• Home
  • चना-मटर क्रय केंद्र खुलने में देरी पर होगा बड़ा घाटा

चना-मटर क्रय केंद्र खुलने में देरी पर होगा बड़ा घाटा

जागरणसंवाददाता,महोबा:जिलेमेंकिसानोंकोवैसेभीफायदालेनेकामौकाबहुतकमआताहै।इसबारमौसमकेसाथदेनेसेकिसानकेपासमटरकीपैदावारठीकठाकथी,लेकिनसरकारीखरीदकेंद्रनहींखुलनेसेचनाऔरमटरकीखरीदअभीतकखुलेबाजारमेंबिचौलिएहीकररहेहैं।जिसकाकिसानोंकोलंबानुकसानउठानापड़रहाहै।फिलहालखाद्यविपणनविभागभीचुप्पीसाधेहुएहै।

बुंदेलखंडकेकिसानोंकेपासमटर-चनाऔरमसूरआदिकीफसलेंठीकहोजातीहैं।इससमयकिसानोंकेपासमटर,चना-मसूरकीउपजतैयारहै।महोबाजिलेमेंइसबारमटरउपजकाआच्छादनलक्ष्य39550हेक्टेयरजमीनपरथा।पैदावारकोदेखकरआंकड़ेइससेबेहतरदिखरहेहैं।मसूरकाआच्छादनलक्ष्य34347हेक्टेयरथा।चनाकाआच्छादनलक्ष्य70919हेक्टेयरजमीनपरथा।मौजूदासमयमेंगेहूंकीफसलकेसाथकिसानोंकेपासमटर,चनाऔरमसूरआदिकीअधिकांशउपजतैयाररखीहै।लेकिनअभीतकगेहूंकोछोड़करअन्यकिसीउपजकेलिएसरकारीकेंद्रनहींखुलेहैं।वैसेचनाकासरकारीरेट5100रुपयेहै।इसकीबाजारमें4600केकरीबखरीदहोरहीहै।जबकिसानकेपासचनानहींथातोयहदर7500केकरीबथी।मटरकादामअभीतकतयनहींहै।मसूरकादाम5100है।खुलेबाजारमेंइससेकमपरखरीदीहोरहीहै।इससमयजौबाजारमेंभरपूरआरहाहै।खुलेबाजारमें12.80केकरीबहै।जबकिसरकारीदर1600है।इधरखाद्यविपणनविभागकीओरसेकोईसहीकदमनउठाएजानेसेखरीदकेंद्रखोलनेकोलेकरकोईउम्मीदनजरनहींआरहीहै।इसमेंजितनीदेरीहोरहीहैउसकानुकसानकिसानकोऔरफायदाबिचौलियोंकोहोगा।

चना-मटरखरीदकेलिएजिलेमेंअभीतकसरकारीखरीदकेंद्रखोलनेकेकोईआदेशनहींमिलेहैं,वैसेजिलेमेंमटरकीपैदावारठीकठाकहोतीहै।

-रामकृष्णपांडेय,जिलाखाद्यविपणनअधिकारी,महोबा