• Home
  • जल जीवन हरियाली को जन-जन तक पहुंचाने में दिव्यांग भी पीछे नहीं

जल जीवन हरियाली को जन-जन तक पहुंचाने में दिव्यांग भी पीछे नहीं

बेतिया।सरकारकीमहत्वाकांक्षीयोजनाजलजीवनहरियालीकोजन-जनतकपहुंचानेमेंदिव्यांगभीपीछेनहींहैं।वेइसयोजनाकोमुख्यधारामेशामिलकरनेमेंसशक्तभूमिकानिभानेकीकोशिशशुरूकरदीहैताकिइसयोजनाकोउसहदतकपहुंचादीजाय,जहांसंपूर्णजीवजगतकोराहतमिलसके।यहकामसभीकेसहयोगसेहोगा।इसीकड़ीमेंदिव्यांगोंनेशुक्रवारकोनगरभवनमेंकवितापाठकेमाध्यमसेइसयोजनाकोऔरजीवंतकरनेकीकोशिशकी।दिव्यांगोंकेलिएकवितापाठप्रतियोगिताकाआयोजनअन्तर्राष्ट्रीयदिव्यांगजनदिवसकेअवसरपरसामाजिकसुरक्षाकोषांगसहदिव्यांगजनसशक्तिकरणकोषांगकीओरसेकियागया।नगरभवनमेंआयोजितकार्यक्रममेंनगरपरिषदबेतियाकेकार्यपालकपदाधिकारीविजयउपाध्याय,जिलाआपूर्तिपदाधिकारीअनिलकुमारराय,डीआरडीएनिदेशकराजेशकुमार,अनुमंडलपदाधिकारीविद्यानाथपासवान,आईसीडीएसकीडीपीओडा.निरुपाकुमारी,प्रशिक्षुएसडीसीअरुणकुमार,विनीतकुमार,डीपीओभगवानठाकुरभीमौजूदरहे।प्रतियोगितामेंअव्वलआएदिव्यांगोंकोप्रमाणपत्रवितरितकररहीसामाजिकसुरक्षाकोषांगकीसहायकनिदेशकममताझानेबतायाकिइसप्रतियोगितामें32प्रतिभागियोंनेहिस्सालिया,जिसमेंगौनाहाप्रखंडकेबेलसंडीकेप्रतिभागीयशपालकुमारप्रथम,भैंसहीचनपटियाकेहरिओमकुमारमिश्राद्वितीयस्थानपररहे।जबकिबलथरसिकटाकेसुधीरकुमारकोतृतीयस्थानप्राप्तहुआ।प्रतियोगितामेंनिर्णायककेरुपमेंपूर्णिमाबालाश्रीवास्तव,कुमारीशालिनीएवंबृजेशकुमारमौजूदरहे।बादमेंसभीप्रतिभागियोंकोप्रमाणपत्रवितरितकियागया।जबकिप्रथम,द्वितीयएवंतृतीयस्थानप्राप्तकरनेवालेप्रतिभागियोंकोपुरस्कृतकियागया।