• Home
  • दिल्ली कांग्रेस में 'घुटन' बढ़ी, 2 साल में 50 नेताओं ने छोड़ा साथ; सोनिया-राहुल पर उठ रहे सवाल

दिल्ली कांग्रेस में 'घुटन' बढ़ी, 2 साल में 50 नेताओं ने छोड़ा साथ; सोनिया-राहुल पर उठ रहे सवाल

नईदिल्ली[संजीवगुप्ता]।एक-एककरपुरानेनेताओंकेपार्टीकोअलविदाकहनेसेदेशकीराजधानीमेंकांग्रेसकाकुनबातोसिमटहीरहाहै,पार्टीकेनेतृत्वपरभीलगातारसवालउठरहेहैं।कांग्रेसियोंमेंराष्ट्रीयऔरप्रदेशनेतृत्वदोनोंकेप्रतिहीगहरीनाराजगीहै।आलमयहहैकिदोसालसेभीकमसमयमेंसांसद,पूर्वमंत्री,विधायक,पार्षदऔरजिलाअध्यक्षरहे50सेअधिकनेताहाथकासाथछोड़चुकेहैं।हैरतकीबातयहहैकिनगरनिगमचुनावतकपार्टीछोड़नेकीतैयारीकररहेनेताओंकीफेहरिस्तअबभीखासीलंबीहै।

वर्ष1998से2013तकलगातार15सालदिल्लीकीसत्तापरराजकरनेवालीकांग्रेससत्तासेबाहरहोतेहीकमजोरहोतीचलीगई।जयप्रकाशअग्रवालकेबादअरविंदरसिंहलवली,अजयमाकन,शीलादीक्षितऔरसुभाषचोपड़ाकेअध्यक्षीयकार्यकालमेंफिरभीप्रदेशकांग्रेसजैसेतैसेघिसटतीरही,लेकिनवर्ष2020केविधानसभाचुनावमेंकरारीशिकस्तकेबादमौजूदाप्रदेशअध्यक्षअनिलचौधरीकेनेतृत्वमेंनेताओंकेपार्टीछोड़नेकीरफ्तारथमनेकानामनहींलेरही।एकसप्ताहकेभीतरदोऔरबड़ेविकेटगिरगए।

पिछलेबुधवारकोशीलादीक्षितसरकारमेंमंत्रीऔरविधानसभाअध्यक्षरहेडा.योगानंदशास्त्रीनेराष्ट्रवादीकांग्रेसपार्टी(राकांपा)कीसदस्यतालेलीतोमंगलवारकोपूर्वसांसदकीर्तिआजादपत्नीपूनमआजादकेसाथतृणमूलकांग्रेसमेंचलेगए।दिल्लीमेंपार्टीकाजनाधारतोखत्महोहीरहाहै,आलाकमानभीशायदप्रदेशइकाईकोलेकरबहुतगंभीरनहींहैं।शायदइसीलिएकरीबपौनेदोसालपहलेवरिष्ठनेतावपूर्वसांसदमहाबलमिश्राकोपार्टीनिलंबितकरकेहीभूलगई।

कमोबेशसभीपूर्वप्रदेशअध्यक्षवपूर्वसांसदऔरपूर्वमंत्रीपार्टीसेदूरीबनाकरचलरहेहैं।दोजिलाध्यक्षमदनखोरवालऔरएआरजोशीप्रभारीकेसमक्षकामनहींकरनेकीइच्छाजताचुकेहैं।जिनसातजिलाध्यक्षोंकोहालहीमेंहटायागयाहै,वेभीपार्टीनेतृत्वकेखिलाफएकजुटहोरहेहैं।ब्लाकस्तरपरतोकांग्रेसकहींनजरहीनहींआती।खुदकोअपनेघरोंतकसीमितरखेहुएपार्टीकेबड़ेनेताओंकामाननाहैकिनतोकभीपार्टीछोड़नेवालोंकोरोकनेकाप्रयासकियाजाताहैऔरनहीसभीकोजोड़ेरखनेकीकोईकोशिशनजरआतीहै।ज्यादातरनेताओंकीशिकायतपार्टीमेंमान-सम्माननहींमिलनाहै।हालांकि,बहुतसेनेताओंनेप्रदेशप्रभारीशक्ति¨सहगोहिलऔरआलाकमानतकभीपार्टीकीमौजूदास्थितिऔरइसमेंसुधारकेलिएअपनीबातपहुंचाई,लेकिनकोईफायदानहींहुआ।

कांग्रेसछोड़नेवालेप्रमुखनेता

पूर्वसांसद:कीर्तिआजाद

पूर्वमंत्री:डा.योगानंदशास्त्री

पूर्वविधायक:प्रहलादसिंहसाहनी,शोएबइकबाल,रामसिंहनेताजी,अंजलिराय

मौजूदापार्षद:सुरेंद्रसेतिया,गुड्डीदेवी,सुल्तानाआबाद,आलेमोहम्मदइकबाल,अर्पियाचंदेला,गीतिकालूथरा,उषाशर्मा,तर्वनकुमार,नीतूचौधरी

पूर्वपार्षद:आनंदसिंह,कवितामल्होत्रा,सुभाषमल्होत्रा,अंजनापारचा,पंकजलूथरा,हेमचंदगोयल,अशोकभारद्वाज,इंदुवर्मा,राकेशजोशी,ममताजोशी,पृथ्वीसिंहराठौर,प्रवेशचौधरी,रेखाचौधरी,प्रदीपशर्मा,राजकुमारीढिल्लो,हर्षशर्मा,शशिबालासिंह,ज्योतिअग्रवाल,नैनाप्रेमवानी,भूमिरछोया,खुर्रमइकबाल,मीनाक्षीचंदेला,सुनीतासुभाषयादव,विमलादेवी,मायादेवी,रविकल्सी,मंजूसेतिया,बबलीनागर,एन.राजा,विकासटांक

कीर्तिआजाद(पूर्वसांसद)काकहनाहैकिकांग्रेसमेंअबघुटनवालामाहौलहोगयाहै।संगठनलगातारकमजोररहाहै,लेकिननेतृत्वकोकोईचिंतानहींहै।दिल्लीकांग्रेसतोइतनेगुटोंमेंबंटचुकीहैकिजबदेखोलोगएकदूसरेकीकाटकरनेमेंजुटेरहतेहैं।किसीकेप्रतिकोईसम्माननहींरहगयाहै।