• Home
  • किसानों के डूबे अरमान, जलमग्न हुआ धान

किसानों के डूबे अरमान, जलमग्न हुआ धान

सुपौल।पिछलेचारदिनोंसेहोरहीभारीबारिशनेलोगोंकाजनजीवनअस्त-व्यस्तकरदियाहै।जिससेसबसेअधिकअसरखरीफफसलकरनेवालेकिसानोंपरपड़ाहै।छातापुरप्रखंडक्षेत्रअंतर्गतबलुआ,लक्ष्मीनियां,मधुबनी,ठूठी,मटियारीइत्यादिजगहोंपरलगातारहुईभारीबारिशसेधानकीफसलपरव्यापकअसरपड़ाहै।लगभगसैकड़ोंएकड़खेतमेंलगीधानकीफसलपूरीतरहसेजलमग्नहोगईहै।जिससेकिसानोंकेचेहरेपरचिताकीलकीरेंनजरआनेलगीहै।क्षेत्रकेकिसानपंचानंदझा,गणेशयादव,जुगलकिशोरमेहता,सलामखान,कृत्यानंदझा,मुंगलालरायऔररामबल्लभझाआदिकाकहनाहैकिमहंगाएवंउन्नतकिस्मकाबीजखरीदकरधानकीरोपनीकीथी,लेकिनलगातारबारिशकेकारणफसलपूरीतरीकेसेडूबगईहै।यदिपानीतीन-चारदिनकेअंदरखेतोंसेनहींनिकलताहैतोधानकीफसलपूरीतरीकेसेबर्बादहोजाएगी।लोगोंनेबतायाकिमक्काकीफसलबर्बादहोनेकेबादबड़ीमुश्किलसेकिसानोंनेधानकीखेतीकरनेकीहिम्मतजुटाईथी।इसबारबारिशकेसाथबाढ़नेअरमानोंपरपानीफेरदियाहै।वहींलगातारहोरहीमूसलाधारबारिशसेक्षेत्रकीअधिकांशनदियांउफानपरहै।जिसकारणनिचलेक्षेत्रमेंबाढ़काखतराभीमंडरानेलगाहै।भारीबारिशकेकारणग्रामीणक्षेत्रोंकेनिचलेइलाकोंकीसड़केंपूरीतरहसेजलमग्नहै।जहांलोगोंकोआवागमनमेंभारीकठिनाईकासामनाकरनापड़रहाहै।वहींदैनिकमजदूरएवंपशुपालकोंकेलिएयहबारिशकिसीअग्निपरीक्षासेकमनहींहै।लोगोंकोअपनेदैनिककार्यकरनेमेंकईसमस्याओंकासामनाकरनापड़रहाहै।मौसमविभागनेपूर्वमेंही23सेलेकर27सितंबरतकपूरेबिहारमेंभारीबारिशकीचेतावनीजारीकररखीहै।लगातारहुईबारिशकेकारणतापमानमेंभीभारीगिरावटदर्जकियागयाहै।