• Home
  • जब तक बिल नहीं, तब तक पानी नहीं

जब तक बिल नहीं, तब तक पानी नहीं

संवादसहयोगी,भरुआसुमेरपुर:पानीकेबिलकीबकाएदारीवसूलनेकेलिएजलनिगमजबनोटिसदेकरथकगयातोअबजलापूर्तिरोकनेकीतैयारीकीहै।करीबएकमाहसेटंकीसेजलापूर्तिठपहोनेसेपत्योरासमेतआसपासके13गांवोंमेंपानीकीकिल्लतहोगईहै।लोगमजबूरनदूसरेगांवोंसेपानीढोकरलारहेहैं।जलनिगमजल्द13गांवोंकेबादअन्यदूसरेगांवोंमेंभीयहीकार्रवाईकरनेजारहाहै।

ग्रामीणोंकोशुद्धपेयजलमुहैयाकरानेकेउद्देश्यसेशासननेपत्योरा,टेढ़ा,कुंडौरा,इंगोहटा,सूरजपुर,बिरखेरा,मवईजार,चंदौलीजार,छानी,देवगांव,सिमनौड़ी,पचखुराबुजुर्ग,सुरौलीबुजुर्गआदिपंचायतोंकेलिएपेयजलटंकीबनाईथी।जलनिगमकीओरसेटंकीसेपानीकीसप्लाईघरोंमेंदीजारहीथी।पिछलेएकदशकसेसंचालितइनपेयजलयोजनाओंकोशासनसेमिलनेवालीआर्थिकमददरोकदीगईहै।इससेइनपेयजलयोजनाओंकेसंचालनमेंसंकटमंडरानेलगाहै।धनराशिनमुहैयाहोनेसेपत्योरापेयजलयोजनापिछलेएकमाहसेठपहै।जलनिगमकेअनुसारइसयोजनासेगांवके250घरोंकोपानीमुहैयाकरायाजातारहाहै।वसूलीनहोनेसेयहयोजनाठपकरदीगईहै।अगलेमाहसेपचखुराबुजुर्ग,सुरौलीबुजुर्ग,चंदौलीजार,पेयजलयोजनाकोठपकरनेकीतैयारीहै।जलापूर्तिठपहोनेसेहैंडपंपोंपरलाइनें

जलापूर्तिबंदहोनेसेचंदहैंडपंपोंकेसहारे13गांवोंकीआबादीनिर्भरहै।इससेसुबहसेहीहैंडपंपपरलोगोंकीलाइनेंलगजातीहैं।वहींदेरशामतकपानीकेलिएहायतौबामचीरहतीहै।कईबारपानीकोलेकरमारपीटकीनौबतआजातीहै।गांवमेंबकाया2.15लाखरुपयेजलशुल्क

जलनिगमकेअवरअभियंतानीरजकरपात्रीनेबतायाकि860रुपयेप्रतिवर्षकेहिसाबसेगांवके250कनेक्शनधारकोंपर2.15लाखरुपयेबकायाहै।वसूलीनहोपानेसेयोजनासंचालितकरानामुश्किलहोरहाहै।कर्मचारियोंकावेतन,बिजलीकाबिलआदिकाखर्चअबउपभोक्तासेमिलनेवालीधनराशिसेहीदियाजानाहै।यदिवहवसूलीमेंसहयोगनहींदेंगेतोउन्हेंपानीदेनामुश्किलहोगा।उन्होंनेबतायाकिवहसभीउपभोक्ताओंकोबकायाकानोटिसभेजदियाहै।निरीक्षणकरचालूकराएंगेआपूर्ति

पेयजलयोजनाओंकेनोडलअधिकारीडीडीओविकासकुमारनेबतायाकियोजनाकासंचालनठपकरनेकेकोईनिर्देशनहींहै।यदिबकाएदारधनराशिजमानहींकररहातोउसकाकनेक्शनकाटाजासकताहै।उसपरनियमानुसारकार्रवाईकीजासकतीहै।कहाकिनिरीक्षणकरयोजनाकाजल्दसंचालनकरायाजाएगा।