• Home
  • झारखंड में दूर होगा बिजली संकट, आरंभ हुई 200 मेगावाट सौर ऊर्जा की आपूर्ति

झारखंड में दूर होगा बिजली संकट, आरंभ हुई 200 मेगावाट सौर ऊर्जा की आपूर्ति

रांची,राज्यब्यूरो।बिजलीकीकिल्लतझेलरहेझारखंडकेयहखुशखबरीहै।राज्यको200मेगावाटरसौरऊर्जाकीआपूर्तिआरंभहोगईहै।सोलरइनर्जीकारपोरेशनआफइंडिया(सेकी)नेराज्यकोयहआपूर्तिआरंभकीहै।

25वर्षोंतक2.50रुपयेप्रतियूनिटकीदरसेम‍िलेगीब‍िजली

सौरऊर्जागुजरातकेएजुनपावरद्वारादीजारहीहै।झारखंडबिजलीवितरणनिगमऔरसेकीकेसाथदोवर्षपूर्वइसेलेकरसमझौताहुआथा।समझौतेकेअनुसारसेकीझारखंडको700मेगावाटबिजलीअगले25वर्षोंकेलिए2.50रुपयेप्रतियूनिटकीदरसेउपलब्धकराएगा।

ट्रांसमिशनशुल्ककरदियागयाहैमाफ

बिजलीकीआपूर्तिमेंपावरग्रिडकारपोरेशननेट्रांसमिशनशुल्कमाफकरदियागयाहै।इसप्रकारराज्यको25वर्षोंतकट्रांसमिशनशुल्कभीनहींलगेगा।

तीनकंप‍न‍ियोंकाहुआथाचयन

सेकीद्वाराराज्यमेंसौरऊर्जासेउत्पादितबिजलीकेलिएनिविदाजारीहुईथी,इसमेंतीनकंपनियोंकाचयनझारखंडमेंबिजलीआपूर्तिकेलिएकियागया।इसमेंपहलीकंपनीएजुनपावरनेसोमवारसे200मेगावाटबिजलीकीआपूर्तिआरंभकी।

समझौतेकेअनुसारदरमेंनहींहोगाकोईपर‍िवर्तन

राहतकीबातयहहैकिराज्यबिजलीवितरणनिगमऔसतनचाररुपयेप्रतियूनिटकीदरसेबिजलीखरीदताहै,लेकिन25वर्षोंतकसबसेसस्तीदर2.50रुपयेप्रतियूनिटकीदरसेमिलपाएगा।इसदौरानदरमेंभीपरिवर्तननहींहोगा।

झारखंडकोफुललोडकीआपूर्तिहोगी

राज्यबिजलीवितरणनिगमकेअधिकारियोंकेमुताबिकहालकेदिनोंमेंबिजलीकीकमीकासामनाकरनापड़रहाथा।200मेगावाटअतिरिक्तबिजलीमिलनेसेराज्यकोफुललोडकीआपूर्तिहोगी।फिलहालपीकआवरमेंझारखंडमें1500से1700मेगावाटबिजलीकीजरूरतपड़तीहै।डीवीसीकमांडएरियामेंसामान्यदिनोंमें600मेगावाटकीआवश्यकताहै।फिलहालकमांडएरियाकेसातजिलोंमेंडीवीसी300मेगावाटकीकटौतीकररहाहै।