• Home
  • बारिश के बाद बरस रहे आंखों से आंसू

बारिश के बाद बरस रहे आंखों से आंसू

मैनपुरी:दोदिनहुईबारिशकेबादअबकिसानोंकीआंखेंभीबरसरहीहैं।सोमवारकोबारिशकेबादमंगलवारकोधूपखिलीतोकिसानोंमेंफिरउम्मीदजगी।पूरादिनखेतोंमेंबिछीफसलकोसहीकरनेमेंहीबीतगया।तैयारखड़ीसरसोंकीफसलमेंफूलझड़गए,इससेउत्पादनप्रभावितहोनेकाडरकिसानोंकोसतारहाहै।बारिशकेसाथकुछक्षेत्रोंमेंहुईओलावृष्टिकीवजहसेखेतोंमेंसरसोंऔरआलूकीफसलकोसर्वाधिकनुकसानहुआहै।दोदिनोंतकबिगड़ामौसमकामिजाजमंगलवारकोफिरबदलगया।सुबहसेहीआसमानसाफरहा,तोदिनभरधूपभीखिलीरही।हालांकिदोपहरबादहल्कीबदलीछाईलेकिनबादमेंफिरसेराहतमहसूसहुई।बारिश,आंधीऔरओलावृष्टिसेबचीफसलोंकोसुरक्षितकरनेकेलिएनएसिरेसेकवायदशुरूहोगई।खेतोंमेंपानीभरजानेसेआलूकीफसलपरसंकटकेबादलमंडरारहेहैं।भरेपानीकोकिसानोंनेपंपसेटडालकरबाहरकिया।पानीभरजानेसेआलूसड़नेकीआशंकाहै।

बिछवांकेकिसानरामभरोसेशाक्यबतातेहैंकिदोसालपहलेभीफरवरीमेंहुईबारिशऔरओलावृष्टिनेफसलेंतबाहकरदीथीं।अबफिरसेबारिशआफतबनगईहै।अबऔरबारिशहुईतोफसलपूरीतरहबर्बादहोजाएगी।मंगलवारकोदिनभररामभरोसेखेतोंमेंबिछीसरसोंकीफसलकोव्यवस्थितकरतेरहे।

कृषिवैज्ञानिकडॉ.विकासरंजनचौधरीकाकहनाहैकिनुकसानतोहुआहैलेकिनकिसानअभीभीसंभलसकतेहैं।बारिशकेकारणखेतोंमेंपानीभरचुकाहै।ऐसेमेंजिनखेतोंमेंआलूहैं,वहांखेतोंमेंनमीसूखनेकाइंतजारकरनाहीहोगा।नमीसूखनेकेबादहीखोदाईकरें।लेकिन,जिनकेआलूखेतोंमेंखोदाईकेबादभीगचुकेहैं।उनकीनमीखत्मकरनेकेलिएजरूरीहैकिछांववालीजगहपरनमीसेदूरउन्हेंसुखायाजाए।इससेआलूसड़नेसेबचजाएंगे।

सरसोंउत्पादकोंकोथोड़ामुश्किलोंकासामनाकरनापड़सकताहै।हवाचलनेकेकारणसरसोंखेतोंमेंगिरगईहै,बारिशकीवजहसेफलियांभीगचुकीहैं।अबदोबारासरसोंकेउसीस्थितिमेंआनेकीउम्मीदतोकमहै।लेकिनयदिबालियांफटीनहींहैं,तोदानोंकोभीनुकसाननहींहोगा।लेकिन,जिनकिसानोंनेदेरसेसरसोंकीफसलबोईथी,उनकेफूलझड़नेसेअबफसलप्रभावितहोजाएगी।ऐसेकिसानोंकोभीधूपमेंफसलकेसूखनेकाइंतजारकरनाहीहोगा।