• Home
  • निष्क्रिय केंद्र प्रभारियों की बन रही सूची

निष्क्रिय केंद्र प्रभारियों की बन रही सूची

-46क्रयकेंद्रोंपरकीजारहीधानखरीद

-अजीतमलतहसीलमेंलेखपालरजिस्ट्रेशनोंकाकररहेसत्यापन

जागरणसंवाददाता,औरैया:जनपदमेंधानखरीदशुरूहुए20दिनबीतगएहैं,लेकिनअभीतकनाममात्रखरीदहुईहै।46मेंसेअभीतकसिर्फ10केंद्रहीसक्रियहोसकेहैं।कईबारहिदायतदिएजानेकेबादभीवहलापरवाहीकरनेमेंनहींचूकरहेहैं।ऐसेमेंडीएमनेडिप्टीएआरएमओकोलापरवाहकेंद्रप्रभारियोंकीसूचीबनाकरउन्हेंउपलब्धकराएजानेकेनिर्देशदिएहैं।साथहीएकसप्ताहकेअंदरअगरसभीकेंद्रसक्रियनहींहोतेहैं,तोकेंद्रप्रभारियोंकेखिलाफकार्रवाईअमलमेंलाईजाएगी।वहीं,प्राइवेटआढ़तोंपरअगरधानबेंचतापायामिलताहै,तोआढ़तियोंकेखिलाफकार्रवाईकिएजानेकीतैयारीकीजारहीहै।

शासनकीओरसेइसबार50हजारमीट्रिकटनधानखरीदकालक्ष्यनिर्धारितकियागयाहै।शुरुआतमें21क्रयकेंद्रसंचालितकिएगएथे।बादमेंकिसानोंकीबढ़तीसंख्याकोदेखतेहुएउनकीसंख्याबढ़ाकर46करदीगई।अभीतकमात्रदसक्रयकेंद्रहीसक्रियहोसकेहैं,शेषमेंअभीतकएकधानाभीधाननहींखरीदाजासकाहै।जबकिजिलाप्रशासनकीओरसेसभीकेंद्रप्रभारियोंकोलक्ष्यनिर्धारितकिएजाचुकेहैं,साथहीजल्दसेजल्दखरीदशुरूकिएजानेकेनिर्देशदिएगएहैं।बावजूदइसकेकईकेंद्रप्रभारीलापरवाहीबरतरहेहैंऔरकिसानोंसेसंपर्कनहींकररहेहैं।डीएमअभिषेकसिंहनेऐसेलापरवाहकेंद्रप्रभारियोंकीसूचीडिप्टीएआरएमओसुधांशुशेखरचौबेसेमांगीहै।उन्होंनेसूचीबनानाशुरूकरदियाऔरदो-तीनदिनमेंवहसूचीडीएमकेसमक्षप्रस्तुतकरदीजाएगी।डिप्टीएआरएमओनेबतायाकिकईकेंद्रोंप्रभारियोंकोअल्टीमेटमदियाजाचुकाहै।अगरउनमेंसुधारनहींहोताहैउनकीसूचीडीएमकेसमक्षप्रस्तुतकीजाएगी।

तीनकेंद्रप्रभारियोंपरहोचुकीहैकार्रवाई

धानखरीदकीव्यवस्थाओंकोपरखनेकेलिएअधिकारियोंकीओरसेक्रयकेंद्रोंकानिरीक्षणकियागयाथा।तीनकेंद्रोंपरकईखामियांमिलीथी,खामियांमिलनेपरअधिकारियोंनेडीएमकोजांचरिपोर्टसौंपीथी।अभीतकतीनकेंद्रप्रभारियोंपरकार्रवाईकीजाचुकी