• Home
  • मुफ्त के राशन से की मुश्किलें आसान

मुफ्त के राशन से की मुश्किलें आसान

रायबरेली:कोरोनामहामारीमेंकईपरिवारोंकेसामनेआर्थिकसंकटगहरागया।परदेसमेंकामछूटातोलोगगांवलौटआए।मुसीबतयहांपरभीउनकापीछाछोड़नेकानामनहींलेरहीथी।परिवारकेगुजर-बसरकेलिएकामकीतलाशमेंदर-दरभटकनापड़ा।ऐसेमेंसरकारनेप्रधानमंत्रीगरीबकल्याणअन्नयोजनाशुरूकी।पात्रगृहस्थीकेसाथअंत्योदयकार्डकेप्रत्येकसदस्यकोनिश्शुल्कअनाजदेनेकीघोषणाकी।इतनाहीनहीं,बाहरसेघरलौटेउनअप्रवासियोंकोभीयोजनासेजोड़ागया,जिनकाकार्डनहींबनाथा।उद्देश्यसिर्फइतनाकिकोईभीपरिवारभूखानरहे।ऐसेमेंप्रत्येकयूनिटकोपांच-पांचकिलोनिश्शुल्कअनाजदियाजानेलगा।अबउनकीमुश्किलआसानहोगई।अनाजकेलिएजरूरतमंदोंकोभटकनानहींपड़ा।

अबतककेवितरणपरएकनजर

1154-सस्तेगल्लेकीदुकान

107-शहरीक्षेत्रकीदुकान

496526-वितरितकार्ड

2043305-वितरितयूनिट

88.71-वितरितकार्डकाप्रतिशत

91.02-वितरितयूनिटकाप्रतिशत

पारदर्शिताकेलिएपर्यवेक्षकोंकीतैनाती

योजनामेंपारदर्शिताकेलिएपर्यवेक्षकोंकीतैनातीकीगईहै।इसकेअलावासंबंधितक्षेत्रकेएसडीएम,बीडीओ,क्षेत्रीयखाद्यअधिकारी,पूर्तिनिरीक्षकोंकोभीदुकानोंकेनिरीक्षणकेनिर्देशदिएगएहैं।शासनस्तरसेवितरणकीहरघंटेरिपोर्टऑनलाइनलीजारहीहै।

प्रधानमंत्रीगरीबकल्याणअन्नयोजनासेकरीब22लाखलोगोंकोजोड़ागयाहै।15जूनतकनिश्शुल्कअनाजकावितरणहोनाहै।वर्तमानमें90प्रतिशतवितरणहोचुकाहै।कमलनयनसिंह,जिलापूर्तिअधिकारी