• Home
  • केरल बाढ़ जैसी त्रासदी रोकने को IMD ने विकसित की नई तकनीक

केरल बाढ़ जैसी त्रासदी रोकने को IMD ने विकसित की नई तकनीक

नईदिल्लीकेरलबाढ़जैसीत्रासदीसेबचनेकेलिएनईतकनीकविकसितकीगईहै।भारतीयमौसमविभाग(IMD)केप्रमुखकेजेरमेशनेबतायाकिबारिशसेनदियोंऔरजलाशयोंमेंपानीकेस्तरमेंहुईवृद्धिकाआकलनकरनेकेलिएएकनईतकनीकविकसितकीगईहै।इससेबारिशकेप्रभावकोकरीबसेमॉनिटरकरनेमेंराज्यसरकारोंकोकाफीमददमिलसकतीहै।उन्होंनेबतायाकिइसटेक्नॉलजीकानाम'इम्पैक्टबेस्डफॉरकास्टिंगअप्रोच'है,जोपहलेहीसतर्ककरदेताहै।ऐसेमेंइसतकनीकसेरियलटाइममेंफैसलेलेनेमेंअधिकारियोंकीकाफीमददहोगी।सेंटरफॉरसाइंसऐंडइन्वाइरनमेंटद्वाराआयोजितएकइवेंटमेंरमेशनेकहा,'आगेक्याहोसकताहै,इसकाआकलनकरनाअहमहोताहै।ऐसेमेंहमपानीकोरिलीजकरनेयानकरनेकोलेकरफैसलेलेसकतेहैं।यहहरराज्यप्रशासनकेलिएफैसलेलेनेमेंमददगारहोगा।हमपहलेहीसंभावितअसरकेमद्देनजरसिस्टमरनकरसकतेहैं।हमइसतकनीककीसेवालेनेकीस्थितिमेंपहुंचचुकेहैं।'आपकोबतादेंकिअगस्तमेंकेरलमेंहुईभारीबारिशकेकारण500सेज्यादालोगोंकीमौतहोगईथीऔर40,000करोड़रुपयेसेज्यादाकाआर्थिकनुकसानउठानापड़ाथा।केरलकेमुख्यमंत्रीपी.विजयननेविधानसभामेंकहाथाकिIMDकीतरफसेबारिशकीभविष्यवाणीकोलेकरचूकहुईथी।उन्होंनेकहाकिIMDने9से15अगस्तकेबीचराज्यमें98.5mmबारिशकाअनुमानजतायाथालेकिनकेरलमेंइसदौरान352.2mmबारिशदर्जकीगई।IMDकेमहानिदेशकनेमानाकिकेरलमेंभारीबारिशकेकारणआईबाढ़सेजोनुकसानहुआ,वहजलवायुपरिवर्तनकानतीजाथा।उन्होंनेकहा,'नेचरपत्रिकाकेमुताबिकहरसालचक्रवातआनेकीसंख्या10सेबढ़कर18होगईऔरतेजबारिशकीमात्राजोपहले13दिनकेलिएथीअब10दिनहोगईहै।'रमेशनेकहाकिगर्मसागरखंडोंकेचलतेओखीचक्रवातकेबारेमेंअनुमाननहींलगायाजासका।इसकेबादहीअक्टूबरमेंनईतकनीककोविकसितकियागया।मौसमविभागकेएकअधिकारीनेबतायाकिओखीपिछले40सालोंमेंआयापहलाबड़ाचक्रवातीतूफानहैजिसनेबंगालकीखाड़ीसेलेकरगुजरातकेतटतककरीब2400किमीकासफरतयकिया।CSEकीमहानिदेशकसुनीतानारायणनेकेरलबाढ़जैसीत्रासदीकोरोकनेकेलिएबेहतरजलनिकासीकीयोजनापरबलदिया।नारायणनेकहा,'हरनदी,तालाब,धानकेखेतऔरशहरकाखाकातैयारहोनाचाहिएऔरउनकीहरहालमेंसुरक्षाकीजानीचाहिए।'उन्होंनेआगेकहाकिहरघर,संस्थान,गांवऔरशहरकोबारिशकेपानीकोइकट्ठाकरनाचाहिए,जिससेबारिशकोचैनलाइज्डऔररिचार्ज्डकियाजासके।