• Home
  • हुक्मरानों कुछ ख्याल करो, उम्मीद लगाए हैं आंखें

हुक्मरानों कुछ ख्याल करो, उम्मीद लगाए हैं आंखें

जेएनएन,मुजफ्फरनगर।हरहवेलीकेलिएतुमनेउठाएपत्थर,क्यावजहहैकितुझेछतहासिलनहींहोती,दानिशजमालकीलिखीयहपंक्तियांखतौलीब्लाकक्षेत्रमेंप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकेहश्रऔरहकीकतकोसचसाबितकरतींहैं।गरीबजोभूखकीदहलीजपररोटीकेलिएपसीनाबहातेहैं,वेएकअददछतकेलिएमोहताजहैं।

विकासखंडक्षेत्रकेकैलावड़ागांवकीसुनीताकीपीड़ापहाड़सीहै।उसकासपनाथाकिएकघरबनजाए,लेकिनआवासनसीबनहींहुआ।सुनीताविकलांगहै,जबकिपतिटीबीकामरीजहै।यहींपीड़ासुमनकीभीहै।बरसातमेंउसकाकच्चामकानगिरगयाथा।सुमनपरिवारकेसाथझोपड़ीमेंरहरहीहै।उसेभीआवासकालाभनहींमिलाहै।उसकापतिराजवीरमजदूरीकरताहै।गांवकीमिथलेशकोभीआवासनहींमिलनेकादंशझेलनापड़रहाहै।उनकेअरमानआंसूबनकरछतकेलिएटपकरहेहैं।येतीनोंपरिवारपात्रताकीसूत्रीमेंहैं,लेकिनलाखकोशिशोंकेबादभीआवासनिर्माणनहींहोसकाहै।

यहहैआवासनिर्माणकानियम

किसीगांव,बस्तीमेंअनुसूचित,अल्पसंख्यकवर्गकीतलाशहोतीहै।जांचकेबादउनकानामप्रतीक्षासूचीमेंरखाजाताहै।योजनामेंशामिलकरमकानकानिर्माणकरायाजाताहै।वहीं,ब्लाककार्यालयसेपीएमआवासयोजनाकेलिए282कीसूचीगईथीं,लेकिन82बनेहैं।कैलावड़ाकलांप्रधानमंत्रीआवासयोजनामेंएकभीमकाननहींआयाहै,जबकितीनपरिवारपात्रतारखतेहैं।

येतीनोंपरिवारपात्रताकीसूचीमेंहै।उनकानामप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकीसूचीमेंभेजागयाहै।अभीआवासयोजनाकीपात्रतासूचीमेंअनुसूचितवर्गकेनामआएहैं।उनकानामआनेपरयोजनातहतसेउनकेआवासबनवाएजाएगे।

-दीपकध्रुव,ग्रामपंचायतसचिव

कैलावड़ागांवमेंतीनपरिवारोंकोप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकालाभनहींमिलनेकामामलाउनकेसंज्ञानमेंनहींहै।यदियेलोगप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकेपात्रहैंतोउनकोयोजनाअंतर्गतआवासदिलवानेकाप्रयासकियाजाएगा।

-आरतीयादव,तहसीलदारखतौली