• Home
  • मौसम की तल्खी बढ़ा रही तटवर्ती गांवों के लोगों की चिता

मौसम की तल्खी बढ़ा रही तटवर्ती गांवों के लोगों की चिता

बगहा।उमसवगर्मीकेकारणलोगोंकाहालबेहालहै।बीतेतीनदिनोंसेगर्मीकेकारणपंखेकीहवाकेबादभीशरीरकापसीनानहींसूखरहाहै।पर,इसगर्मीकामतलबसीधेतौरपरभारीबारिशकीसंभावनासेजोड़ाजारहाहै।तेजधूपकेबीचबादलोंकाआनाजानाभीलगाहुआहै।जोबारिशकोलेकरसचेतकररहाहै।इधरमौसमविभागकेतरफसेभीइसवर्षपूरेबरसातअच्छीबारिशकीसंभावनाजताईजारहीहै।जबकिमानसूनकाआगमन15जूनसेहोरहाहै।बारिशकानामसुनकरजहांकिसानवआमलोगोंमेंखुशीछाजातीहै।वहींबारिशकेनामसेहींप्रखंडकेकरीबएकदर्जनसेअधिकगांवोंमेंमायूसीछानेलगतीहै।साथहींलोगोंकोअपनेभविष्यकेलिएबुनेसपनेधुंधलेहोनेलगतेहैं।यहकिसीएकसालकीकहानीनहींहै।प्रतिवर्षबरसातकेचारमहीनोंमेंयहीहालहोताहै।प्रखंडसेहोकरगुजरनेवालीकापन,हरहा,भलुई,मसान,सिगहा,सुखौड़ाआदिनदियोंकेकिनारेबसेलोगइसकोझेलतेआरहेहैं।नदियोंमेंउफानकेकारणतटवर्तीगांवोंकेलोगोंकोइनदिनोंमेंविस्थापनकीपीड़ाउठानीपड़तीहै।वहींकुछगांवोंकेलोगोंकारतजगाभीकरनापड़ताहै।अगरनदियोंकापानीउतरभीजाताहैतो,उसकेबादशुरूहोतीहै।सड़क,कृषिवबागबगीचेकेकटावकीकहानी।जिसमेंप्रत्येकसालकईएकड़खेतसाफहोजातेहैं।

मसाननदीहैमचातीहैतबाही:-प्रखंडसेहोकरगुजरनेवालीमसाननदीसबसेप्रलयंकारीहै।जिसकेकिनारेदोनसेलेकरदेवराजतककेगांवबसेहुएहैं।सबसेक्षतिइसीनदीसेप्रखंडमेंहोतीहै।हालांकिइसकेतटपरकुछजगहोंपरबांधबनायागयाहै।पर,अभीकईजगहबांधबनानेकीमांगलगातारउठरहीहै।बीतेदिनोंयाससइक्लोनसेउपजेहालातकेकारणकुछगांवकीमुख्यसड़कोंकाभीकटावहुआहै।जिससेयहांकेग्रामीणभीअभीसेपरेशानदिखरहेहैं।बयान:

जिनस्थलोंपरसमस्याहै।वहांबाढ़सुरक्षात्मककार्यकरानेकीतैयारीसंबंधितविभागकेतरफसेकीगईहै।विभागभीहरपरिस्थितिकेलिएतैयारहै।

विनोदमिश्रा,सीओ