• Home
  • केंद्र ने क्यों कहा- सरकार को केंद्रीय भूमिका निभाने के लिए 'दिल्ली मॉडल' की हमेशा पड़ेगी जरूरत

केंद्र ने क्यों कहा- सरकार को केंद्रीय भूमिका निभाने के लिए 'दिल्ली मॉडल' की हमेशा पड़ेगी जरूरत

नयीदिल्ली.केंद्रनेउच्चतमन्यायालय(SupremeCourt)सेकहाहैकिदिल्लीदेशकीराजधानीहैऔरराष्ट्रीयराजधानीदिल्लीकेशासनके‘मॉडल’कीजहांतकबातहै,एककेंद्रीयभूमिकानिभानेकेलिएकेंद्रसरकारकोइसकीलगभगहमेशाहीजरूरतपड़ेगी,चाहेक्योंनविधानसभायामंत्रिपरिषदगठितकीजाए.केंद्रसरकारनेशीर्षअदालतसे कहाकिदिल्लीमेंप्रशासनिकसेवाएंकिसकेनियंत्रणमेंरहेंगी,यहविवादास्पदमुद्दासंविधानपीठकेपासभेजाजाए.

केंद्रनेकहा,‘‘मौजूदाअपीलोंमेंशामिलमुद्दोंकामहत्वइसमद्देनजरकाफीअधिकहैकिदिल्लीहमारेदेशकीराजधानीहैऔरराष्ट्रीयराजधानीदिल्लीकेशासनकेमॉडलकीजहांतकबातहै,एककेंद्रीयभूमिकानिभानेकेलिएइसकीलगभगहमेशाहीकेंद्रसरकारकोजरूरतपड़ेगी,भलेहीविधानसभायामंत्रिपरिषदगठितक्योंनकीजाए.’’

शीर्षन्यायालयमेंदाखिलकियेगयेएकलिखितनोटमेंकेंद्रनेकहाकिसंविधानपीठकासंदर्भदेनेवाले2017केआदेशकोपढ़नेसेयहपताचलसकताहैकिअनुच्छेद239एएकेसभीपहलुओंकीव्याख्याकरनेकीजरूरतहोगी.केंद्रनेकहा,‘‘भारतसंघनेविषयकोसंविधानपीठकेपासभेजनेकाअनुरोधकियाथा.’’

राष्ट्रीयराजधानीमेंशक्तियोंपरनियंत्रणसेजुड़ाहैविवाद

केंद्रसरकारनेदलीलदीकिअनुच्छेद239एए(दिल्लीऔरइसकीशक्तियोंसेसंबद्ध)कीव्याख्यातबतकअधूरीरहेगी,जबतककियहसंविधानके69वेंसंशोधनद्वारालायेगयेअनुच्छेद239एएकेसभीपहलुओंकीव्याख्यानहींकरती.शीर्षन्यायालयनेकेंद्रकीइसदलीलपरबृहस्पतिवारकोअपनाआदेशसुरक्षितरखलियाथाकिराष्ट्रीयराजधानीमेंशक्तियोंपरनियंत्रणसेजुड़ाविवादपांचसदस्यीयसंविधानपीठकोभेजीजाए.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:Centralgovt,DelhiGovernment,Delhinews,Supremecourtofindia