• Home
  • दिल्ली सरकार के संशोधित कोविड-19 प्रतिक्रिया योजना के लिए टीमों का गठन शुरू

दिल्ली सरकार के संशोधित कोविड-19 प्रतिक्रिया योजना के लिए टीमों का गठन शुरू

नयीदिल्ली,25जून(भाषा)दिल्लीसरकारकीसंशोधितकोविड-19प्रतिक्रियायोजनाकोलागूकरनेकेलिएबृहस्पतिवारकोविभिन्नविभागोंकेकर्मचारियोंकोमिलाकरटीमोंकागठनशुरूहोगया।इसयोजनामेंअन्यउपायोंकेसाथ-साथघर-घरजाकरकोरोनावायरससंक्रमितोंकापतालगानाशामिलहै।दिल्लीसरकारद्वाराजारीआठसूत्रीयसंशोधितकोविड-19प्रतिक्रियायोजनामेंछहजुलाईतकघर-घरजाकरसंभावितसंक्रमितकापतालगाना,घनीआबादीवालेइलाकेमेंपाएजानेवालेसंक्रमितोंकोकोविड-19देखरेखकेंद्रमेंभर्तीकराना,निषिद्धक्षेत्रमेंलोगोंकीआवाजाहीकीनिगरानीकरनेकेलिएसीसीटीवीकैमरेलगानायाड्रोनकीतैनातीकरनाशामिलहै।संशोधितयोजनाकेतहत30जूनतकनिषिद्धक्षेत्रमेंघर-घरजाकरसर्वेक्षणकाकामपूराकियाजाएगाऔरछहजुलाईतकपूरीदिल्लीमेंसर्वेक्षणकाकार्यपूराकियाजानाहै।जिलास्तरकेअधिकारियोंनेबतायाकिसर्वेक्षणकाकार्यकरनेकेलिएटीमकागठनकियाजारहाहै।इनमेंबूथस्तरकेअधिकारी,नागरिकसुरक्षास्वयंसेवक,आंगनवाड़ीकार्यकर्ताऔरनगरनिकायआदिकेकर्मचारीहोंगे।जिलाधिकारीनेकहा,‘‘कामकठिनहैलेकिनअंतिमतारीखतकसर्वेक्षणकरनेकेलिएजरूरीसंख्यामेंकर्मचारियोंकोदेनेकाअनुरोधकियागयाहै।’’एकवरिष्ठअधिकारीनेबतायाकिटीमकीसंख्याप्रत्येकजिलेमेंमौजूदघरोंऔरजरूरतोंपरआधारितहोगी।उन्होंनेकहा,‘‘हमारेपासबूथस्तरअधिकारीऔरनगरनिगममेंकार्यरतकर्मचारीहैजोलंबेसमयसेघर-घरजाकरसर्वेक्षणकरतेरहेहैं,ऐसेमेंहरघरमेंजाकरजांचकरनेकीप्रक्रियाबिनाकिसीबाधाकेपूरीकरलीजाएगी।’’उल्लेखनीयहैकि27जूनकोसर्वेक्षणकाकार्यशुरूहोगाऔरछहजुलाईकोसमाप्तहोगा।प्रत्येकसर्वेक्षणटीममेंदो-तीनसदस्यहोंगेऔरएकदिनमें40से50घरोंकासर्वेक्षणकरेंगेऔरइसतरहपूरेजिलेमेंसर्वेक्षणकाकार्य10दिनोंमेंसंपन्नहोगा।अधिकारियोंनेबतायाकिप्रत्येकजिलेमेंघरोंकीसंख्याअलग-अलगहै।दिल्लीमेंकरीब45लाखघरहैंऔरछहजुलाईतकसर्वेक्षणकार्यकोपूराकरनेकेलिएप्रत्येकजिलेमेंकरीब1000टीमबनायीजाएंगी।केंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाहद्वाररविवारकोउच्चस्तरीयबैठकमेंदिल्लीमेंसंक्रमितोंकेसंपर्कमेंआएलोगोंकोपृथकवासमेंरखनेऔरनिषिद्धक्षेत्रनयेसिरेसेतयकरनेकीअनुशंसाकीगईताकिराष्ट्रीयराजधानीमेंतेजीसेफैलरहेसंक्रमणकोरोकाजासके।योजनाकेतहतनिषिद्धक्षेत्रमेंसक्रियमामलोंकीतलाशकरउनकेसंपर्कमेंआएलोगोंकापतालगायाजाएगाताकिसंक्रमणफैलनेकीवजहोंकाविश्लेषणकियाजासके।योजनाकेतहत,‘‘संदिग्धोंमरीजोंमेंसंक्रमणकापतालगानेकेलिएरैपिडएंटीजनजांचकीजाएगी।घटना(संक्रमण)कमानप्रणालीयाजिलास्तरपरजिलाधिकारीकेनेतृत्वमेंउनकेकार्यालयमेंनियंत्रणकक्षस्थापितकियाजाएगाऔरवरिष्ठजनस्वास्थ्यविशेषज्ञतकनीकीसहायतामुहैयाकराएंगेजोएमसीडी(डीएचओ)चिकित्सामहाविद्यालयकेडॉक्टरहोंगे।नियंत्रणकक्षस्थापितकरनेकेलिएसूचनाप्रौद्यागिकीऔरमानवबलभीमुहैयाकरायाजाएगा।’’भारतीयअयुर्विज्ञानअनुसंधानपरिषद(आईसीएमआर)केसख्तनिर्देशोंकेमुताबिकइससमयनिषिद्धक्षेत्रोंमेंलोगोंकीरैपिडएंटीजनजांचकीजारहीहै।टीमकीतैनातीरोजानामामलोंकीतलाशकरने,जांचकरनेऔरसंभावितसंक्रमितोंकोपृथकरखनेकेकाममेंसहयोगकेलिएहोगी।योजनाकेतहतपुलिसकीतैनातीनिषिद्धक्षेत्रमेंसामाजिकदूरीकेनियमकोलागूकरनेऔरलोगोंकेएकदूसरेसेमिलनेपररोकनेकेलिएकीजाएगी।पुलिसकर्मीयहसुनिश्चितकरेंगेकिनिषिद्धक्षेत्रोंसेआनेजानेपररोककाकड़ाईसेअनुपालनहो।मौजूदासमयमेंदिल्लीमें266निषिद्धक्षेत्रहैं।