• Home
  • मिला ऋण तो खुद बना ली तरक्की की राह

मिला ऋण तो खुद बना ली तरक्की की राह

जागरणसंवाददाता,फतेहपुर:देशजबकोरोनासंक्रमणसेजूझरहाहैतोऐसेमेंप्रधानमंत्रीरोजगारसृजनकार्यक्रमशिक्षितबेरोजगारोंकेलिएअवसरबनगएहैं।यूंतोबीतेतीनसालोंमेंइसयोजनासेकरीब10.09करोड़काऋणबांटकरखादीतथाग्रामोद्योगबोर्डने954लोगोंकोस्वरोजगारसेजोड़ाहै,लेकिनअबभीबोर्डस्वत:रोजगारलगानेकेलिए25लाखतककेऋणबेरोजगारोंकोबैंकोंकेमाध्यमसेउपलब्धकरारहाहै।सीडीओसत्यप्रकाशनेबतायाकिउद्यमसेजुड़नेऔरखुदकारोजगारस्थापितकरनेकीयहबेहतरयोजनाहै।कोईभीव्यक्तिइसयोजनासेऋणलेसकताहै।ऋणपरसरकार25से35फीसदतकधनराशिबैंकोंकोसब्सिडीकेरूपमेंदेतीहै।उन्होंनेबतायाकिजिलेमेंअबतक75इकाइयोंकीस्थापनाकराईगयीहै।जिसमेंलौहकला,मिनीफ्लोरमिल,मिनीराइसमिल,नमकीन,रेडीमेडगारमेंट,ढाबा,दुग्धउत्पादन,वाटरप्लांट,काष्ठकला,टेंटनिर्माण,वासिगपाउडरनिर्माणजैसीइकाइयांहैं।