• Home
  • कृत्रिम झील का पूर्व सर्वे खारिज, नए स्थान का किया चयन

कृत्रिम झील का पूर्व सर्वे खारिज, नए स्थान का किया चयन

संवादसूत्र,गैरसैंण:रामगंगानदीपरकृत्रिमझीलनिर्माणकरगैरसैंणकोपर्यटनस्थलकेरूपमेंविकसितकिएजानेऔरनगरकोपेयजलकिल्लतसेनिजातदिलानेकेलिएप्रस्तावितयोजनाफिलहाललटकतीनजरआरहीहै।योजनाकेलिएचयनितस्थलकोभूगर्भवैज्ञानिकोंनेखारिजकरदियाहै।हालांकिसिंचाईविभागनेनएस्थलकाचयनकरदियाहै।लेकिनभूगर्भीयसर्वेक्षणउपरांतहीयोजनाकोहरीझंडीमिलसकेगी।

बतादेंकि2017मेंमुख्यमंत्रीत्रिवेंद्रसिंहरावतनेगैरसैंणमेंझीलबनाएजानेकीघोषणाकीथी।इसकेलिएसिंचाईविभागकोयोजनाकेलिएउपयुक्तस्थानचयनकाजिम्मादियागयाथा।विभागनेगैरसैंण-फरकंडेमोटरमार्गस्थितआइटीआइपरिसरकेसमीपरामगंगामेंस्थलकाचयनकियाथा।जिसमेंनदीकेदोनोंओरकठोरभूभागनहींपाएजानेकेकारणलंबेसमयकेलिएयोजनाउपयुक्तनहींमानतेहुएरद्दकरदियाथा।विभागनेफिरसेरामगंगाकेउद्गमकीओरमनोड़ाकेसमीपनएस्थानकाचयनकियाहै।जिसपरगुरुवारकोभूगर्भविभागकीटेस्टिंगटीमनेजांचप्रारंभकरदीहै।सिंचाईविभागकेसहायकअभियंताधनवंतरीत्रिपाठीनेबतायाकिपुन:चयनितस्थलसुरक्षितवउपयुक्तहै।कहाकिझीलतैयारहोनेपरबोटिंगवजलक्रीड़ागतिविधियांसंचालितहोनेकेसाथहीनगरकोपर्याप्तपेयजलउपलब्धकरायाजासकेगा।संभावित600से700मी.झीलकेसंबंधमेंउन्होंनेजानकारीदेतेहुएबतायाकियोजनाकीडीपीआररुड़कीमेंतैयारकीगईहै।जांचमेंउपयुक्तपाएजानेपरशीघ्रकार्यप्रारंभकरदियाजाएगा।