• Home
  • केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में पुलिस, कानून व्यवस्था केंद्र के नियंत्रण में होगी

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में पुलिस, कानून व्यवस्था केंद्र के नियंत्रण में होगी

नयीदिल्ली,11अगस्त(भाषा)केंद्रशासितप्रदेशजम्मूकश्मीरमेंकानूनएवंव्यवस्थाऔरपुलिसकानियंत्रणउपराज्यपालकेमाध्यमसेसीधेकेंद्रकेहाथोंमेंरहेगाजबकिभूमिवहांकीनिर्वाचितसरकारकेअधीनएकविषयहोगा।अधिकारियोंनेरविवारकोयहबातकही।राष्ट्रपतिरामनाथकोविंदनेशुक्रवारकोजम्मूकश्मीरकोबांटनेसंबंधीविधेयककोअपनीमंजूरीदेदीथीजिससेदोकेंद्रशासितप्रदेश...जम्मूकश्मीरऔरलद्दाख..31अक्टूबरकोअस्तित्वमेंआएंगे।भूमिकोलेकरअधिकारकेंद्रशासितप्रदेशजम्मूकश्मीरकीनिर्वाचितसरकारकेपासरहेंगे।ऐसादिल्लीकेउलटहोगाजहांभूमिपरनियंत्रणउपराज्यपालदिल्लीविकासप्राधिकरण(डीडीए)केजरियेरखतेहैं।केंद्रशासितप्रदेशजम्मूकश्मीरमेंएकउपराज्यपालहोंगेऔरउसकीविधानसभामेंसीटोंकीसंख्या107होगीजिसेपरिसीमनकवायदसे114तकबढ़ायाजासकताहै।विधानसभाकी24सीटेंखालीरहेंगीक्योंकियेसीटेंपाकिस्तानकेकब्जेवालेकश्मीर(पीओके)मेंपड़तीहैं।दिल्लीऔरपुडुचेरीमेंपुलिसऔरकानूनएवंव्यवस्थाकोउपराज्यपालकेमाध्यमसेसीधेकेंद्रद्वारानियंत्रितकियाजाताहै।दोनोंहीकेंद्रशासितप्रदेशोंमेंअपनीविधानसभाहैं।भूमिपरनियंत्रणसेसंबंधितमामलेजिसमेंभूमिअधिकार,कृषिभूमिकाहस्तांतरण,भूमिसुधारऔरकृषिऋणकेंद्रशासितप्रदेशजम्मूकश्मीरकीनिर्वाचितसरकारकेअंतर्गतहोंगे।आकलनऔरराजस्वसंग्रहणसहितभूमिराजस्व,भूमिरिकार्डरखरखाव,राजस्वउद्देश्यकेलिएसर्वेक्षणऔरराजस्वकाहस्तांतरणभीकेंद्रशासितप्रदेशजम्मूकश्मीरकीनिर्वाचितसरकारकेअधिकारक्षेत्रमेंआएगा।केंद्रशासितप्रदेशलद्दाखमेंपुलिस,कानूनएवंव्यवस्थाऔरभूमिकेमामलेउपराज्यपालकेसीधेनियंत्रणमेंहोंगे,जहांकाप्रशासनकेंद्रउपराज्यपालकेजरियेसंभालेगा।कानूनकेतहतलद्दाखमेंविधानसभानहींहोगी।नवगठितदोनोंकेंद्रशासितप्रदेशनियतदिन31अक्टूबरकोअस्तित्वमेंआएंगे।उसीदिनसेजम्मूकश्मीरउच्चन्यायालयदोनोंकेंद्रशासितप्रदेशोंकेलिएसाझाउच्चन्यायालयहोगा।भारतीयप्रशासनिकसेवा(आईएएस)औरभारतीयपुलिससेवा(आईपीएस)औरभ्रष्टाचारनिरोधकब्यूरो(एसीबी)जैसीअखिलभारतीयसेवाएंउपराज्यपालकेनियंत्रणमेंहोंगीनकिकेंद्रशासितप्रदेशजम्मूकश्मीरकीनिर्वाचितसरकारकेनियंत्रणमें।येसेवाएंऔरएसीबीदोप्रमुखमुद्देहैंजिसकोलेकरअरविंदकेजरीवालनीतदिल्लीसरकारऔरउपराज्यपालकेबीचबारबारटकरावहोतारहाहै।