ाएवंखेलयोजना(पायका)अपंगहोचुकीहै।करीबआठसालपहलेशुरूहुईइसयोजनामेंहरगांवपंचायतमेंखेलकेमैदानबने।एकलाखरुपयेकीमतकाखेलकूदकासामानदियागया।यहसामानकबाड़होचुकाहै।मैदानउजाड़पड़ेहैं।

केंद्रसरकारनेसाल2008-09मेंपंचायतयुवाक्रीड़ाएवंखेलयोजना(पायका)शुरूकीथी।यहयोजनाजिलेकेसभी118गांवपंचायतमेंलागूकीगई।शासननेएक-एकलाखरुपयेकीकीमतकासामानप्रधानोंकोसौंपा।इसमेंबैडमिंटन,वॉलीबाल,फुटबाल,भालाफेंकऔरगोलाफेंकआदिसेसंबंधितसामग्रीथी।योजनासेउम्मीदथीकिइससेदेहातकीखेलप्रतिभाओंमेंनिखारआएगाऔरराष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीयस्तरपरवहअपनीप्रतिभादिखाएंगे।प्रधानोंनेमैदानभीतैयारकरादिए।खेलगतिविधियांकरानेकेलिए118क्रीड़ाश्रीकीतैनातीकीगई।कुछदिनकीसक्रियताकेबादजबमानदेयनहींमिलातोयेनिष्क्रियहोगए।शुरुआतीसालकेबादखेलगतिविधियांभीठपहोगईं।अबयहयोजनाभीबंदहोगईहै।खेलकासामानप्रधानोंकेयहांपड़ाकबाड़मेंतब्दीलहोरहाहै।मैदानोंमेंलगेपोलजंगखाकरनष्टहोरहेहैं।कहींझाड़ीउगचुकीहैंतोकहींपशुबांधेजारहेहैं।

ग्रामप्रधानऔरस्थानीयअधिकारीरहेउदासीन:

गांवकेयुवाओंकीमानेतोउन्हेंयहपताहीनहींहैकिसरकारनेकभीउनकेखेलनेकोसामानभीदियाथा।योजनालागूहोनेकेसमयप्रधानोंकोआदेशदिएगएथेकिवहगांवमेंमुनादीकराकरयुवाओंकोजागृतकरें।प्रधानऔरगांवसचिवकेसाथस्थानीयअधिकारियोंनेभीकभीयोजनाकोगंभीरतानहींलिया।

'योजनाकाफीसमयपहलेहीबंदहोगई।प्रधानोंकेयहांसामानरखाहै,जबकिब्लॉकप्रमुखोंनेइसेब्लॉकमेंजमाकरायाथा।अबसरकारकागांव-गांवखेलमैदानबनानेपरध्यानहै।'

-सुल्तानसिंह,प्रभारीजिलायुवाकल्याणअधिकारी