• Home
  • मां पाकिस्‍तान जाती थी, परिवार को भारत आने के लिए वीजा नहीं, दिल्‍ली HC ने पूछा- ऐसे कैसे रोक सकते हैं

मां पाकिस्‍तान जाती थी, परिवार को भारत आने के लिए वीजा नहीं, दिल्‍ली HC ने पूछा- ऐसे कैसे रोक सकते हैं

नईदिल्लीदिल्लीहाईकोर्टमेंएकअलगतरहकामामलाआयाहै।इसकीसुनवाईकरतेहुएसोमवारकोकोर्टनेकेंद्रकोनोटिसजारीकिया।इसमेंउसनेपूछाकिवहकैसेकिसीव्यक्तिकोभारतआनेसेसिर्फइसलिएरोकसकताहैक्योंकिउसकीमांपाकिस्तानजातीथी।न्यायमूर्तिरेखापल्लीनेकेंद्रसेयहसवालतीनअमेरिकीनागरिकोंकीयाचिकापरसुनवाईकरतेहुएकिया।येओवरसीजसिटिजनऑफइंडिया(ओसीआई)कार्डधारकभीहैं।इनलोगोंनेपरिवारसेमिलनेकेलिएउन्हेंवीजादेनेसेइनकारकरनेकेफैसलेकोचुनौतीदीहै।अदालतनेपूछा,‘आपकिसीव्यक्तिकोभारतआनेसेकैसेरोकसकतेहैं।वहभीइसलिएकिउसकीमांपाकिस्तानजातीरहीहैं।’कोर्टनेविदेशमंत्रालय,गृहमंत्रालयऔरअमेरिकाकेन्यूयॉर्कस्थितभारतीयमहावाणिज्यदूतावासकोनोटिसजारीकरनौजूनतकयाचिकापरअपनापक्षरखनेकानिर्देशदियाहै।दवाजमाखोरीमामला:गंभीरसहितनेताओंकेबारेमेंपुलिसकेहलफनामेपरदिल्‍लीHCनेलगाईफटकार,कहा-जांचमेंलीपापोतीयाचिकाकर्तानेदावाकियाहैकिपत्नीसंगदोबेटियोंकेलिएउसनेजनवरी2021मेंओसीआईकार्डकारिन्‍यूअलकरानेकेलिएआवेदनकिया।इनमेंसेउसकीपत्नीकेकार्डकानवीनीकरणकरदियागया।अधिवक्ताआभारॉयकेजरियेयाचिकामेंयाचिकाकर्तानेकहा,‘हालांकि,उसकाऔरउसकीदोबेटियोंकेओसीआईकार्डकारिन्‍यूअलइसलिएनहींकियागयाक्योंकिउसकीमांबचपनमेंपाकिस्तानमेंरहतीथींऔरशादीकेबादभारतीयनागरिकबननेकेबावजूदपाकिस्तानजातीथीं।’रॉयनेकहाकिकेंद्रसरकारकीओरसेजारीसर्कुलरकेमुताबिक,इनतीनकार्डधारकोंकेओसीआईकार्डकानवीनीकरणकरनेकीजरूरतनहींहै।ऑक्सि‍जनकंसंट्रेटरपरकेंद्रकाIGSTलगानेकाफैसलागलत,दिल्लीHCनेकहा-कोरोनामरीजोंनेमजबूरीमेंआयातकियायाचिकाकर्ताकेअधिवक्तानेकहाकिकेंद्रसरकारकेसर्कुलरकेअनुसार,अगरकिसीव्यक्तिको20वर्षकाहोनेकेबादओसीआईकार्डमिलताहैतोउसे50सालकीउम्रतकइसकानवीनीकरणकरानेकीजरूरतनहींहै।इसकेबादसंबंधितव्यक्तिकोइसकाएकबारनवीनीकरणकरनाहोताहै।हालांकि,अगरयहकार्ड50सालकीउम्रकेबादमिलाहैतोइसकेनवीनीकरणकीजरूरतनहींहै।उन्होंनेकहाकिकेंद्रसरकारइसतथ्यकीसराहनाकरनेमेंविफलरहीहैकियाचिकाकर्ताकोयहकार्डउसके50सालकाहोनेकेबादमिलाहै।जबकिउसकीदोनोंबेटियोंको20सालकाहोनेकेबादमिला।ऐसीस्थितिमेंइसकेरिन्‍यूअलकीजरूरतहीनहींहै।याचिकाकर्ताओंकेअनुसार,उनकेलिएभारतकीयात्राकरनाबहुतजरूरीहै।कारणहैकिउनकीसेहतकाफीखराबहै।