• Home
  • खेल-खेल में छुट रहा नशा

खेल-खेल में छुट रहा नशा

धर्मबीरसिंहमल्हार,तरनतारन:जिलेके16हजारकेकरीबयुवासरकारीऔरगैरसरकारीकेंद्रोंसेनशाछोड़नेकेलिएईलाजकरवारहेहै।नशेकेखिलाफजागरूककरनेकेलिए26हजार445डेपोवालंटियरतैनातकिएहैं।जिलेमेंकुल10ओटसेंटरहैंऔरसरकारीनशाछुड़ाओसेंटरकेवलदोहै।सिविलअस्पतालपट्टीमेंजनवरी2013मेंनशाछुड़ाओकेंद्रखोलाथा।इसकीअगुवाईमनोरोगकेमाहिरडॉ.खुशविंदरसिंहकररहेहैं।10बैडवालेइससेंटरमें5मरीजईलाजकेलिएदाखिलहैं।जिलास्तरीयकेंद्रमेंयुवाओंकेमनोरंजनकीभीव्यवस्थाहै।गर्मीमेंएसीहाल,सर्दीमेंहीटरकाखासप्रबंधहै।यहांपरयुवाओंकेलिएइंडोरगेम्सकाभीइंतजामहै।मरीजोंकोदिएजानेवालेपौष्टिकआहारकीबकायदाटीमद्वाराजांचकीजातीहै।नशाछोड़नेवालेमरीजकोसेंटरमें15दिनरखाजाताहै।दवाइयां,भोजनमुफ्तमिलताहै।जिलेकेदोनोंनशाछुड़ाओकेंद्रयुवाओंकेलिएवरदानसेकमनहींहै।यहांसेईलाजकरवारहेयुवाओंदौलतराम,केसरसिंह,रामसिंहनेबतायाकिएकवर्षपहलेनशाछोड़नेकेलिएसरकारीकेंद्रोंमेंदाखिलहोनेसेपहलेनामरजिस्टर्डकरानेमेंदोमाहतकइंतजारकरनापड़ताथा,परंतुअबऐसानहींहै।तरनतारनकेंद्रकीइंचार्जडॉ.सिमरदीपकौरकाकहनाहैकिबाहरीजिलोंसेईलाजकरवानेआनेवालेलोगोंमेंअधिकतौरपरवहलोगशामिलहैजोलंबेसमयसेअफीम,पोस्तकानशाकरतेथे।हेरोइनकानशालेनेवालोंमें14से32सालकीआयुवालेअधिकलोगशामिलहै।कईमामलोंमेंबापबेटेएकसाथईलाजकरवारहेहै।ईलाजकरवानेवालोंकीपहचानगुप्तरखीजातीहै।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!