• Home
  • आधी आबादी के लिए यहां नहीं है इलाज की सुविधा

आधी आबादी के लिए यहां नहीं है इलाज की सुविधा

सिद्धार्थनगर:सरकारस्वास्थ्यकीदिशामेंगंभीरहै।सरकारीअस्पतालोंकीव्यवस्थासुधारनेकीदिशामेंकदमउठाएजारहेहैं,मगरइटवाक्षेत्रमेंआधीआबादीकेलिएइलाजकीसुविधानहींहै।सामान्यबीमारीहोनेपरभीइलाजकेलिएबस्तीअथवाजिलामुख्यालयपरजानापड़ताहै।सीएचसीमेंपहलेएकमहिलाचिकित्सककीतैनातीथीलेकिनडेढ़सालपहलेस्थानांतरणकेबादकिसीदूसरेडाक्टरकीतैनातीनहींहुई।

क्षेत्रके10प्रसवकेंद्रसेअधिकअस्तित्वविहीनहोचुकेहैं।सातसेअधिकभवनजबसेबनेतबसेआजतकतालेकीजकड़मेंहैं।ग्रामपंचायतविशुनपुरमेंकरीबबीसवर्षपूर्वबनाप्रसवकेंद्रखंडहरमेंतब्दीलहोचुकाहै।यहीहालग्रामपंचायतमहुआमेंबनेप्रसवकेंद्रकाहै।जिम्मेदारोंकीउदासीनताकेचलतेयहभवनविभागकोबिनाहैंडओवरहुएहीजर्जरहोचुकाहै।ग्रामपंचायतकलनाखोरमेंवर्ष2008मेंचारलाखकीलागतसेबनाप्रसवकेंद्रतालाबंदीकाशिकारहै।एएनएमगांवमेंएकव्यक्तिकेघरपरबैठकरटीकाकरणकरतीहैं।

यहांजर्जरहैप्रसवकेंद्र-

क्षेत्रकेविशुनपुर,महुआ,बनकेगांव,ऐकडेंगवामेंबनेप्रसवकेंद्रजर्जरहोचुकेहैं।जनकाखतरामहसूसहोनेसेगर्भवतीकेस्वजनप्रसवकेलिएउन्हेंबांसीपीएचसीयाफिरखेसरहासीएचसीपरलेकरजातेहैं।झुड़ियाकेविजयप्रकाशनेकहाकिप्रसवकेंद्रजर्जरहोचुकाहैइसकेमरम्मतकेलिएकईबारशिकायतकरनेकेबादभीविभागनेअबतकइसपरध्याननहींदिया।कलनाखोरशैलेंद्रनेबतायाकिजर्जरहोनेसेप्रसवकेंद्रपरतालालगारहताहै।एएनएमगांवकेहीएकव्यक्तिकेघरपरबैठकरटीकाकरणकरतीहै।

महुआकेदिलीपनेबतायाकिकरीबदसवर्षपूर्वबनेंइसकेंद्रकीखिड़की,दरवाजेगायबहोगएहैं।आजतकविभागसेकोईझांकनेतकनहींआया।

निहिठाकेनित्यानंदउपाध्यायनेकहाकिक्षेत्रकेप्रसवकेंद्रहाथीदांतसाबितहोरहेंहैं।प्रसवकेलिएलोगोंकोयातोबांसीयाफिरखेसरहासीएचसीजानापड़ताहै।

सीएचसीखेसरहाकेअधीक्षकडा.एसकेभारतीनेकहाकिजोभीकमियांहैंउन्हेंदूरकरनेकाप्रयासकियाजाएगाजहांतककलनाखोरमेंकेंद्रपरतालाबंदीकीबातहैतोउसकीजांचकरासंबंधितकेखिलाफकार्रवाईकीजाएगी।