• Home
  • बंद शीतक दुग्ध संग्रहण केंद्र चालू करवाने का होगा प्रयास

बंद शीतक दुग्ध संग्रहण केंद्र चालू करवाने का होगा प्रयास

जामताड़ा:नौवर्षोसेनालामेंठपशीतकदुग्धसंग्रहणकेंद्रचालूकरवानेकाचौतरफाप्रयासहोगा।केंद्रचालूहोजानेकीस्थितिमेंलॉकडाउनवइसमंदीमेंइलाकेमेंरोजगारकोबढ़ावामिलेगातोघर-घरउचितदामपरदूधमिलेनकारास्ताभीसाफहोगा।करोड़ोंरुपयेसरकारीखर्चसेनिर्मितकेंद्रभवनजर्जरहोरहाहै।केंद्रमेंस्थापितउपकरणधूलफांकरहाहै।जबकिनौवर्षोमेंकभीइसपरध्याननहींदियागया।अबयदिकेंद्रमौजूदाशासन-प्रशासनकीपहलपरचालूहुआतोनालाकेसैकड़ोंगांवोंकेपशुपालकोंकादूधघर-घरसेहीक्रयकरलियाजाएगा।बड़ीसंख्यामेंकेंद्रकेजरिएकुशलवअकुशलमजदूरोंकोकामभीमिलनेलगेगा।ऐसेमेंजिलेकेजनप्रतिनिधियोंनेकेंद्रकोचालूकरवानेकाभरोसाएकबारफिरजतायाहै।

तत्कालीनभाजपासरकारकेकार्यकालमेंशीतकदूधसंग्रहणकेंद्रस्थापितकियागयाथा।योजनास्थलकिसीभीदृष्टिकोणसेउपयुक्तनहींथा।हालांकिजबसरकारकीमोटीरकमखर्चहोचुकीहैतोजनहितकोध्यानमेंरखतेहुएकेंद्रचालूकरनेकीमांगमुख्यमंत्रीहेमंतसोरेनतथाविधानसभाअध्यक्षसहनालाविधायकरवींद्रनाथमहतोसेकियाजाएगा।ताकिउक्तक्षेत्रकेलोगोंकोदैनिकमजदूरीकाकामस्थानीयक्षेत्रमेंमिलसके।यहभीप्रयासकियाजारहाहैकिजामताड़ा,नारायणपुरसमेतअन्यप्रखंडमेंभीडेयरीकेंद्रकासंचालनशुरूहो।

डॉ.इरफानअंसारी,जामताड़ाविधायक।

---दुग्धसंग्रहणकेंद्रनिर्माणकेबहानेभाजपासरकारनेसरकारकीमोटारकमकादुरुपयोगकियाहै।अगरतत्कालीनभाजपासरकारकीमंशासाफहोतीतोनिर्माणकार्यपूर्णहोतेहीकेंद्रमेंदुग्धसंग्रहणकार्यशुरूहोजाता।वर्तमानसमयमेंमहागठबंधनकीसरकारहै।स्थानीयविधायकसहविधानसभाअध्यक्षरवींद्रनाथमहतोकाचुनावक्षेत्रहै।जनहितकोध्यानमेंरखतेहुएइसेचालूकरनेकाप्रयासशुरूकियागयाहै।सबठीकरहातोएकदोमहीनेमेंकेंद्रसुचारूरूपसेचालूहोजाएगा।

जनार्दनभंडारी,विधायकप्रतिनिधिनाला।

---जिलेमेंउद्योगधंधोंकीकमीहै।जबकिमजदूरोंकीसंख्यादिनप्रतिदिनबढ़तीजारहीहै।ऐसीविषमपरिस्थितिमेंनालाकेपातुलियामें9वर्षपूर्वस्थापितदूधसंग्रहणकेंद्रअबचालूहोनाजरूरीहै।केंद्रचलनेसेहजारोंपशुपालकोंतथामजदूरोंकारोजगारसृजनहोगा।केंद्रचालूकरानेकोलेकरतत्कालीनभाजपासरकारकेकार्यकालमेंभीप्रयासकियागयाथा।लेकिनसफलतानहींमिली।पुन:मुख्यमंत्रीहेमंतसोरेनसेमिलकरदुग्धसंग्रहणकेंद्रकोचालूकरानेकाअनुरोधकियाजाएगा।ताकिसरकारीराशिजोखर्चहुईहैउसकासदुपयोगकररोजगारकासृजनहोसके।दीपिकाबेसरा,जिपअध्यक्षजामताड़ा।

----नालाप्रखंडकेपशुपालकोंकोदूधकाउचितदाममुहैयाकरानेवमजदूरोंकोरोजगारउपलब्धकरानेकेलिएकृषिपशुपालनमंत्रीके28माहकेकार्यकालमेंशीतकदुग्धसंग्रहणकेंद्रस्थापितकरवायागयाथा।इसकेबादनेतृत्वकामौकानहींमिला।वर्तमानविधायककीसरकारहै।उन्हेंजनहितकोध्यानमेंरखतेहुएस्थापितकेंद्रकोचालूकरानेकाप्रयासकरनाचाहिएथालेकिनअबतकनहींहुआ।पिछलेछहवर्षमेंकभीभीविधानसभामेंकेंद्रचालूहोनेकामामलानहींउठायागयाहै।जोक्षेत्रकेलिएदुर्भाग्यहै।

सत्यानंदझाउर्फबाटूल,पूर्वनालाविधायकसहकृषिमंत्री।