• Home
  • मोदी का एहसान मान रय्या सूं जो जिदगी के साल बढ़ा दिए, नहीं तो खत्म हो रहा था

मोदी का एहसान मान रय्या सूं जो जिदगी के साल बढ़ा दिए, नहीं तो खत्म हो रहा था

-73वर्षीयरामकिशनबोले-मेरातोकुछखर्चनहींहोया,आयुष्मानकाकार्डजोबनरय्यासै

-संजीवनीबनरहीआयुष्मानभारतयोजना,इलाजसेडरनेकेबजायअस्पतालकाकरनेलगेरुख

अमितपोपली,झज्जर:किततैआवैपैसे,हमतोमरहीजावै।यातोमैंमोदीकाएहसानमानरय्यासूंजोजिदगीकेकईसालबढ़ादिए,नहींतोखत्महोरहाथा।दरअसल,लडरावणगांवकेकरीब73सालकेरामकिशननेपिछलेमाहस्टंटडलवाएहैं।आयुष्मानयोजनाकेएकलाभार्थीपरिवारकेमुखियासेजबबातकीतोउनकादर्दसामनेआया।बतायाकिपिछलेकाफीसमयसेमैंदिक्कतमहसूसकररहाथा।चिकित्सकोंकेयहांचेककरवायातोसमस्यासामनेआई।राहतकीबातयहरहीकिलाखोंरुपयेकाकामएकरुपयाभीखर्चकिएबिनाहुआहै।अगरऐसानहींहोतातोशायदमैंबगैरइलाजकेहीमरजाता।रामकिशनकहतेहैंकिउन्होंनेअपनेजीवनमेंमजदूरीकरतेहुएहीपरिवारकीगुजरबसरचलाईहै।जितनेपैसेइलाजमेंखर्चहुएहैं,इतनेतोकभीघरमेंजमाभीनहींहोपाए।बसशुक्रहैकिकुछसालपहलेकार्डबनगयाथा।जिसनेमुझेनयाजीवनदियाहै।

सामानगिरवीरखकरहोनाथाऑपरेशन,इब्बमेरातोकुछखर्चनहींहोया

दुबलधनगांवकीशीलादेवीनेकरीबदोमाहपहलेअपनेघुटनेबदलवाएहैं।आयुष्मानयोजनाकीलाभार्थीशीलाकेमुताबिकपूरेइलाजमेंउसकाकुछभीखर्चनहींहोया।क्योंकि,उसकाआयुष्मानकाकार्डजोबनरय्यासै।ग्रामीणपरिवेशसेजुड़ीशीलाकहतीहैंकिवेसामान्यपरिवारसेसंबंधरखतीहै।घुटनोंकीसमस्यासेपरेशानहोकरवहपिछलेकईसालसेसमयव्यतीतकररहीथीं।अगरकार्डनहींहोतातोशायदकुछसामानगिरवीरखकरहीऑपरेशनकरवानापड़ता।राहतकीबातयहहैकिजरूरतकेसमयमेंइससुविधाकाबड़ाफायदापहुंचाहै।

योजनाकेतहतकरोड़ोंरुयपेकीराशिहोचुकीजारी

दरअसल,आयुष्मानभारतयोजनावारदानसाबितहोरहीहै।अभीतककरोड़ोंरुपयेलोगोंकेइलाजकेलिएजारीहोचुकेहैं।विभिन्नबीमारियोंकेऐसेऑपरेशनलोगोंनेकरवाएहैं।जोकिबगैरसरकारीमददकेसंभवनहींथे।देखाजाएतोयोजनासेजुड़ेलोगअबइलाजसेडरनेकेबजायअस्पतालकारुखकरनेलगेहैं।जरूरतमंदपरिवारोंकीसोचभीअबबदलीहै।

लाभार्थीयोजनाकेतहतक्लेमकीगईराशि

निजीअस्पतालोंसेलाभउठानेवालेलाभार्थी:5378:64840387

सरकारीअस्पतालोंसेलाभउठानेवालेलाभार्थी:2991:9173780

जिलामेंकुललाभार्थीपरिवार:40438

ग्रामीणअंचलमेंपरिवार:26930

शहरीक्षेत्रमेंपरिवार:13508

कुलगोल्डनकार्डतैयारकिए:71023

नि:संदेहजरूरतमंदपरिवारोंकेलिएआयुष्मानयोजनावरदानसाबितहोरहीहै।गोल्डनकार्डतैयारकरनेकेलिएभीटीमगंभीरतासेकार्यकररहीहै।हरसंभवप्रयासरहताहैकिकोईभीव्यक्तिपरेशाननहींहो।

-डा.संजयदहिया,सिविलसर्जन,झज्जर।