• Home
  • मनरेगा से सुदृढ करें अर्थवयस्था, ग्रामीणों को रोजगार से जोडे़

मनरेगा से सुदृढ करें अर्थवयस्था, ग्रामीणों को रोजगार से जोडे़

जामताड़ा:वैश्विकमहामारीकेकारणग्रामीणअर्थव्यवस्थाकोसुदृढकरनासरकारकीप्राथमिकताहै।इसकेलिएसरकारद्वारामनरेगाकेतहतसंचालितयोजनाओंकात्वरितक्रियान्वयनकरनाआवश्यकहै।सभीबीडीओबिरसाहरितग्रामयोजनाकेतहतयोजनास्थलचयनकीस्वीकृतिकराकरअविलंबकार्यशुरूकरेंऔर30मईकेपूर्वगड्ढाखुदाईतथाघेरावकार्यकोपूर्णकरें।गुरुवारकोडीसीकार्यालयकेसभागारमेंमनरेगायोजनाओंकीसमीक्षाकरतेहुएउपायुक्तगणेशकुमारनेउक्तनिर्देशदिया।उन्होंनेमुख्यमंत्रीजलसमृद्धियोजनाकेतहतट्रेंचसहबंड,फील्डबंड,नालाकीसफाई,गहरीकरण,लूजबोल्डरस्ट्रक्चर,शॉकपिटयोजनाप्रारंभकरानेकानिर्देशदिया।

डीसीनेसभीबीपीओकोमनरेगाकार्यमेंतेजीलानेकानिर्देशदियातथा2दिनोंकेअंदरजमीनसत्यापितकरकार्यआरंभकरनेकोकहा।उपायुक्तनेकार्यकेदौरानमजदूरोंकोशारीरिकदूरियां,नाक-मुंहकोगमछायामास्कसेढककरकार्यसुनिश्चितकरानेकानिर्देशदिया।

उपायुक्तनेसभीबीडीओकोमुख्यमंत्रीद्वारागतचारमईकोआरंभकिएगएतीनयोजनाओंक्रमश:बिरसाहरितग्रामयोजना,नीलाबंर-पीताबंरजल-समृद्धियोजनाऔरवीरशहीदपोटोहोखेलविकासयोजनासेलोगोंकोजोड़नेकोकहा।विशेषकरअन्यजिलेअथवाराज्योंसेआएमजदूरोंकोयोजनाओंमेंजोड़नेकीदिशामेंपहलकरनेकोकहा।कहाकिबाहरसेजोभीमजदूरआएंहैं,उनकाक्वारंटाइनअवधिपूराहोनेकेबादउन्हेंतीनोंयोजनाओंसेजोड़कररोजगारदें।

किसानएकएकड़मेंआमकीखेतीकरशुरूमें15से20हजारकमासकतेहैं,लेकिनसालबीतनेकेबादइससेलाखोंकीकमाईहोसकतीहै।वहींइमारतीपौधोंसेलाखोंकीपरिसंपत्तिभीबननानिश्चितहै।

मौकेपरमौजूदउपविकासआयुक्तनागेंद्रकुमारसिन्हानेसभीयोजनाओंकेसाथएनजीओवजेएसएलपीएसकेसाथसमन्वयबनाकरकार्यकरनेकोकहा।साथहीकार्यस्थलपरसैनिटाइजरवमास्ककीउपलब्धतासुनिश्चितकरनेकोकहा।उपविकासआयुक्तनेसभीप्रखंडविकासपदाधिकारी,बीपीओकोनिर्धारितलक्ष्यपूर्णकरनेकोकहा।

मौकेपरअपरसमाहर्तासुरेंद्रकुमार,डीआरडीएनिदेशकरामवृक्षमहतो,सभीप्रखंडविकासपदाधिकारी,परियोजनापदाधिकारीमोतिउररहमान,सभीप्रखंडकेसहायकअभियंता,परियोजनाअर्थशास्त्रीअनूपकुमार,रूमाचटर्जी,बीपीओआदिउपस्थितथे।