• Home
  • डेयरी प्लांट योजना के लिए जमीन चिह्नित

डेयरी प्लांट योजना के लिए जमीन चिह्नित

साहिबगंज:जिलेमेंस्थापितहोनेवाले50लीटरक्षमतावालेडेयरीप्लांटकेलिएजमीनचिह्नितकरलियागयाहै।जमीनकेअभावमेंयोजनाकोधरातलपरउतारनेकोलेकरसंशयकीस्थितिबनीहुईथी,लेकिनक्षेत्रीयविधायकअनंतओझाकेप्रयाससेयोजनाकेलिएजमीनचिह्नितकरनेकाकामलगभगपूराकरलियागयाहै।विधायकनेबतायाकिइसकेलिएमहादेवगंजस्थितगोशालाकीलगभगपांचएकड़जमीनचिह्नितकीगईहै,जिसपरजल्दहीयोजनाक्रियान्वयनकाकार्यशुरूकियाजाएगा।इसकेलिएसरकारनेयोजनामदमें18करोड़रुपयेकाआवंटनभीउपलब्धकरादियाहै।

बीते6अप्रैलकोहीप्रधानमंत्रीकरचुकेहैंयोजनाकाशिलान्यासबीते6अप्रैलकोशहरकेपुलिसलाइनमैदानपरगंगापुलशिलान्यासकार्यक्रमकेदौरानदेशकेप्रधानंत्रीनरेंद्रमोदीनेगुरुवारकोसाहिबगंजमें34करोड़कीलागतकी50हजारलीटरक्षमतावालेडेयरीप्लांटकीऑनलाइनआधारशिलारखीथी।लेकिनजमीनकीअनुपलब्धताकेचलतेयोजनापरकार्यशुरूनहींहोसकाथा।हलांकिबीचमेंविभागीयस्तरपरइसकेलिएकृषिविज्ञानकेंद्रकेआसपासजमीनचिह्नितकरनेकाकामकियागयाथा,लेकिनविधायकअनंतओझाद्वाराइसमेंहामीनहींभरनेकेकारणयोजनाकोउसइलाकेमेंशुरूकरनेकाकामशुरूनहींकियागया।विधायककाकहनाथाकिडेयरीप्लांटकीस्थापनाऐसेस्थानपरहोजिसकेआसपासदुधकीउपलब्धताहो,साथहीकिसानवहांआसानीसेपहुंचसके।

योजनाकीमंजूरीमेंविधायककीभूमिकाअहम

साहिबगंजमेंडेयरीप्लांटकीमंजूरीक्षेत्रीयविधायकअनंतओझाकेप्रयासकापरिणामरहाहै।इसकेलिएविधायकपिछलेकाफीसमयसेझारखंडविधानसभाकेपटलपरइसकीआवाजउठातेरहेथे।इसकेआलोकमेंराज्यकेकृषि,पशुपालनवसहकारितामंत्रीरंधीर¨सहनेफरवरी2017मेंसाहिबगंजमेंडेयरीप्लांटलगवानेकीमंजूरीदीथी।विधायककीमानेंतोपहलेचरणमेंप्लांट50हजारलीटरकीक्षमताकाहोगाफिरइसकाविस्तारकरइसे1.5लाखलीटरक्षमतावालाबनायाजाएगा।वहींप्लांटकेसहयोगकेलिएइसकेआसपासकेइलाकेमेंचारकमक्षमतावालेमिनीडेयरीप्लांटभीस्थापितकिएजाएंगे,ताकिवहांआसपासकेइलाकोंसेकिसानोंसेदुधसंग्रहणवशीतलनकरउसेसाहिबगंजकेडेयरीप्लांटतकपहुंचायाजासके।

साहिबगंजमेंडेयरीप्लांटकास्थापितकरनेकाउद्देश्य

साहिबगंजमेंडेयरीप्लांटस्थापितकरनेकाउद्देश्यजिलेमेंदुग्धउत्पादकोंकोउत्पादनकासमर्थनमूल्यमिले,जिससेउनकीआर्थिकस्थितिमेंसुधारहोसके।वर्ष2004सेहीसाहिबगंजकोपूरेसंतालपरगनामेंदुग्धउत्पादनकाहबबनानेकाप्रयासचलरहाथा।

क्याकहतेहैंविधायक:

विधायकअनंतओझानेकहाकिडेयरीप्लांटस्थापितहोनेसेजिलेमेंदुग्धउत्पादकोंकोउत्पादनकासमर्थनमूल्यमिलसकेगा,जिससेउनकीआर्थिकस्थितिमेंअपेक्षितसुधारहोगा।उनकेद्वाराउत्पादितदूधकालाभकारीमूल्यमिलसकेगा।जिलेकीविकासमेंयोजनाकीअहमभूमिकाहोगी।