• Home
  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी बीमा योजना में नामांकित हाेने के बाद भी प्राइवेट अस्पतालों में मांगा जा रहा है इलाज का पैसा

मुख्यमंत्री चिरंजीवी बीमा योजना में नामांकित हाेने के बाद भी प्राइवेट अस्पतालों में मांगा जा रहा है इलाज का पैसा

मुख्यमंत्रीचिरंजीवीबीमायोजनामेंअस्पतालोंकीलिस्टमेंनामदेखकरलाेगप्राइवेटअस्पतालोंमेंपहुंचरहेहै,नामांकितहाेनेकेबादभीप्राइवेटअस्पतालोंमेंमरीजोंकेपरिजनोंसेइलाजकेरुपएमांगेजारहेहै।योजनाशुरूहाेनेसेअबतककरीब700सेअधिकशिकायतेंसिटीजनकाॅलसेंटर181परप्राप्तहुईहै।शिकायतोंकाेनिस्तारणकेलिएसंबंधितजिलोंकेकलेक्टरोंकाेभेजागयाहै।

इनशिकायतोंमेंसेअबतक90शिकायतोंकानिस्तारणहाेपायाहैअभीभी600सेअधिकशिकायतोंकानिस्ताणहाेनाबाकीहै।अबतकमिलीशिकायतोंमेंसबसेअधिक215शिकायतेंजयपुरकेअस्पतालोंकीमिलीहै।

इधर,लगातारमिलरहीशिकायतोंकाेलेकरआईएएसकानाराम,संयुक्तमुख्यकार्यकारीअधिकारीराजस्थानस्टेटहैल्थइंश्यारेंसएजेंसीनेसभीजिलोंकेकलेक्टरोंकाेशिकायतमिलनेकेसातदिनमेंनिस्तारणकाआदेशदियाहै।

यहहैइनकीपीड़ा

योजनामेंगंभीरमरीजोंकेलिए4.5लाखकानिशुल्कइलाज

इसयोजनामेंप्रदेशके756सरकारीऔर336निजीअस्पतालोंकाेजाेड़ागयाहैं।योजनामेंसामान्यमरीजोंकेलिए50हजारवगंभीरमरीजोंकेलिए4.50लाखनिशुल्कउपचारदेयहै।पैकेजमेंमरीजकेअस्पतालमेंभर्तीहाेनेसे5दिनपहलेऔरडिस्चार्जके15दिनबादतकउसबीमारीसेसंबंधितउसअस्पतालमेंकीगईजांचों,दवाइयोंऔरडाॅक्टरकीफीसकाखर्चभीशामिलहैं,जिससेमरीजोंकोयोजनाकेतहतपूराइलाजमिलसके।

अस्पतालोंकीशिकायतेंमिलरहीहैउनकानिस्तारणकियाजारहाहै।अबतक30सेअधिकशिकायतोंकानिस्तारणकियागयाहै।सरकारनेप्रदेशकेनिजीअस्पतालोंसेयोजनामेंजुड़नेकेलिएनियम-शर्तेंबताकरआवेदनमांगेथे।सरकारकेनियम-शर्ताेंकेआधारपरहीनिजीअस्पतालस्वेच्छासेयोजनामेंजुड़ेहै।ऐसेमेंअबइलाजकेलिएइनकारनहींकरसकते,जाेलागफाेनपरशिकायतकररहेहैउन्हेंलिखितमेंअस्पतालोंकीशिकायतकरनेकाेकहाहै।उसकेबादनियमानुसारकार्रवाईकीजाएगी।-अंतरसिंहनेहरा,कलेक्टर