• Home
  • महामारी में अनाथ हुए लगभग 4,000 बच्चे 'पीएम केयर्स' छात्रवृत्ति योजना के तहत लाभान्वित: सरकार

महामारी में अनाथ हुए लगभग 4,000 बच्चे 'पीएम केयर्स' छात्रवृत्ति योजना के तहत लाभान्वित: सरकार

नयीदिल्ली,30मई(भाषा)सामाजिकन्यायऔरअधिकारितामंत्रालयनेसोमवारकोकहाकिकोविड-19महामारीकेदौरानअनाथहुएकरीबचारहज़ारबच्चोंको‘पीएमकेयर्सफॉरचिल्ड्रेन’छात्रवृत्तियोजनाकालाभमिलाहै।मंत्रालयकेतहतनयी‘पीएमकेयर्सफॉरचिल्ड्रेन’छात्रवृत्तियोजनाकोकेंद्रीयक्षेत्रकीयोजनाकेरूपमेंतैयारकियागयाथा।मंत्रालयनेएकबयानमेंकहा''इसयोजनाकेतहत,हरबच्चेकोप्रतिवर्ष20,000रुपयेकाछात्रवृत्तिभत्तादियाजाएगा,जिसमेंएकहजाररुपयेकामासिकभत्ताऔरआठहज़ाररुपयेकावार्षिकशैक्षणिकभत्ताशामिलहोगा।इसमेंस्कूलकीफीस,किताबें,वर्दी,जूतेऔरअन्यशैक्षिकउपकरणोंकीलागतशामिलहै।''कक्षापहलीसे12वींकीपरीक्षापासकरनेतकबच्चोंकोप्रत्यक्षलाभअंतरणकेमाध्यमसेछात्रवृत्तिवितरितकीजाएगी।मंत्रालयकेमुताबिकवर्ष2022-23केदौरान7.89करोड़रुपयेकीराशिकेसाथ3,945बच्चेइसयोजनाकेतहतलाभान्वितहुएहैं।प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेसोमवारको‘पीएमकेयर्सफॉरचिल्ड्रेन’छात्रवृत्तियोजनाकेतहतस्कूलीबच्चोंकेलिएछात्रवृत्तिजारीकी।साथहीकार्यक्रमकेदौरानबच्चोंकोयोजनाकेतहतपासबुकऔरआयुष्मानभारत-प्रधानमंत्रीजनआरोग्ययोजनाकेतहतस्वास्थ्यकार्डभीदिएगए।‘पीएमकेयर्सफॉरचिल्ड्रेन’छात्रवृत्तियोजनाकाउद्देश्यबच्चोंकोशिक्षाऔरछात्रवृत्तिकेमाध्यमसेसशक्तबनाना,उन्हें23वर्षकीआयुप्राप्तकरनेपर10लाखरुपयेकीवित्तीयसहायताकेसाथआत्मनिर्भरबनानाऔरस्वास्थ्यबीमाकेमाध्यमसेउनकीभलाईसुनिश्चितकरनाहै।