• Home
  • HSSC- तस्वीरों में ग्रुप डी परीक्षा, जनेऊ और मंगलसूत्र तक उतरवा दिए

HSSC- तस्वीरों में ग्रुप डी परीक्षा, जनेऊ और मंगलसूत्र तक उतरवा दिए

जेएनएन,पानीपत: महिलाओंकेगलेसेमंगलसूत्रउतारेजारहेथेतोपुरुषोंकाजनेऊऔरकलावातकखुलवालियागया।देखनेवालोंमेंहजारोंकीसंख्यामेंलोगमौजूदथे।लेकिनबेरोजगारीकेआगेसभीबेबसथे।पढि़एदैनिकजागरणकीयेखबर।साथहीदेखिए,हरतस्वीर।

हरियाणास्टाफसिलेक्शनकमीशनकीओरसेग्रुप-डीकीपरीक्षाशुरूहोचुकीहै।पानीपतमेंपरीक्षाकेपहलेदिनसुबहकासत्रशांतिपूर्वकहुआ।पहलेसत्रमें20186अभ्यर्थीमेंसेकरीब20हजारअभ्यर्थीपरीक्षामेंबैठे।प्रशासनऔरपुलिसअधिकारीइसदौरानचौकसरहे।सुबहकेवक्तशहरमेंकहींपरभीजामनहींलगसका।

सातबजेसेजुटनेलगीथीभीड़अभ्यर्थीशनिवारसुबहकरीब7बजेहीपरीक्षाकेंद्रोंपरपहुंचनाशुरूहोगए।पुलिसनेहरअभ्यर्थीकोबारीकीसेजांचपड़तालकरअंदरदाखिलहोनेदिया।कईअभ्यर्थीअपनेसाथलाएबैगवअन्यसामानकोआसपासकीदुकानोंपररखकरकेंद्रमेंदाखिलहुए।सुबहनौबजेतकअधिकतरअभ्यर्थीकेंद्रमेंदाखिलकरादिएगए।

सुरक्षाकर्मीकोअपनासामानसौंपतेअभ्यर्थी।

पानीपतमें47तोसमालखामें25परीक्षाकेंद्रइसकेबादअंदरउनकेथमइंप्रेशनलेनेकीप्रक्रियाचली।निर्धारितसमय10:30बजेपरीक्षाशुरूकरादीगई।अभ्यर्थियोंकेसाथआएपरिवारकेसदस्यकेंद्रकेआसपासबैठकरसमयबितानेलगे।कमीशननेपानीपतशहरमें47औरसमालखामें25परीक्षाकेंद्रबनाएहैं।

परीक्षादेनेआएअभ्यर्थीकोकपड़ेउतारकर जनेऊतकउतारनापड़ा।

होनापड़ाशर्मसारग्रुपडीकीपरीक्षादेनेआएअभ्यर्थीकोशर्मसारहोनापड़ा।नियमोंकाहवालादेतेहुएअभ्यार्थीदीपककुमारकोजनेऊउतारनेकेलिएकहागया।सभीकेसामनेकपड़ेउतारकरदीपकनेजनेऊनिकाला।वहींनरवानाकीपिंकीसहितकईमहिलाओंकेमंगलसूत्रनिकलवायागया।अधिकारियोंनेकहावहनियमोंमेंबंधे।परीक्षाकोलेकर शहरमेंस्थापितकिएगए67परीक्षाकेंद्र।

परीक्षाकेंद्रकेबाहरपड़ेकलावाऔर जनेऊ ।

येभीजानेंकुरुक्षेत्रमेंदोसत्रोंमेंपरीक्षाकेपहलेदिन14हजार244बच्चे51केंद्रबनाएगए।वहींकैथलमें35शिक्षणसंस्थानोंमें43केंद्रोंपर22हजार996उम्मीदवारोंकीतैयारीकीगई।

परीक्षाकेंद्रकेबाहरलिस्टमेंनामचेककरतेअभ्यर्थी।

अंबालामें92परीक्षाकेंद्रयमुनानगर68केंद्रोंमें44हजारअभ्यर्थियोंकेलिएव्यवस्थाहै।अंबालामें92परीक्षाकेंद्रोंपर25हजारअभ्यर्थीपहुंचे।

पानीपतजीटीरोडमेंलगाजाम।

जामसेयातायातबेहालपरीक्षाकेचलतेजीटीरोडपरजामलगगया।सुबहशहरवासियोंऔरबाहरकेलोगोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़ा।जीटीरोडमेंजामलगनेसेपरीक्षाकेंद्रमेंपहुंचनेकेलिएअभ्यर्थियोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़ा।

परीक्षाकेंद्रकेपासरखेबैग।

इनकीतोबल्ले-बल्लेपरीक्षाकेंद्रोंकेआसपासदुकानदारोंकीबल्‍लेबल्‍लेरही।अभ्यर्थियोंकेबैगरखनेकेलिएउन्होंनेबकायदाशुल्कतकवसूला।पानीपतमेंएसडीवीएमस्कूलकेपासअभ्यर्थियोंसे30-30रुपयेतकलिएगए।वहींगहनेरखनेकेलिएभीअच्छीखासीफीसलीगई।

सासनेसंभालाबच्‍चा।पतिऔरसाससंभालरहेबच्चापरीक्षाचंडीगढ़निवासीनीतूकीहै,लेकिनटेंशनमेंउसकेपतिसुमितदिखरहेहैं।यहीहालझज्जरनिवासीइंदूकेपतिरवींद्र,भिवानीनिवासीपूजाकेपतिरविकाभीहै।छोटेबच्चेकोमांकेबिनासंभालनाकुछमिनटभीमुश्किलहोजाताहै।अबऐसेमेंअगरअकेलेपिताकोदोघंटेतकबच्चोंकोसंभालनापड़ेतोसिरमेंदर्दतोहोगाही।इसीतरहसासभीबच्‍चोंकोसंभालरहीहैं,ताकिबहूनौकरीलगजाए।

परीक्षाकेंद्रपरपहुंचीदिव्‍यांग।

चेकिंगदिव्‍यांगोंकीभीहुईदिव्‍यांगोंकोभ्‍ाीपूरीचेकिंगकेबादहीजानेदियागया।दूसरीतरफ,जींदनिवासीप्रीतिऔरउनकेपतिदोनोंकीपरीक्षाएकहीदिनआगई।कर्मचारीचयनआयोगनेपतिकापरीक्षाकेंद्रफरीदाबाददेदियाऔरप्रीतिकाकुरुक्षेत्र।ऐसेमेंनन्हेंबच्चेकोसंभालनेकेलिएप्रीतिकीमाताकांतादेवीजींदसेउनकेसाथआई।

पत्‍नीगईथीपरीक्षादेने,पतिनेसंभ्‍ाालाबच्‍चा।पतिबोले,पत्‍नीकीनौकरीलगजाएकांतारानीनेबतायाकिउन्हेंखुशीहैकिउनकीबेटीपरीक्षाकीतैयारीकरकेसरकारीनौकरीकेलिएआवेदनकियाऔरवेचाहतीहैकिवहइसपरीक्षामेंचयनितहोजाए।कांतानेबतायाकिप्रीतिकेपतिकीपरीक्षाफरीदाबादमेंहै।कुरुक्षेत्रमेंपतिनेकहाकिवहबच्‍चेकोसंभालरहेहैं।यहतोअच्‍छीबातहै।उनकीपत्‍नीकीनौकरीलगजाएबस।

इसतरहझेलनीपड़ीमुसीबत।

बालीउतारनेमेंहुईतकलीफनाकऔरकानकीबालीउतारनेमेंसबसेज्‍यादातकलीफहुई।जिनमहिलाओंनेवर्षोंसेबालीकोनहींनिकालाथा,उन्‍हेंसबसेज्‍यादापरेशानीहुई।कहींपतिबालीऔरकोकाउतरवानेमेंमददकररहेथे,तोकहींसेंटरकेबाहरमहिलापुलिसनेमददकी।