• Home
  • महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से 48 लोगों की मौत, कर्नाटक में बाढ़ से गंभीर हालात

महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से 48 लोगों की मौत, कर्नाटक में बाढ़ से गंभीर हालात

नयीदिल्ली,16अक्टूबर(भाषा)कर्नाटककेअनेकहिस्सोंमेंलगातारबारिशऔरप्रमुखबांधोंसेपानीछोड़ेजानेकेकारणशुक्रवारकोबाढ़सेहालातगंभीररहे।वहीं,महाराष्ट्रमेंपिछलेतीनोंमेंभारीबारिशऔरउसकेबादआईबाढ़केकारणकमसेकम48लोगोंकीमौतहोगयीतथालाखोंहेक्टेयरक्षेत्रमेंबड़ेपैमानेपरफसलबर्बादहोगई।अधिकारियोंनेबतायाकिपश्चिमीमहाराष्ट्रकेपुणेसंभागमें29,मध्यमहाराष्ट्रकेऔरंगाबादसंभागमें16औरतटीयकोंकणमेंतीनलोगोंकीवर्षाजनितघटनाओंमेंमौतहोगयी।उत्तरकर्नाटकसबसेबुरीतरहप्रभावितरहाजहांपिछलेतीनमहीनेमेंतीसरीबारबाढ़आईहै।प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेशुक्रवारकोभारीबारिशसेप्रभावितमहाराष्ट्रऔरकर्नाटककेमुख्यमंत्रियोंसेबातकरउन्हेंराहतवबचावकार्यमेंहरसंभवमददकाआश्वासनदिया।मोदीनेट्वीटकिया,‘‘महाराष्ट्रकेमुख्यमंत्रीउद्धवठाकरेसेबातकरबाढ़औरभारीबारिशसेउत्पन्नस्थितिपरचर्चाकी।प्रभावितभाईबहनोंकेप्रतिमेरीसंवेदनाएंहैं।वहांजारीराहतवबचावकार्यमेंकेंद्रकीहरसंभवमददकाभरोसादिया।’’मोदीनेएकअन्यट्वीटमेंकहा,‘‘कर्नाटककेविभिन्नहिस्सोंमेंबारिशऔरबाढ़सेउत्पन्नस्थितिपरमुख्यमंत्रीबीएसयेदियुरप्पासेचर्चाकी।बाढ़सेप्रभावितकर्नाटककेभाई-बहनोंकेसाथहमखड़ेहैं।राहतवबचावकार्यमेंकेंद्रकीओरसेहरसंभवमददकाभरोसादिया।’’दिल्लीमेंअधिकतमतापमान34.7डिग्रीसेल्सियसरहाजबकिहवाकीगतिअनुकूलरहनेकेचलतेप्रदूषकोंकेछितरावमेंमददमिलनेसेशुक्रवारकोप्रदूषणकेस्तरमेंआंशिकरूपसेकमीआई।हालांकि,परालीजलाएजानेसेशहरमें‘पीएम2.5’कासकेंद्रणबढ़कर18प्रतिशतहोगया।पीएम2.5,हवामेंमौजूद2.5माइक्रोमीटरसेकमव्यासकेकणहैं।दिल्ली-एनसीआरमहीनोंसेखराबवायुगुणवत्ताकासामनाकररहाहै।विशेषज्ञोंनेचेतावनीदीहैकिवायुप्रदूषणकास्तरअधिकरहनेसेकोविड-19कीस्थितिऔरबढ़सकतीहै।भारतमौसमविज्ञानविभागकेअनुसारकोंकणऔरगोवा,ओडि़शातथातटीयआंध्रप्रदेशमेंछिटपुटस्थानोंपरभारीवर्षाहुई।पूर्वीभारतमेंबंगालकीखाड़ीमेंनिम्नदबावकाक्षेत्रबननेसेकोलकाताएवंपश्चिमबंगालकेअन्यहिस्सोंमेंदुर्गापूजाकेदौरानवर्षाहोनेकीसंभावनाहै।पुणेकेसंभागीयआयुक्तकार्यालयकेअनुसारपश्चिमीमहाराष्ट्रमेंभारीवर्षाऔरबाढ़से3000सेअधिकमकानक्षतिग्रस्तहोगएजबकि40,000सेअधिकलोगोंकोसुरक्षितस्थानोंपरपहुंचायागया।इससंबंधमेंएकअधिकारीनेकहा,‘‘सोलापुरमें14,सांगलीमेंछह,पुणेमेंसातऔरसतारामेंदोव्यक्तियोंकीजानचलीगयीजबकिपुणेमेंएक,सांगलीमेंतीनऔरसोलापुरमेंचारलोगअबभीलापताहैं।’’उन्होंनेबतायाकिपुणे,सोलापुर,सताराऔरसांगलीजिलोंमें87,000हेक्टेयरमेंफैलेगन्ना,सोयाबीन,सब्जियों,चावल,अनारऔरकपासजैसीफसलोंकोनुकसानहुआहै।उनकेअनुसारसोलापुर,सांगली,सताराऔरपुणेजिलोंमेंभारीबारिशऔरउसकेबादआईबाढ़से1021मवेशीमरगए,कुल3,156मकानक्षतिग्रस्तहोगएतथा100झुग्गियांनष्टहोगयीं।सोलापुर,सांगली,सताराऔरपुणेजिलोंमें10,349से40,036अधिकलोगोंकोसुरक्षितस्थानोंपरलेजायागया।अधिकारीकेअनुसारऔरंगबादक्षेत्रमेंसोयाबीन,बाजरा,कपास,केले,सूर्यमुखीआदिफसलेंनष्टहोगयीं।कोंकणक्षेत्रमें326मकानक्षतिग्रस्तहोगए।उपमुख्यमंत्रीअजीतपवारनेपश्चिमीमहाराष्ट्रमेंबाढ़कीस्थितिकाजायजालियाऔरस्थानीयप्रशासनसेक्षतिग्रस्तफसलों,मकानोंऔरअन्यसंपत्तियोंकातत्कालपंचनामाकरनेकाआदेशदिया।महाराष्ट्रसरकारकेराहतएवंपुनर्वासमंत्रीविजयवडेट्टीवारनेकहाकिराज्यसरकारकेंद्रसेभारीवर्षाऔरबाढ़केकारणफसलोंकानुकसानउठाचुकेऔरअपनीआजीविकाकास्रोतगंवाचुकेकिसानोंकोमुआवजादेनेकोकहेगी।उन्होंनेकहा,‘‘मैंकेंद्रसरकारसेउनकिसानोंकोकुछमुआवजाप्रदानकरनेकेलिएकहूंगाजिन्होंनेअपनीआजीविकागंवायीहै।फसलोंकेनुकसानकाआकलनचलरहाहै।मैंनेअधिकारियोंसेनुकसानकेआकलनकेकाममेंतेजीलानेकोकहाहै।’’कर्नाटकमेंबेलगावी,कलबुर्गी,रायचुर,यादगिर,कोप्पल,गोदाग,धारवाड़,बागलकोट,विजयपुराऔरहावेरीसबसेबुरीतरहप्रभावितहुएहैं।कलबुर्गीऔरयादगीरजिलोंमेंउफानकेसाथबहरहीभीमानदीनेतबाहीमचाईजहांअनेकगांवजलमग्नहोगएऔरखेतोंमेंखड़ीफसलतबाहहोगयी।खबरोंकेमुताबिकखाद्यान्नोंकेगोदामोंऔरदालमिलोंमेंबाढ़कापानीघुसजानेसेवहांरखासामानबहगया।मुख्यमंत्रीबीएसयेदियुरप्पानेकहाकिकेंद्रसरकारकर्नाटककेहालातसेवाकिफहै।उन्होंनेकहा,‘‘केंद्रकोमौजूदाहालातकीजानकारीहै।मैंनेअभीकेंद्रीयगृहमंत्रीसेबातकीहैजिन्होंनेहमेंहरसंभवसहायताकाआश्वासनदियाहै।’’येदियुरप्पानेकहाकिउनकीसरकारराहतकार्योंकेलिएप्रतिबद्धहैतथाराजस्वमंत्रीआरअशोकनेबाढ़ग्रस्तक्षेत्रोंकादौराशुरूकरदियाहै।इसबीच,कर्नाटककेआपदाप्रबंधनप्राधिकरण(केडीएमए)नेराज्यकेगृहमंत्रीबासवराजबोम्मईकोबाढ़केहालातकेबारेमेंजानकारीदी।केडीएमएअधिकारियोंकेअनुसारइससालमॉनसूनकीबारिशसामान्यसेबहुतअधिकहुईहै।इससंबंधमेंएकअधिकारीनेकहा,‘‘राज्यमेंसितंबरकेअंततकऔसतवर्षातकरीबन800मिलीमीटरहोतीहै,वहींइसवर्षयहकरीब1,000मिलीमीटरपरपहुंचगयीहै।’’