• Home
  • ऑक्सीजन, दवाओं की कमी के चलते आईटीबीपी कोविड केयर सेंटर पूरी तरह चालू नहीं हो पाया

ऑक्सीजन, दवाओं की कमी के चलते आईटीबीपी कोविड केयर सेंटर पूरी तरह चालू नहीं हो पाया

(नीलाभश्रीवास्तव)नयीदिल्ली,चारमई(भाषा)राष्ट्रीयराजधानीमेंकोरोनावायरससेसंक्रमणकेबढ़तेमामलोंसेनिपटनेकेलिएएकसप्ताहपहलेखुलाआईटीबीपीसंचालितकोविड-19देखभालकेंद्रऑक्सीजनकेजरूरीकोटेऔरदवाइयोंकीकमीकेचलतेनिर्धारित500मेंसेकेवल300बिस्तरोंकेसाथहीचालूहोपायाहै।अधिकारियोंनेमंगलवारकोयहजानकारीदी।कोरोनावायरसकीदूसरीलहरनेदेशकेस्वास्थ्यतंत्रपरबड़ादबावपैदाकरदियाहैएवंकईराज्यबिस्तरों,ऑक्सीजन,दवाइयोंएवंचिकित्साउपकरणोंकीकमीसेजूझरहेहैं।पीटीआई-भाषाकेपासउपलब्धआधिकारिकआंकड़ेकेअनुसाररविवारकोसरदारपटेलकोविडकेयरसेंटर(एसपीसीसीसी)में(500मेंसे)बस350ऑक्सीजनबिस्तरहीइस्तेमालकेलिएहैं।आंकड़ोंसेयहभीसामनेआयाकिदक्षिणदिल्लीकेछतरपुरमेंइसस्थितइसकेंद्रमेंबस2.99मीट्रिकटनहीतरलचिकित्सकीयऑक्सीजनकीआपूर्तिहोरहीहैजबकिस्वीकृतकोटा6.55मीट्रिकटनकाहै।दिल्लीसरकारकेअनुरोधपरराधास्वामीब्यासकेपरिसरमेंएसपीसीसीसी26अप्रैलकोचालूकियागयाथा।उसेकोविड-19मरीजोंकीजरूरतोंकोपूराकरनेकेलिएशुरूकियागयाथाऔरइसकाप्रबंधनभारत-तिब्बतसीमापुलिस(आईटीबीपी)कीचिकित्साशाखाकेहाथोंमेंहै।केंद्रकेसंचालनसेजुड़ेअधिकारियोंनेकहाकिआईटीबीपीचिकित्सकोंएवंअर्धचिकित्साकर्मियोंकेहाथबंधेहैंक्योंकिजरूरीऑक्सीजनउपलब्धनहींहै।उन्होंनेकहाकिइसकेअलावादवाइयोंकीकमीजैसेअन्यमुद्देभीहैं।इसकेंद्रकासंपूर्णकामकाजभीनिराशाजनकहैक्योंकिमंगलवारकेआधेदिनतकउपलब्धआंकड़ेकेलिएबस309बिस्तरोंपरहीमरीजहैं।आंकड़ोंकेहिसाबसेपिछलेसप्ताहशुरूहोनेकेबादइसकेंद्रमेंकोविड-19के720मरीजोंकोभर्तीकियागयाथा,जिनमेंसे301कोचिकित्सकीयपरामर्शपरछुट्टी,अनुरोधपरछुट्टीऔरउपचारकेबादछुट्टीजैसेआधारपरछुट्टीदेदीगयी।यहांआईसीयूएवंवेंटिलेटरकीसुविधानहींहै।