• Home
  • नगर विकास विभाग में अटकी बस स्टैंड के कायाकल्प की योजना

नगर विकास विभाग में अटकी बस स्टैंड के कायाकल्प की योजना

गोपालगंज:शहरकेराजेंद्रबसस्टैंडकाकायाकल्पकरनेकीनगरपरिषदकीयोजनाअबपटरीसेउतरगईहै।नगरपरिषदनेराजेंद्रबसस्टैंडकोमाडलबसस्टैंडबनानेकेलिए4.50करोड़कीयोजनाबनाकरकरस्वीकृतिकेलिएनगरविकासविभागकोभेजाथा।लंबीअवधिबीतनेकेबादभीअबतकनगरविकासविभागनेइसयोजनाकोअपनीस्वीकृतिनहींदीहै।

शहरकाराजेंद्रबसस्टैंडजिलेकाएकमात्रमुख्यबसपड़ावहै।इसस्टैंडसेसूबेकीराजधानीपटना,मुजफ्फरपुरसेलेकरसिलीगुड़ीतथारांचीकेलिएबसेंचलतीहैं।हरसालइसस्टैंडकीबंदोबस्तीसेनगरपरिषदकोलाखोंरुपयेकीआयहोतीहै।इसकेबादभीइसस्टैंडमेयात्रीसुविधाकेनामपरकुछभीनहींहै।जिसेदेखतेहुएदोसालपहलेनगरपरिषदनेइसबसस्टैंडकाकायाकल्पकरनेकीपहलशुरूकी।इसपहलकेतहतबसस्टैंडपरिसरमेंवातानुकूलितभवनबनाएजानेकीनगरपरिषदनेयोजनाबनाई।इसभवनमेंयात्रियोंकेबैठनेकीबढि़याव्यवस्थासेलेकरटीवीभीलगायाजानाहै।डिस्प्लेपरबसकेबारेमेंसूचनादेनेसेलेकरबसस्टैंडपरिसरमेंमॉलभीबनाएजानेकाप्रस्तावथा।यहांरेस्टोरेंटसेलेकरयात्रियोंकीजरूरतकेसभीसामानमिलसके।इंटरनेटकाइस्तेमालकरनेकेलिएयहांवाई-फाईकीसुविधाभीउपलब्धकरानेकीयोजनातैयारकीगई।साढ़ेचारकरोड़कीयोजनातैयारकरनगरपरिषदनेस्वीकृतिकेलिएनगरविकासविभागकोभेजदी।यहयोजनानगरविकासविभागकीफाइलोंमेंहीदबकररहगई।हालांकि,इसीबीचकरीबएकसालपूर्वनगरविकासविभागनेनगरपरिषदकोराजेंद्रबसस्टैंडकाकायाकल्पकरनेकेलिएफिरसेप्रस्तावभेजनेकानिर्देशदिया।इसनिर्देशकेबादनगरपरिषदनेनयाप्रस्तावविभागकोभेजदिया।लंबीअवधिबीतनेकेबादभीअबतकनगरविकासविभागनेइसयोजनाकोअपनीस्वीकृतिनहींदीहै।राजेंद्रबसस्टैंडकाकायाकल्पकरनेकीयहयोजनानगरविकासविभागकेफाइलोंमेंफंसकररहगईहै।

बसस्टैंडमेंसुविधाकेनामपरकुछभीनहीं

राजेंद्रबसपड़ावमेंनतोयात्रियोंकेलिएबैठनेकीव्यवस्थाहैऔरनाहीबसोंकोखड़ीकरनेकीठीकव्यवस्थाहै।पूरेस्टैंडपरिसरमेंकचरावकीचड़पसराहमेशारहताहै।बारिशहोनेपरपरिसरजलजमावकीचपेटमेंआजाताहै।इससेयहांबसपकड़नेकेलिएआनेवालेयात्रियोंकोकाफीपरेशानीझेलनीपड़तीहै।

कहतेहैंनपकेचेयरमैन

साढ़ेचारकरोड़कीराशिसेराजेंद्रबसस्टैंडकोहाईटेकबनानेकीयोजनादोसालपहलेतैयारकीगईथी।योजनातैयारकरनेकेबादप्राक्कलनबनाकरनगरविकासविभागकोभेजागयाथा,लेकिनकोईरिस्पांसनहींमिला।सरकारनेदोबाराराजेंद्रबसस्टैंडकाकायाकल्पकरनेकोलेकरप्रस्तावमांगाथा।नयाप्रस्तावतैयारकरनगरविकासविभागकोभेजदियागयाहै,लेकिनअभीतकराशिकाआवंटननहींमिलाहै।

हरेंद्रकुमारचौधरी,चेयरमैन,नगरपरिषद