• Home
  • Door to Door Ration Scheme: दिल्ली को एनएफएसए से अलग योजना के लिए केंद्र सरकार अतिरिक्त अनाज देने को तैयार

Door to Door Ration Scheme: दिल्ली को एनएफएसए से अलग योजना के लिए केंद्र सरकार अतिरिक्त अनाज देने को तैयार

नईदिल्ली,जागरणब्यूरो।दिल्लीसरकारनेघर-घरराशनयोजनाकोलेकरकेंद्रसरकारपरआरोपतोलगादियाहैलेकिनसच्चाईयहहैकिराज्यचाहेतोयोजनाशुरूकरसकताहै।शर्तसिर्फइतनीहैकिइसकेलिएदिल्लीसरकारकोअधिसूचितकीमतपरअनाजखरीदनाहोगा।केंद्रसरकारकाकहनाहैकिवर्तमानएनएफएसए(राष्ट्रीयखाद्यसुरक्षाकानून)मेंकोईबदलावसंभवनहींहै।वहसंसदसेपारितकानूनकेहिसाबसेहरराज्यकेलिएएकसमानहै।उसमेंनिगरानीऔरपारदर्शिताकातंत्रजरूरीहै।

गेंदअबदिल्लीसरकारकेपालेमें,लेकिनयहअनाजमहंगाहोगा

अगरदिल्लीसरकारचाहेतोकेंद्रउसेअधिसूचितकीमतपरजितनीचाहेअनाजदेसकताहै।फिरवहकिसीभीनामसेकितनाभीराशनबांटसकतीहै।दरअसलपीडीएसस्कीमकेतहतजोअनाजराज्योंकोमिलताहैवहदोतीनरुपयेकेहिसाबहोताहै।जबकिअधिसूचितकीमतइससेकाफीज्यादाहोतीहै।कईबारकुछराज्यइसकीमतपरकेंद्रसेअनाजकीखरीदकरतेभीहैं।केंद्रनेदिल्लीकोइसीकीयाददिलादी।साथहीदिल्लीकीसार्वजनिकवितरणप्रणालीसेपारदर्शिताऔरनिगरानीतंत्रगायबहोनेकीबातभीदोहरादी।

राजधानीमेंराशनवितरणमेंनहींहोरहाई-पासमशीनेंकाप्रयोग

दिल्लीमेंवर्ष2018सेहीराज्यकी2000रियायतीदरकीदुकानोंसेई-पासमशीनकोलगानेकाआग्रहकियागया।बार-बारआग्रहकेबाददुकानोंमेंमशीनेंलगातोदीगईलेकिनउन्हेंसंचालितनहींकियाजारहाहै।दिल्लीकेएकभीराशनउपभोक्ताकोआजतकआधारनंबरसेनहींजोड़ागया।जबकिदेशके95फीसदउपभोक्ताआधारसेजुड़चुकेहैं।'वननेशन-वनराशनकार्ड'योजनालागूनकरनेकीवजहसेराजधानीदिल्लीमेंरहनेवालेलाखोंप्रवासीमजदूरोंकोउनकेहककाराशननहींमिलपारहाहै।जबकियहयोजनापूरेदेशमेंलागूहोचुकीहै।इसकालाभलेकरप्रवासीमजदूरकिसीभीराज्यराशनलेसकतेहैं।

दिल्लीमेंई-पासमशीनोंकाउपयोगनकरनेसेराशनप्रणालीकीरीयलटाइमनिगरानीकरनासंभवनहींहोपारहाहै।जबकिदेशकेसुदूरमेंबसेपूर्वोत्तरकेराज्यअरुणाचल,प्रदेश,मेघालय,मिजोरम,नगालैंडऔरत्रिपुराकीरियायतदरकीसौफीसदराशनदुकानोंपरई-पासमशीनेंकामकररहीहैं।वहांकीराशनप्रणालीपारदर्शिताकेसाथचलरहीहै।इससेकेंद्रसरकारकोराष्ट्रीयस्तरपरएनएफएसएमेंखाद्यान्नवितरणकीरीयलटाइमनिगरानीकरनेमेंसहूलियतहोरहीहै।

प्रवासीमजदूरोंकोनहींमिलरहा'वननेशन,वनराशनकार्ड'कालाभ

राष्ट्रीयखाद्यसुरक्षाकानून(एनएफएसए)केप्रविधानोंकेतहतचलाईजारहीराशनप्रणालीमेंराष्ट्रीयस्तरपरएकरूपताहै।लेकिनदिल्लीमेंयोजनामेंघालमेलकरनेकीकोशिशपरकेंद्रनेकड़ीआपत्तिजतातेहुएकहाकियहकानूनसंसदसेपारितहै,जिसमेंकिसीभीतरहकासंशोधनसंभवनहींहै।

दिल्लीराज्यनेराष्ट्रीयखाद्यसुरक्षाकानून(एनएफएसए)केतहतमईमेंकुल37,400टनअनाजकाउठानकियाहै,जिसका90फीसदहिस्सावितरितकियाजाचुकाहै।जबकिप्रधानमंत्रीगरीबकल्याणअन्नयोजनाकेतहतदिल्लीनेमईऔरजूनकेलिए63,299टनराशनकाउठानकरलिया।यहउसकेहिस्सेकेकुलआवंटनका176फीसदहै।गरीबोंकेइसअनाजकाकुल73फीसदअबतकवितरितकियागयाहै।