• Home
  • अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान,कैसे मिले लाभ

अधिकारी नहीं दे रहे ध्यान,कैसे मिले लाभ

देवरिया:जनपदमेंजनऔषधिकेंद्रजिसरूपमेंकार्यकरनाचाहिएउसरूपमेंनहींकररहेहैं।कहींदवाओंकीकमीहैतोकहींचिकित्सकदवाएंलिखनेमेंरूचिनहींलेरहेहैं।प्रशासनिकअधिकारीभीध्याननहींदेरहेहैं,जिससेजनऔषधिकेंद्रठीकढंगसेकार्यनहींकररहेहैं।ऐसेमेंजनपदमेंजनऔषधिकेन्द्रोंकापूरालाभआर्थिकरूपसेकमजोरमरीजोंकोनहींमिलरहाहै।दवाओंकीबिक्रीनहींहोनेसेजनऔषधिकेन्द्रोंकेसंचालकभीपरेशानहैं।

विश्वासकासंकट,नहींबिकरहीदवा

गरीबवआर्थिकरूपसेकमजोरलोगोंकोसस्तीदवाउपलब्धकरानेकेलिएकेंद्रसरकारकीइसमहत्वाकांक्षीयोजनाकापूर्णतयालाभमरीजोंकोनहींमिलरहाहै।गरीबोंकाविश्वासजीतनेमेंयेजनऔषधिकेंद्रसफलनहींहोपारहेहैं।जिलाऔरमहिलाअस्पतालकेजनऔषधिकेंद्रकेसंचालकोंनेबतायादवाओंकीकमीहैलेकिनजोदवाहमारेपासहैवहभीबिकनहींरहीहै।

प्रशासनिकअधिकारीनहींदेतेध्यान

स्वास्थ्यविभागकेअधिकारियोंकेअलावाप्रशासनिकअधिकारीभीइसतरफध्याननहींदेते।सिर्फउद्घाटनकेसमयअधिकारीमौजूदरहे।उसकेअलावाकभीभीइनजनऔषधिकेन्द्रोंकोदेखनेकीजहमतअधिकारीनहींउठाए।जिससेसमस्याजसकीतसहै।जनऔषधिकेंद्रोंकेसीमितग्राहकहैं।केंद्रसरकारकीअतिमहत्वाकांक्षीयोजनाकेतहतजनऔषधिकेंद्रोंकोस्थापितकियागयाहै।आर्थिकरूपसेकमजोरलोगोंकोसस्तीदवायहांउपलब्धहोरहीहै।जिलामहिलावपुरुषअस्तपालकेसीएमएसकोसमय-समयपरकेंद्रोंकोदेखनेकेलिएनिर्देशदियागयाहै।