• Home
  • खोजे नहीं मिल रहे दिव्यांग, योजना धड़ाम

खोजे नहीं मिल रहे दिव्यांग, योजना धड़ाम

महराजगंज:प्रशासनकेलाखप्रयासकेबादभीजिलेमेंदिव्यांगशादीविवाहप्रोत्साहनपुरस्कारयोजनाअपनेउद्देश्योंमेंसफलनहींहोपारहीहै।यहांदिव्यांगढूंढेनहींमिलरहेहैं।एकवर्षमेंसिर्फचारदिव्यांगहीइसकालाभप्राप्तकरसकेहैं।ऐसेमेंयहमहत्वपूर्णयोजनाधड़ामहोगईहै।

दिव्यांगजनसशक्तीकरणविभागकेमाध्यमसेसंचालितदिव्यांगजनशादीविवाहप्रोत्साहनपुरस्कारयोजनाकेतहतशासनदिव्यांगोंकोशादीकरनेपरप्रोत्साहनराशिदेताहै।इसमें40फीसददिव्यांगयुवकको15हजारऔरयुवतीको20हजाररुपयेदिएजातेहैं।युवक-युवतीदोनोंदिव्यांगहैं,तोउन्हें35हजाररुपयेदिएजातेहैं।यहधनराशिसार्वजनिकवित्तीयप्रबंधनप्रणाली(पीएफएमएस)केमाध्यमसेसीधेउनकेखातेमेंभेजीजातीहै।इसपुरस्कारकेलिएजिलेमेंशासनने17दिव्यांगजनकोलाभान्वितकरनेकालक्ष्यनिर्धारितकियाहै,लेकिनजागरूकताकेअभावमेंपात्रोंतकयोजनानहींपहुंचपारहीहैं।वित्तवर्षसमाप्तहोगयाहैऔरविभागकोअबतकसिर्फचारहीदिव्यांगपात्रमिलसकेहैं।

यहहैपात्रताशर्त

-शादीकेसमययुवककीआयु21वर्षसेकमऔर48वर्षसेअधिकनहो,युवतीकीउम्र18वर्षकेकमतथा45वर्षसेअधिकनहो।

-दंपतीमेंकोईआयकरदाताश्रेणीअंतर्गतनहो।

-मुख्यचिकित्साधिकारीद्वाराप्रदत्तदिव्यांगताप्रमाणपत्रकेअनुसारदिव्यांगता40फीसदयाउससेअधिकहोनीचाहिए।

-विवाहकानियमानुसारपंजीकरणहोनाचाहिए।

-शादीएकअप्रैल2020केबादसंपन्नहुईहो।

दिव्यांगशादीविवाहप्रोत्साहनपुरस्कारयोजनाकाप्रचार-प्रचारकियाजारहाहै।ग्रामप्रधानोंकासहयोगभीलियाजारहाहै,ताकिलक्ष्यकेअनुसारनवविवाहितदंपतीकोयोजनाकेतहतलाभान्वितकियाजासके।

शांतप्रकाशश्रीवास्तव

जिलादिव्यांगजनसशक्तीकरणअधिकारी