• Home
  • जानिए किन वजहों से बारिश में हो रही देरी, वैज्ञानिकों ने खोज के बाद क्या बताया इसके पीछे कारण

जानिए किन वजहों से बारिश में हो रही देरी, वैज्ञानिकों ने खोज के बाद क्या बताया इसके पीछे कारण

नईदिल्ली,[संजीवगुप्ता]।WeatherUpdate-एनसीआरहीनहीं,देशमेंकईराज्यऐसेहैंजहांअभीतकमानसूनकीबारिशकीएकबूंदभीनहींटपकी।जबकि,अंदाजालगायागयाथाकिइनइलाकोंमेंमानसूनसमयसेपूर्वपहुंचजाएगा।शोधकर्ताओंकीमानेंतोग्रीनहाउसगैसोंमेंवृद्धिऔरमानवजनितएरोसोलमेंकमीसेमौसमचक्रआगेखिसकरहाहै।इससंबंधमेंअमेरिकीऊर्जाविभागकीप्रशांतनार्थवेस्टनेशनललेबोरेटरीकेशोधकर्ताओंकेनेतृत्वकिएएकविस्तृतअध्ययनकियागयाहै।

इसअध्ययनकेमुताबिक1979से2019तककेग्रीनहाउसगैसोंमेंवृद्धिऔरमानवजनितएरोसोलमेंकमीनेमौसममेंकईदिनोंकीदेरीकीहै।इसीकेचलतेऊष्णकटिबंधीयइलाकोंमेंबारिशहोनेमेंभीदेरीहोरहीहै।सेंटरफारसाइंसएंडएन्वायरमेंट(सीएसई)कीशोधपत्रिकाडाउनटूअर्थमेंप्रकाशितइसअध्ययनसेपताचलताहैकिमानसूनकीबारिशकीशुरुआतकोजलवायुमाडलद्वाराभविष्यमेंबढ़नेवालेतापमानकेसाथजोड़ागयाहै।बारिशमेंदेरीतेजीसेनमहोतेवातावरणकेकारणहोतीहै।जैसेहीग्रीनहाउसगैसेंपृथ्वीकीसतहकोगर्मकरतीहैं,अधिकजलवाष्पवायुमंडलमेंअपनारास्ताबनाताहै।यहअतिरिक्तनमीवातावरणकोगर्मकरनेकेलिएआवश्यकऊर्जाकीमात्राकोबढ़ादेतीहैजिससेबारिशकेमौसमकासमयबदलसकताहै।

अध्ययनकेअनुसार,वायुगुणवत्तामेंसुधारकेप्रयासोंसेएरोसोलसांद्रतामेंगिरावटजारीहै।ठंडेकरनेकावहप्रभावनष्टहोगयाहै,जोहालकेदशकोंमेंतापमानबढ़नेऔरमानसूनकीवर्षामेंदेरीदोनोंकोबढ़ाताहै।अध्ययनकेअनुसार,भारतजैसादेशजोकृषिकेलिएमानसूनीबारिशपरअधिकनिर्भररहताहै,वहांगर्मीमेंहोनेवालीबारिशअगरदेरीसेहोतीहैतोफसलकीउपजइससेतबाहहोसकतीहैऔरबड़ीआबादीकीआजीविकाखतरेमेंपड़सकतीहै।जबतककिसानअत्यधिकबदलावकेबीचलंबेसमयमेंहोनेवालेपरिवर्तनोंकीपहचाननहींकरपातेऔरउसकेअनुसारनहींढलते,यहखतराबनारहेगा।

अध्ययनबताताहैकिऊष्णकटिबंधीयइलाकोंमेंहवाकीगतिबहुततेजहोतीहै।वहांसौरविकिरणसबसेमजबूतहोताहै।जैसे-जैसेऋतुएंबदलतीहैंऔरसूर्यगोलाद्र्धोंकेबीचप्रवासकरताहै,वर्षाबैंडयारेनबैंडकीगतिबदलजातीहै।जबवर्षारूपीबैंडभूमिपरपहुंचताहैतोयहमानसूनकेमौसमकीशुरुआतकाप्रतीकमानाजाताहै।ऊष्णकटिबंधीयजंगलों,उनकेभीतरऔरआसपासरहनेवालीबड़ीआबादीकेलिएपर्याप्तपानीकीआपूर्तिभीयहीकरताहै।वर्षाबैंडएकअतिरिक्तऊष्णकटिबंधीयचक्रवातमेंबड़ीमात्रामेंबारिशयाहिमपातभीकरासकतेहैं।

क्याहैऊष्णकटिबंध

ऊष्णकटिबंधदुनियाकावहतापकटिबंधहैजोउत्तरमेंकर्करेखाऔरदक्षिणमेंमकररेखाकेबीचभूमध्यरेखाकेआसपासस्थितहै।यहपृथ्वीकासबसेगर्मक्षेत्रहै,क्योंकिपृथ्वीकेअक्षीयझुकावकेकारणसूर्यकीअधिकतमऊष्माभूमध्यरेखाऔरउसकेआस-पासकेइलाकेपरकेंद्रितहोतीहै।

मानवजनितएरोसोलजरूरी

मानवजनितएरोसोल,जैसेजीवाश्मईंधनकेजलनेसेउत्पन्नहोनेवालेकण,सूर्यकेप्रकाशकोप्रति¨बबितकरतेहैं।येवातावरणकोठंडाकरतेहैंऔरग्रीनहाउसगैसोंकेकारणहोनेवालीगर्मीकोकमकरतेहैं।

KisanAndolan:विपक्षीदलोंकेसांसदोंकोचेतावनीपत्रदेगासंयुक्तकिसानमोर्चा,संसदभवनपरप्रदर्शनकाएलान

वैज्ञानिककाबयान

इसमेंकोईदोरायनहींकिग्रीनहाउसगैसेंऔरमानवजनितएरोसोलहमारीजलवायुकोप्रभावितकरतेहैं।इनकाअसरतापमान,बारिशऔरमौसमचक्रसभीपरपड़रहाहै।इसीलिएइसदिशामेंतमामअध्ययनऔरप्रयासजारीहैं।हमाराप्रयासऐसाहोनाचाहिएजिससेवायुप्रदूषणतोकमहो,लेकिनजलवायुपरिवर्तनकोगतिभीनमिले।

-प्रो.एसएनत्रिपाठी,अध्यक्ष,सेंटरफारएनवायरमेंटलसाइंसएवंइंजीनियरिंग,आइआइटीकानपुर

येभीपढ़ें-पहलवानोंकीडाइटकेबादपहलवानसुशीलकुमारनेतिहाड़जेलप्रशासनसेमांगीयेनईचीज

एकईरानीमहिलादिल्लीपुलिसकेलिएबनीहुईहैसिरदर्द,जानिएक्याहैउसकाकारनामा

PetrolandDieselPriceToday:बढ़ताहीजारहापेट्रोलऔरडीजलकादाम,जानिएचारमहानगरोंमेंआजकारेट