• Home
  • चौकीदार जिम्मेदार, प्रभारी लापरवाह

चौकीदार जिम्मेदार, प्रभारी लापरवाह

जागरणसंवाददाता,सोनभद्र:राब‌र्ट्सगंजस्थितखाद्यविभागकेराजकीयधानक्रयकेंद्रमेंसबकुछठीकनहींचलरहाहै।केंद्रप्रभारीमौकेपरमौजूदनहींथेऔरगोदामकाचौकीदारकिसानोंसेधानखरीदनेकीखरीदारीमेंतल्लीनमिला।यहांठहरनेवालेकिसानोंकेलिएभीकोईइंतजामनजरनहींआया।किसानरातकेअंधेरेमेंठंडकेबीचगोदामकेशेडकेनीचेरातबितानेकोमजबूरहैं।

राजकीयधानक्रयकेंद्रराब‌र्ट्सगंजमेंमंगलवारकोप्रात:साढ़े10बजेजागरणटीमपहुंची।उसवक्तधानबेचनेकेलिएचारकिसानपरिसरमेंमिले।एकट्रैक्टरगोदामकेमुख्यद्वारपरलगाथाऔरआधादर्जनसेअधिकपल्लेदारधानकीतौलकररहेथे।जागरणकीटीमकिसानोंसेवार्ताकररहीथीतभीएकव्यक्तिइसअंदाजमेंसामनेआयाजैसेवहक्रयकेंद्रकाप्रभारीहै।एककिसाननेकहाकियहीधानकीतौलकरारहेहैं।उक्तव्यक्तिसेकईसवालकेजवाबलेनेकेबादजानकारीभीलीगई।उसनेहरसवालकाजवाबबड़ेहीसंजीदगीसेदिया।अंतमेंजबउसकानामपूछागयातोपताचलाकिवहगोदामकाचौकीदारहै।उसनेअपनानामनागेंद्रकुमारसिंहगोदामचौकीदारबताया।नागेंद्रकाकहनाथाकिवहइसगोदामपरवर्ष2013सेचौकीदारकेपदपरतैनातहैलेकिन,क्रयकरनेकासाराकार्यवपत्रावलीवहहीदेखताहै।जबकिइसकेंद्रपरविपणननिरीक्षकवविपणनसहायकअधिकारीभीतैनातहैलेकिन,कार्यगोदामचौकीदारअंजामदेरहाहै।

ठंडसेबचावकेनहींउपाय:

किसानोंकोधानबेचनेकेलिएचारसेपांचदिनतकलगजारहेहैं।गोदामकीचहारदीवारीनहोनेसेधानलदेट्रैक्टरबाहरहीपार्कहोतेहैं।धानकीसुरक्षाकेउपायनहोनेसेकिसानदिनवरातधानवअपनेवाहनकीसुरक्षाकरनेकोमजबूरहै।हालतयहहैकिठंडसेबचावकेलिएनतोटेंटलगायागयाहैऔरनहीबिजलीवपानीकीहीइंतजामहै।गोदामकेशेडकेनीचेएकचौकीजरूररखदीगईहै।जिसकीवजहसेकिसानोंकोकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़ताहै।बिकजाएधानतोमिलजाएशांतिट्रैक्टर-ट्रॉलीसेधानलेकरक्रयकेंद्रपर29नवंबरकोहीआगए।उन्हें144कुंतलधानबेचनाहैलेकिन,एकदिनमेंमहज35कुंतलधानकीखरीदकीजारहीहै।पांचदिनसेक्रयकेंद्रपरदिनवरातठहरेइसकिसानकेधानकीखरीदअभीपूरीनहींहोसकीहै।

-गणेशसिंहमौर्या,अमौली,राब‌र्ट्सगंज।

मैं28नवंबरसेधानलेकरक्रयकेंद्रपरमौजूदहूं।मुझेदोसौकुंतलधानबेचनाहैलेकिन,पूराधानकबतकतौलहोगायहभविष्यकेगर्भमेंहै।यहांरुकनेकीव्यवस्थानहींकीगईहै।ठंडमेंशेडकेनीचेजैसे-तैसेएक-एकरातकाटाजारहाहै।धानबेचनाकिसीजंगसेकमनहीं।

-मुन्नीलालमौर्या,लसड़ा,राब‌र्ट्सगंज।मंगलवारकीसुबहधानलेकरक्रयकेंद्रपहुंचाहूं।80कुंतलधानबेचनाहै।आनलाइनपंजीयनतोकरारखाहूंलेकिन,धानखरीदकीचालसुस्तहै।मेराधानकबतकखरीदहोगा,यहतोभविष्यकेगर्भमेंहै।

-विश्वनाथयादव,वार,राब‌र्ट्सगंज।

धानलेकरक्रयकेंद्रपरआएआजमंगलवारकोतीसरादिनहोगयाहैलेकिन,अभीतकउनकेधानकीखरीदशुरूनहींहुईहै।यहांपानीवबिजलीकाकोईइंतजामनहींहै।यदिधानकीसुरक्षाकेठोसउपायहोतेतोवेबेफिक्रहोकरघरचलेजातेलेकिन,यहांधानकीकोईसुरक्षालेनेवालाहीनहींहै।

-नीरज,बिजौली,राब‌र्ट्सगंज।बोलेअधिकारी..किसानोंकेरुकनेकेलिएएककमराभीहै।इसमेंकिसानचाहेतोरुकसकताहै।इसकेअलावापानीवबिजलीकाइंतजामभीदुरुस्तहै।मैंमंगलवारकीसुबहकुछकार्यकेचलतेगोदामकेबगलमेंस्थितकार्यालयमेंमौजूदहूं।

-बृजेशप्रतापसिंह,विपणननिरीक्षक।