• Home
  • Exclusive: आखिर मानसून में हर साल क्यों डूब जाती है मुंबई?

Exclusive: आखिर मानसून में हर साल क्यों डूब जाती है मुंबई?

MumbaiRain:सबसेपहलीबातयेकिमानसूनभौगौलिकतौरपरमहाराष्ट्रकेतटवर्तीकोंकणइलाकेमेंआताहै.इसइलाकेमेंमहाराष्ट्रकेदूसरेहिस्सोंसेज्यादाहीबारिशहरसालहोतीहै.मुंबईमेंहरसालऔसत2514मिलीमीटरबारिशहोतीहै.समंदरकीहाईटाईड- क्योंकिमुंबईअरबसागरकेकिनारेबसीहै,इसलियेइसमेंसमंदरभीअपनीभूमिकानिभाताहै.वैसेतोसमंदरमेंरोजानाज्वारऔरभाटाआताहै.लेकिनजबज्वारयानीकिहाईटाईडसाढे4मीटरसेऊपरकीहोतोवोमुंबईकेलिएमुसीबतकासंकेतहै.

भारीबारिशऔरहाईटाईडकामेलमुंबईकोठपकरदेताहैक्योंकिहाईटाईडकीवजहसेमुंबईकीसड़कोंपरजमापानीसमुद्रमेंनहींजापाताऔरउलटासमुद्रकापानीशहरमेंघुसताहै.जलनिकासीनहोपानेकीवजहसेसड़कोंपरकईफुटतकपानीजमाहोजाताहै.

कुदरतकेसाथखिलवाड़- मुंबईकेबाढ़ग्रस्तहोनेकाएककारणमीठीनदीहै.मुंबईशहरकेबीचोंबीचसेएकनदीहोकरगुजरतीहैजिसकानाममीठीनदीहै.लेकिनउससेमुंबईवालोंकोकड़वेअनुभवमिलतेहैं. येनदीमुंबईकेपवईऔरविहारतालाबसेनिकलतीहैऔरमाहिममेंजाकरअरबसागरसेमिलजातीहै.

तटकेदोनोंओरअतिक्रमणहोनेकेकारणनदीकाप्रवाहकाफीसंकराहोगयाहै.प्रदूषणऔरकचरेनेनदीकीगहराईभीकमकीहै.नदीनेनालेकीशक्ललेलीहै.भारीबारिशहोनेपरइसनदीमेंबाढ़आजातीहैऔरपानीआसपासकेएकबड़ेइलाकेकोअपनीचपेटमेंलेलेताहै.

बाबाआदमजमानेकासिस्टम- अंग्रेजोंनेजबभारतछोड़ा,उसकेबादसेमुंबईशहरकाकाफीविस्तारहुआहै,लेकिनशहरकीबढ़तीआबादीकेसाथजलनिकासीसिस्टमजसकातसतसरहा.ऐसेमेंजबइससिस्टममेंक्षमतासेज्यादादबावआजाताहैजोकिवोझेलनहींपाताऔरशहर मेंहरजगहपानीहीनज़र आताहै.

भ्रष्टाचार- हरसालबीएमसीबजटकाकरीब3फीसदीहिस्सास्ट्रोमवाटरनिकासीकेलियेहोताहै.900करोडरूपयेकेआसपासबीएमसीइसखर्चकेलियेरखतीहैकिबारिशमेंशहरनडूबे.लेकिनशहरफिरभीडूबताहै.आखिरक्यों?इसकेपीछेकारणभ्रष्टाचारहै.भ्रष्टाचारकीवजहसेयेरकमभीबारिशकेपानीकीतरहबहजातीहै.साल2017मेंसीएजीनेअपनीरिपोर्टमेंवित्तीयलेनदेनकेदौरानगड़बड़ीकाआरोपलगाया.आरोपयेलगाकिमुंबईमहानगरापालिकाकीओरसेसीवेजमैनेजमेंटकेठेकदारोंकोगैरकानूनीतरीकेसेफायदापहुंचायागया.

अबठेकेदारोंकोफायदापहुंचेगातोवेकिसेफायदापहुंचायेंगेइसेबखूबीसमझाजासकताहै.जमीनीतौरपरयेबातनजरआतीहैकिजिनलोगोंकोनालेसफाईकेलियेठेकादियाजाताहैउनमेंसेसभीठेकेदारअपनाकामईमानदारीसेनहींकरते.येउसीकानतीजाहैकिनालेओवरफ्लोहोनेलगजातेहैंऔरसड़केंनदियांबननेलगजातींहैं.मुंबईकोडुबानेमेंभ्रष्टाचारकीभीबड़ीभूमिकारहतीहै.

बातमुंबईकीबारिशकीहोतो26जुलाई2005कीप्रलयकारीबारिशकाजिक्रहोनाजरूरीहै.उसदिनकालेबादलमुंबईमेंकयामतलेआयेथे.24घंटोंकेभीतर944मिलीमीटरकीबारिशपूरेशहरमेंहोगईथी.एकहजारसेज्यादालोगोंकोअपनीजानगंवानीपड़ी.मुंबईमेंयातायातकाहरमाध्यमथमगयाथा.सड़कें,रेल,हवाईजहाजसभीबंदहोगयेथे.मुंबईकासंपर्कपूरीदुनियासेकटचुकाथा.आजभीतेजबारिशमुंबईवालोंको26जुलाईकेउसकालेदिनकीयाददिलादेतीहै.

मुंबईमे2000किलोमीटरकेकरीबखुलेनालेहैं,440किलोमीटरकेढंकेहुएनालेहैंऔर186आउटफॉलहैं,जहांसेबारिशकेकारणजमाहुआपानीसमंदरमेंगिरताहै.26जुलाई2005कीबारिशकेबादड्रेनेजसिस्टमकाकायाकल्पकरनेकेलियेब्रिमस्टॉवेडनामकेप्रोजेक्टकीशुरुआतकीगई.लेकिनआजभीइसप्रोजेक्टकाकामपूरानहींहुआहैऔरमुंबईअबभीडूबरहीहै.इसप्रोजेक्टकेतहत6पंपिंगस्टेशनबनायेगएलेकिनभारीबारिशकेवक्तयेनाकामसाबितहुएहैं.

शहरकीइसहालतकेलियेविपक्षीपार्टियांशिवसेनापरनिशानासाधरहीहैं,जोकि1996सेलगातारमुंबईमहानगरपालिकाकीसत्तामेंहै.तबसेलेकरअबतकशिवसेनातीनबारमहाराष्ट्रकीसत्तामेंभीआचुकीहै,लेकिनमानसूनमेंमुंबईकीसूरतनहींबदलती.जलजमावकेअलावाबारिशकेदौरानसड़कोंपरउभरआनेवालेगड्ढोंकोलेकरभीशिवसेनाविपक्षकेनिशानेपररहतीहै.

इसतरहसेमुंबईअपनीभौगौलिकस्थिति,समुद्रमेंउठनेवालेज्वार-भाटे,कुदरतकेसाथखिलवाड़औरभ्रष्टाचारकेकारणहरसालडूबजातीहै.मुंबईमेंबारिशकीजोतस्वीरेंआपसालोंसालसेदेखतेआएहैं,जोइसबारदेखरहेहैं.बहुतमुमकिनहैकिवोअगलेसालभीदिखाईदेंगी.

दिल्लीमेंभीकांवड़यात्रापरलगीरोक,कोरोनाकीवजहसेहुआफैसला