• Home
  • जनसंख्या नियंत्रण में महिलाएं पुरुषों पर पड़ रही है भारी

जनसंख्या नियंत्रण में महिलाएं पुरुषों पर पड़ रही है भारी

संवादसूत्र,बरियारपुर(मुंगेर):सरकारजनसंख्यानियंत्रणकोबढ़ावादेनेकेलिएलगातारअभियानचलारहीहै।जनसंख्यानियंत्रणकोलेकरसरकारप्रत्येकप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंगर्भनिरोधकगोली,कंडोमवितरणकेसाथहीनिशुल्कआपरेशनशिविरभीआयोजितकिएजातेहैं।पुरूषनसबंदीकरानेपर3000रुपयेजबकि,महिलाकेबंध्याकरणपरदोहजाररुपयेप्रोत्साहनराशिलाभुकोंकोदेतीहै।प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंहरमहीनेबंध्याकरणकेलिएशिविरकाभीआयोजनकियाजाताहै।बरियारपुरमेंसिमितसंसाधनकेबादभीचिकित्सकइसकामकोकरतेहैं।प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रकेसरकारीआंकड़ेकेअनुसारसाल2018मेंपुरूषनसबंदीएवंमहिलाबंध्याकरणकेआंकड़ेस्पष्टबतातेहैंकिमहिलाओंकीतुलनामेंपुरूषोंकेनसबंदीकरानेकीसंख्याकाफीकमहै।पिछलेसालमात्र06पुरूषोंनेनसबंदीआपरेशनकराया।जबकि,महिलाओंकीसंख्या188रही।जबकि,सरकारीअस्पतालमेंजन्मलेनेवालेबच्चोंकीसंख्या1548रही।बरियारपुरपीएचसीकेचिकित्सकनेकहाकिपुरुषोंमेंनसबंदीकोलेकरकईप्रकारकीभ्रांतियांहैं।पुरुषोंमेंआजभीयहमान्यताहैकिनसबंदीकरानेसेउनमेंकमजोरीआजाएगी।जिसकेबादवेअधिकपरिश्रमवालाकामनहींकरसकेंगे।जबकि,विषेषज्ञचिकित्सकोंकाकहनाहैकियहधारणागलतहै।इससेकामकरनेमेंकोईकमजोरीनहींआतीहै।इससंवंधमेंप्रभारीचिकित्सापदाधिकारीनेबतायाकिकेंद्रद्वारासमयसमयपरपुरूषोंकोनसबंदीकेलिएजागरूककरनेकेलिएअभियानचलायाजाताहै।इसकेबादभीमहिलाओंकीतुलनामेंपुरूषकाफीकमसंख्यामेंआगेआरहेहैं।